प्रथम चरण में 50 हजार हेल्थ वर्कर्स को कोविड-19 की वैक्सीन लगाई जानी है:मुख्यमंत्री#मुख्यमंत्री ने भारत मौसम विज्ञान विभाग के 146वें स्थापना दिवस समारोह में वर्चुअली प्रतिभाग किया।#सहायक अध्यापक कला व प्रवक्ता कला सेवा नियमावली संशोधन को मुख्यमंत्री की स्वीकृति।बीएड् की जरूरत नहीं होगी।#पाटीसैण-थापली मोटरमार्ग पर बौंसाली बैंड वाहन दुर्घटना की मजिस्ट्रेटी जाँच शुरू#17 जनवरी को आयोजित राष्ट्रीय पल्सपोलियो कार्यक्रम स्थगित-सीएमओ पौड़ी# एम्स में कोविड टीकाकरण सेंटर का उद्घाटन कल।पढिए Janswar.Com में।

द्वारा-अरुणाभ रतूड़ी

प्रथम चरण में 50 हजार हेल्थ वर्कर्स को कोविड-19 की वैक्सीन लगाई जानी है:मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा है कि 16 जनवरी, 2021 से प्रदेश में वैक्सीनेशन का पहले चरण के लिये पूरी तैयारी कर ली गयी है।  मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन सहित वैक्सीनेशन निर्माण में लगे वैज्ञानिकों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड कोविड-19 के चरणबद्ध टीकाकरण अभियान के लिये पूर्ण रूप से तैयार है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है, इस पर किसी भी प्रकार का भ्रम नहीं रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र की ओर से प्रदेश को पहली खेप के रूप में 01 लाख 13 हजार वैक्सीन दी गई हैं। प्रथम चरण में 50 हजार हेल्थ वर्कर्स को कोविड-19 की यह वैक्सीन लगाई जानी है। मुख्यमंत्री प्रदेशवासियों से इस वैश्विक महामारी के खिलाफ अभियान में सहयोग की अपेक्षा की है। केन्द्र एवं राज्य सरकार के निरन्तर प्रयासों के उपरान्त 16 जनवरी 2021 को प्रातः 10.30 बजे सम्पूर्ण देश में कोविड-19 वैक्सीन से टीकाकरण का शुभारम्भ मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा किया जा रहा है। मुख्यमंत्री दून अस्पताल से वर्चुअली इस कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगे। शुभारम्भ के साथ ही उत्तराखण्ड में भी कोविड-19 वैक्सीन लगाए जाने का कार्य आरम्भ कर दिया जायेगा।
कोविड-19 वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी देते हुए राज्य नोडल अधिकारी एवं मिशन निदेशक एन०एच०एम० श्रीमती सोनिका ने बताया कि कल 16 जनवरी 2021 को राज्य के समस्त जनपदों के 13 चिकित्सालयों पर कोविड-19 वैक्सीनेशन टीकाकरण किया जायेगा। श्रीमती सोनिका के अनुसार जनपद देहरादून में 5, हरिद्वार तथा उधमसिंहनगर में 4, नैनीताल में 3 तथा अन्य जनपदों में 02-02 स्थानों पर टीकाकरण सत्र आयोजित किए जायेंगे। टीकाकरण हेतु चिन्हित 34 स्थानों में 32 सरकारी चिकित्सा संस्थान हैं जिसमें एम्स ऋषिकेश तथा ऋषिकुल आयुर्वेदिक यूनिवर्सिटी भी सम्मिलित हैं जबकि 2 निजी चिकित्सा संस्थान (हिमालयन मेडिकल कॉलेज एवं गुरु रामराय मेडिकल कॉलेज) में टीकाकरण होगा।
मिशन निदेशक श्रीमती सोनिका ने कहा कि टीकाकरण के राष्ट्रीय स्तर पर शुभारम्भ के दौरान प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फेन्स के माध्यम से क्रमशः दून मेडिकल कॉलेज तथा हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज से भी जुडेंगे और टीकाकरण की गतिविधि को देखेंगे इस अवधि में प्रधानमंत्री वहाँ पर उपस्थित वैक्सीनेशन कार्य में लगे हुए स्वास्थ्य अधिकारियों से वार्ता भी करेंगे। टीकाकरण के शुभारम्भ अवसर पर सभी 34 स्वास्थ्य ईकाईयो पर 100 लाभार्थियों को वैक्सीन दी जायेगी। इस प्रकार वैक्सीनेशन के पहले दिन लगभग 3400 हैल्थ केयर वर्कर्स का टीकाकरण किया जायेगा।

राज्य में कोविड-19 वैक्सीन टीकाकरण के बारे में स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ0 अमिता उप्रेती ने बताया कि सभी जनपदों में वैक्सीन सुरक्षित पहुंच चुकी है तथा कल प्रातः वैक्सीन सभी टीकाकरण सत्रों में निर्धारित कोल्ड चेन प्रणाली के अन्तर्गत उपलब्ध रहेगी। महानिदेशक डॉ0 उप्रेती के अनुसार सभी जनपदों को निर्देश दिए गए हैं कि वह टीकाकरण के दौरान भारत सरकार की गाईड लाईन का सख्ती से अनुपालन करते हुए टीकाकरण के कार्य को पूर्ण करेंगे और सभी टीकाकरण स्थलों पर  Covid Appropriate behaviour  के मानकों का पालन सुनिश्चित करायेंगे। महानिदेशक ने कहा कि सभी जनपदों को निर्देश दिए गए हैं कि वह आपूर्तित वैक्सीन के प्रथम खुराक को देने के दौरान इस बात को भी सुनिश्चित करेंगे कि उन्हें 50 प्रतिशत वैक्सीन दूसरी खुराक के लिए सुरक्षित रखनी है।

मुख्यमंत्री ने भारत मैसम विज्ञान विभाग के 146वें स्थापना दिवस समारोह में वर्चुअली प्रतिभाग किया।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास में भारत मौसम विज्ञान विभाग के 146वें स्थापना दिवस समारोह में वर्चुअली प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर मुक्तेश्वर (नैनीताल) में  डॉप्लर वैदर रडार स्टेशन का वर्चुअली उद्घाटन किया।
       केंद्रीय मौसम विज्ञान मंत्री डॉ.हर्षवर्धन का आभार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने भारत मौसम विज्ञान विभाग के146 वें स्थापना दिवस एवं डॉप्लर मौसम रडार मुक्तेश्वर के उद्घाटन की हार्दिक बधाई दी।
       मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार, प्रदेश में लगने वाले 03 डॉप्लर मौसम रडारों की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। राज्य सरकार ने मुक्तेश्वर में रडार स्थापना हेतु भूमि, मूल-भूत सुविधाएँ जैसे सड़क, बिजली, पानी उपलब्ध कराने एवं जगह को विकसित करने में पूर्ण सहयोग दिया है। दूसरे रडार की स्थापना हेतु भी राज्य सरकार ने सुरकंडा में भूमि आवंटित एवं विकसित की है तथा बिजली इत्यादि की भी व्यवस्था कर दी गई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार रडार के उपकरणों को सड़क के अभाव के चलते सुरकंडा पहुँचाने  हेतु एयर लिफ्ट के लिए भी सहयोग देगी। भविष्य में सुरकंडा में डॉप्लर मौसम रडार के संचालन में तैनात कार्मिकों के निशुल्क आवागमन हेतु वहाँ लग रहे रोपवे में उचित प्रावधान करेगी। लैंसडाउन में अनापत्ति प्रमाण पत्र मिलने के पश्चात राज्य सरकारवहाँ पर लगने वाले रडार के लिए जगह को विकसित करने इत्यादि में भी सहयोग देगी।उत्तराखंड राज्य सरकार ने धार्मिक यात्रियों एवं पर्यटकों को मौसम की जानकारी  उपलब्ध कराने के लिए भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा मौसम डिस्प्ले स्क्रीन लगाने हेतु आवश्यक सुविधाओं के साथ 05 स्थान उपलब्ध करा दिये हैं।
       
        केन्द्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ.हर्षवर्धन ने मुक्तेश्वर (नैनीताल) एवं कुफरी (शिमला) में डॉप्लर वैदर रडार स्टेशन के उद्घाटन पर बधाई देते हुए कहा कि किसानों एवं तीर्थयात्रियों को इससे अत्यधिक लाभ पहुंचेगा। उन्होंने रडारों की स्थापना के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रत्येक क्षेत्र में प्रदान किए जा रहे सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया।

        इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश, मुख्यमंत्री के आई.टी. सलाहकार श्री रविन्द्र दत्त, सचिव श्री एस.ए. मुरूगेशन, ए.सी.ई.ओ.यू.एस.डी.एम.ओ. श्री आनन्द श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

सहायक अध्यापक कला व प्रवक्ता कला सेवा नियमावली संशोधन को मुख्यमंत्री की स्वीकृति।बीएड् की जरूरत नहीं होगी।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड विशेष अधीनस्थ शिक्षा (प्रवक्ता संवर्ग) और सहायक अध्यापक (कला संवर्ग )सेवा नियमावली, में संशोधित करने पर सहमति दे दी है। इससे प्रवक्ता कला और सहायक अध्यापक (कला) में बीएड प्रशिक्षण की अनिवार्यता खत्म हो जाएगी। उत्तराखंड विशेष अधीनस्थ शिक्षा (प्रवक्ता संवर्ग) और एल टी (कला संवर्ग) सेवा नियमावली में बीएड प्रशिक्षण की अनिवार्यता को खत्म किए जाने के लिए नियमावली में संशोधन का प्रस्ताव किया गया था। शासन को अवगत कराया गया था कि वर्ष 2019 से पहले प्रवक्ता कला के लिए बीएड की शर्त नहीं थी तथा एनसीटीई के मानक भी अधिकांशत प्रायोगिक विषय होने के कारण इनमें प्रवक्ता कला विषय के लिए लागू नहीं होते हैं।

कैबिनेट के निर्णय के अनुपालन के लिए उक्तानुसार उत्तराखंड विशेष अधीनस्थ शिक्षा (प्रवक्ता संवर्ग) सेवा नियमावली, 2008 यथा संशोधित 2019 में परामर्शी विभागों के विधि परीक्षण प्रारूप के अनुसार संशोधन  किए जाने का प्रस्ताव किया गया है। इस प्रकरण में मुख्यमंत्री ने अपनी सहमति देते हुए प्रवक्ता  कला मे्ं बीएड प्रशिक्षण की अनिवार्यता को खत्म किए जाने पर सहमति दे दी है। इसी तरह से एल टी कला में बीएड प्रशिक्षण की अनिवार्यता खत्म किए जाने पर भी मुख्यमंत्री ने सहमति दे दी है।

पाटीसैण-थापली मोटरमार्ग पर बौंसाली बैंड वाहन दुर्घटना की मजिस्ट्रेटी जाँच शुरू

उपजिलाधिकारी पौड़ी श्याम सिंह राणा ने बताया कि पाटीसैंण बाजार से लगभग 05 किमी आगे की ओर पाटीसैंण-थापली मोटर मार्ग बौंसाली बैंड पर दिनांक 04 दिसम्बर 2020 को सायं 05:45 बजे मैक्स वाहन संख्या UK12TB-2700  जो कि 150 मीटर गहरी खाई में गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हुई थी। वाहन में 05 व्यक्ति सवार थे, जिनमें से दो व्यक्तियों की मौके पर ही मृत्यु हो गई व 03 व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गये थे। दुर्घटनाग्रस्त वाहन के दुर्घटना के कारणों की मजिस्ट्रीयल जांच हेतु जिला मजिस्ट्रेट गढ़वाल ने 21 दिसम्बर 2020 को परगना मजिस्ट्रेट पौड़ी को जांच अधिकारी नामित किया है।

  उन्होंने कहा कि यदि कोई भी व्यक्ति उक्त दुर्घटना के संबंध में कुछ भी जानकारी रखता हो वह इस खबर के प्रकाशन के एक सप्ताह के अंदर किसी भी कार्य दिवस पर परगना मजिस्ट्रेट के न्यायालय/कार्यालय में उपस्थित होकर अपना लिखित/मौखिक साक्ष्य प्रस्तुत कर सकता है।

17 जनवरी को आयोजित राष्ट्रीय पल्सपोलियो कार्यक्रम स्थगित-सीएमओ पौड़ी
     

मुख्य चिकित्सा अधिकारी पौड़ी डा. मनोज शर्मा ने बताया कि 17 जनवरी 2021 को आयोजित राष्ट्रीय प्लस पोलियो प्रतिरक्षण दिवस को अप्रत्याशित गतिविधियों के कारण स्थगित कर दिया गया है। साथ ही आगामी तिथि को जल्द ही घोषित कर अवगत कराया जाएगा।

——————————————————————–

एम्स में कोविड टीकाकरण सेंटर का उद्घाटन कल

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में कोविड19 टीकाकरण अभियान का कल (शनिवार 16 जनवरी) को पूर्वाह्न 9.30 बजे आयुष भवन स्थित कोविड वेक्सिनेशन सेंटर में संस्थान के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत विधिवत पूजन के साथ शुभारंभ करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.