कृषिमंत्री सुबोधउनियाल ने विधानसभा सभा कक्ष में विभागीय बैठक ली। पढिए Janswar.com में।

समाचार प्रेषण-नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

प्रदेश के कृषि, कृषि विपणन, कृषि प्रसंस्करण, कृषि शिक्षा, उद्यान एवं फलोद्योग एवं रेशम विकास मंत्री सुबोध उनियाल ने विधान सभा, सभाकक्ष में बैठक ली।
कृषि विभाग से संबन्धित विभागों के एकीकरण के सम्बन्ध में फील्ड के पद बढ़ाने की सहमति प्रदान की गयी। श्री उनियाल ने कहा कि कृषि और उद्यान से सम्बन्धित प्रत्येक न्याय पंचायत स्तर पर 2 अधिकारी कार्य करेंगे। वर्ग 3 के पद को उच्चीकृत करते हुए वर्ग 2 में समाहित कर एक वर्ग बनाया जायेगा। इसके अतिरिक्त कुमाऊ और गढ़वाल मण्डल में सम्पूर्ण अधिकारों के साथ निदेशक पद बनाये जाने पर सहमति दी गई। चाय बोर्ड, रेशम विभाग, भेषज विभाग एवं जड़ी-बूटी विभाग के निःसंवर्गीय पद को सृजित कर अधिकारी तैनात किये जायेंगे तथा माली के पद का नाम उद्यान सहायक होगा। सभी तैनाती कार्मिक विभाग के नियमावली के अनुसार होगी। विभागीय एकीकरण का उद्ेश्य शासकीय व्यय को कम करना एवं विभाग को प्रभावी बनाना है।
बैठक में अपर सचिव कृषि को नौथा एग्रोक्लस्टर से सम्बन्धित डीपीआर को कृषि व्यय समिति में स्वीकृत कराने हेतु प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया। आराकोट में सेब भण्डारण एवं गदरपुर मण्डी का डीपीआर प्रस्तुत करने को कहा गया।
इस अवसर पर अपर सचिव कृषि राम विलास यादव, अपर सचिव वित्त भूपेश तिवारी, अपर सचिव कार्मिक सुमन बल्दिया, निदेशक कृषि गौरीशंकर, निदेशक हार्टिकल्चर संजय श्रीवास्तव एवं अपर निदेशक हार्टिकल्चर डाॅ. रतन कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.