उत्तराखण्ड राज्य निर्माण आंदोलन में अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों के स्मारक को तोड़ देना सरकार की उत्तराखण्ड विरोधी मानसिकता प्रदर्शित होती है- जयदीप भट्ट #आज प्रदेश में कोविड -19 की स्थिति। पढिए Janswar.Com में ।

ऋषिकेश। उत्तराखण्ड क्रांति दल की एक आवश्यक बैठक गुमानीवाला में वरिष्ठ उक्रांद नेता जितार सिंह बिष्ट की अध्यक्षता में हुई, बैठक में ऋषिकेश स्थित शाहीद स्मारक तोड़े जाने पर दल के कार्यकर्ताओं ने रोष व्यक्त किया गया। इस अवसर पर दल के केंद्रीय महामंत्री जयदीप भट्ट ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य के निर्माण आंदोलन में अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों के स्मारक को तोड़ देना सरकार की उत्तराखण्ड विरोधी मानसिकता है, दुःखद पहलू यह है कि प्रशासन ने शहीदों के नाम पट्टिका पर भी जेसीबी चला दी। भट्ट ने कहा कि जिन शहीदों की बदौलत राज्य के नेतागण उच्च पदों पर बैठे है, उन्ही शहीदों की नाम पट्टिका को सम्मान के साथ न निकालना उत्तराखण्ड के नेताओं के लिए शर्म की बात है। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य है कि ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के व्यापारियों की रोजी रोटी की व्यवस्था बिना ही उनकी दुकान ध्वस्त कर दी है, जबकि माननीय उच्च न्यायालय के अतिक्रमण तोड़ने के आदेश के खिलाफ इसी सरकार ने विधान सभा में अध्यादेश लाकर बस्तियों को टूटने से बचा दिया था, भट्ट ने कहा कि ऋषिकेश में छोटे व्यवसायियों की दुकाने तो तोड़ दी गई है लेकिन बड़े उद्योगपतियों की प्रतिष्ठानों पर ध्वस्तीकरण की कार्यवाही नही की गई है। इसी तरह हरिद्वार – ऋषिकेश रोड पर हो रहे नए नए अस्थायी अतिक्रमण पर भी प्रशासन रोक नही लगा रहा है, भट्ट ने कहा कि सरकार को शीघ्र ही राज्य निर्माण आंदोलन में शहीद हुए आंदोलनकारियों के लिए ऋषिकेश में स्मारक बनाने की जगह उपलब्ध करवाई जानी चाहिए , साथ ही छोटे व्यवसायियों के लिए भी रोजगार के लिए जगह की व्ययस्था करे।
इस अवसर पर आनन्द सिंह तड़ियाल ने कहा कि पीडब्लूडी की जमीन जो रेलवे फाटक, गीता नगर के पास है उस पर अतिक्रमण हुवा है उस पर सरकार संज्ञान नही ले रही है जबकि शहीदों के स्मारक को तोड़ने में जल्दीबाजी कर दी है।
इस अवसी पर युद्धवीर सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण के बावजूद हाटा बाजार आईडीपीएल में सामाजिक दूरी का पालन नही हो रहा है स्थानीय प्रशासन से मांग की है कि बीमारी की रोकथाम के लिए उचित कदम उठाए जाय।
बैठक में ऋषिकेश में महिला पत्रकार पर हुए हमले की घोर निंदा की गई।
बैठक में जितार सिंह बिष्ट, सन्नी भट्ट, युद्धवीर सिंह चौहान, मोहित डोभाल, राकेश भट्ट , दीपक सेमवाल सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

——————————————————————

आज प्रदेश में कोविड -19 की स्थिति

Leave a Reply

Your email address will not be published.