मुख्यमंत्री ने हिमाद्रि एम्पोरियम का किया उद्घाटन किया।पढिए Janswar.com में।

-अरुणाभ रतूड़ी

दिल्ली स्थित उत्त्तराखण्ड सदन में उत्तराखंड हथकरघा एवं हस्तशिल्प विकास परिषद के हिमाद्रि एम्पोरियम का उद्घाटन।

रविवार नई दिल्ली स्थित उत्त्तराखण्ड सदन में नवस्थापित “हिमाद्रि एम्पोरियम” का उद्घाटन मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा किया गया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि एम्पोरियम का उद्देश्य उत्तराखंड के हथकरघा एवं हस्तशिल्प उत्पादों का विकास, विपणन एवं विक्रय है। इस एम्पोरियम की स्थापना से सदन में आने वाले अतिथि एवं आगंतुक उत्त्तराखण्ड के विभिन्न उत्पादों से परिचित हो सकेंगे। आत्मनिर्भर भारत के लिए शिल्पकारों और बुनकरों को प्रोत्साहित करना जरूरी है। हमारी पूरी कोशिश है कि उत्तराखंड के हथकरघा एवं हस्तशिल्प उत्पादों को अच्छी कीमत और मार्केट मिल सके। ऑनलाइन मार्केटिंग पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
उद्योग विभाग के अंतर्गत उत्तराखंड हथकरघा एवं हस्तशिल्प विकास परिषद राज्य के शिल्प उत्पादों के विकास, संरक्षण एवं संवर्धन के क्षेत्र में कार्य करती है। परिषद द्वारा राज्य के बुनकरों व शिल्पियों के कौशल एवं उनके उत्पादों के डिजाइन, गुणवत्ता एवं बाजार की मांग के अनुरूप विकास हेतु विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों, प्रदर्शनियों, मेलों, कार्यशालाओं आदि के आयोजन व प्रतिभाग द्वारा प्रयास किए जाते रहे हैं।
परिषद द्वारा राज्य के उत्कृष्ट शिल्प उत्पादों का हिमाद्रि ब्रांड के अंतर्गत इस हेतु स्थापित विभिन्न एंपोरियमों के माध्यम से विपणन किया जा रहा है। इसी क्रम में नई दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में राष्ट्रीय स्तर पर उत्तराखंड के शिल्प उत्पादों के प्रदर्शन एवं विपणन हेतु हिमाद्रि एंपोरियम स्थापित किया गया है। उल्लेखनीय है कि इसके साथ-साथ उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में पटेल नगर स्थित जिला उद्योग केंद्र परिसर में भी इसी वर्ष नए हिमाद्री एंपोरियम का शुभारंभ किया जाएगा। जनपद देहरादून स्थित दून हाट, जनपद पिथौरागढ़ के बिण, जनपद चमोली के भीमतल्ला एवं जनपद उधम सिंह नगर के काशीपुर स्थित रूरल हाटों के माध्यम से भी राज्य के हथकरघा एवं हस्तशिल्प एवं लघु उद्यम उत्पादों के विपणन एवं प्रदर्शन हेतु स्थापित किये जा रहे है जिससे कि विभिन्न प्रांतों से उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों एवं आगंतुकों को राज्य के उत्पादों से परिचित होने का अवसर प्राप्त हो सके। कोविड-19 में उत्पन्न परिस्थितियों के दृष्टिगत परिषद द्वारा अमेजन के माध्यम से राज्य के बुनकरों तथा शिल्पियों के उत्पादों का ऑनलाइन विपणन का कार्य भी काफी समय से सफलतापूर्वक किया जा रहा है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के सलाहकार डॉ राकेश कुमार, डॉ पराग मधुकर धकाते, विशेष सचिव मा0 मुख्यमंत्री, डॉ0 मेहरबान सिंह बिष्ट अपर सचिव मा0 मुख्यमंत्री, श्रीमती ईला गिरी, अपर स्थानिक आयुक्त, श्री सुधीर चन्द्र नौटियाल, निदेशक उद्योग, श्री रंजन मिश्रा वरिष्ठ व्यवस्था अधिकारी, श्री के0सी0 चमोली नोडल अधिकारी उद्योग सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


Dehradun,

Date : 21 February, 2021

                Sanjivini is an NGO run by Uttarakhand civil services wives Association (U.C.S.W.A). Dedicated to women and girl empowerment this organisation is working towards making them self reliant since 2001. On the able guidance and patronage of  chairperson Mrs. Deepa omprakash, Sanjeevani organised a two-day Sanjivini fest 2021 in a big way. The  Governor Inaugurated this fest. Second day of this fest was blessed by the CM.  Sanjivini has become instrumental in connecting rural-products to urban markets. It has provided a hassle- free good platform to arts and crafts, handicrafts, native foods, rural farm produces helpful to rural economy especially in this Corona time.

            This fest was successfully organized  with the notable contribution of Mrs. Deepa Omprakash, Mrs. Alaknanda Ashok, Mrs. Roshni  Bardhan, Mrs. Anjali Sinha, Mrs. Anuradha Sudhansu, Mrs. Akanksha Sinha, Mrs. Ansu Pandey, Mrs. Sharmila Bhartari, Mrs. RupaliJyoti, Mrs. Mudita Sant, Mrs. Gunjan Yadav , Mrs.  Lata Rawat, Mrs. Nirmala Semwal,  Mrs. Urmila Pandey, Mrs. Shalini Shah, Mrs. Dipali Singh and Mrs. Shikha Pandey.

Leave a Reply

Your email address will not be published.