मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मन की बात कार्यक्रम को सुना।#मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कैंसर की रोकथाम हेतु कैनएप्प को लॉन्च किया ।पढिए Janswar.Com में

समाचार प्रस्तुति-अरुणाभ रतूड़ी

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मन की बात कार्यक्रम को सुना।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मन की बात कार्यक्रम को सुना। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की अपील के अनुसार त्योहारों के समय कोरोना का ध्यान रखते हुए मर्यादा का पालन करना है। प्रधानमंत्री जी ने त्योहारों में कोरोना काल में पूरे मनोयोग से लगे कोरोना योद्धाओं एवं सफाई नायकों को खुशियों के पर्वों को मनाने के लिए अपने साथ शामिल करने की अपील की है। उन्होंने मन की बात में सीमा पर तैनात सैनिकों को भी याद किया। हम सभी भारत माता के इन सपूतों के सम्मान में भी घर में एक दीपक जरूर जलाएं। हमारे जवान राष्ट्र की सुरक्षा के लिए सीमाओं पर पूरे साल 24 घंटे ड्यूटी करते हैं। कहा जाता है कि राजा को शास्त्रों एवं राज्य की रक्षा के लिए शस्त्रों की जरूरत होती है।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने अपील की है कि वोकल फॉर लोकल को बढावा देने के लिए बाजार से सामान खरीदते समय स्थानीय उत्पादों को प्राथमिकता देनी है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था एवं आत्मनिर्भरता के लिए स्थानीय उत्पादों की दिशा में अधिक ध्यान देना होगा। देश ही नहीं अपितु विदेशों में भी खादी की लोकप्रियता तेजी से बढ़ी है। मार्शल आर्ट और नये इनोवेशन की ओर भी ध्यान देना होगा। सरदार वल्लभ भाई पटेल जी की जन्म जयंती, 31 अक्टूबर को ‘‘राष्ट्रीय एकता दिवस’’ मनाया जाएगा। सरदार पटेल जी ने अपना पूरा जीवन देश की एकजुटता के लिए समर्पित किया। प्रधानमंत्री जी ने ekbharat.gov.in वेबसाइट का जिक्र किया। इस साइट पर जरूर जाएं। यह राष्ट्रीय एकीकरण के अभियान को आगे बढ़ाएगा।

——————————————————————-

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कैंसर की रोकथाम हेतु कैनएप्प को लॉन्च किया

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री आवास में कैंसर की रोकथाम हेतु कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन द्वारा निर्मित कैनएप्प को लॉन्च किया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि यह एप कैंसर के प्रति जागरूकता के लिए कारगर साबित हो सकता है। इसे राज्य की स्थानीय बोलियों में भी बनाया जाय।
कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन की अध्यक्षा डॉ. सुमिता प्रभाकर ने कहा कि इस एप में स्तन कैंसर का जल्दी पता लगाने के लिए चार बाधाओं को दूर करने में कारगर होगा। जागरूकता की कमी, पर्याप्त जानकारी की कमी, कैंसर की रोकथाम के लिए उपकरणों की कमी और रिकॉर्ड न होने के कारण स्तन कैंसर तेजी से बढ़ रहा है। कैनएप स्तन कैंसर का जल्द पता लगाने के लिए कारगर होगा। यह एप स्तन कैंसर के लक्षणों, जोखिम कारकों, शुरूआती जांच के तरीकों के बारे में नवीनतम जानकारी प्रदान करता है। इसमें डॉक्टर की विजिट का रिमाइंडर, आगामी परीक्षण के रिमांडर की सुविधा उपलब्ध है। परीक्षण के दौरान पाये जाने वाले किसी भी असामान्य लक्षण का रिकॉर्ड एप में बनाया जा सकता है, जो पूरी तरह ग्राफिकल है। यह एप गढ़वाली, हिन्दी, अंग्रेजी और अवधी भाषा में बनाया गया है।
इस अवसर पर शिक्षा मंत्री श्री अरविंद पाण्डेय, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता श्री विनय गोयल, कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन के सचिव श्री प्रवीण डंग, श्री मधुकांत कौशिक, श्री परम दत्ता, श्री ललित आनंद एवं श्री समीर दत्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.