स्वामी विवेकानंद जी की 157 वीं जयंती के अवसर पर, उत्तराखंड सरकार द्वारा उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव, 2020 का आयोजन## युवा दिवस पर एम्स में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश की राज्यपाल मुख्य अतिथि होंगी-एम्स निदेशक प्रो. रविकांत##कुमांयु आयुक्त राजीव रौतेला ने किया निर्माण कार्यों की समीक्षा.पढिए janswar. Com में.

                                                                                                                                                                                               

स्वामी विवेकानंद जी की 157 वीं जयंती के अवसर पर, उत्तराखंड सरकार द्वारा उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव, 2020 का आयोजन

उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव में सेवा, संवाद और संकल्प होंगे मूल मंत्र
स्वामी विवेकानंद जी की 157 वीं जयंती के अवसर पर, उत्तराखंड सरकार द्वारा आयोजित हो रहा है उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव, 2020
देश भर की शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी करेंगे प्रतिभाग

स्वामी विवेकानंद जी की 157 वीं जयंती के अवसर पर, उत्तराखंड सरकार द्वारा उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव, 2020 का आयोजन ओएनजीसी ऑडिटोरियम, देहरादून में किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर आयोजित हो रहे दो दिवसीय कार्यक्रम में राज्य और राष्ट्र के चारों ओर से आये हुए युवा और नवोदित बुद्धिजीवी वर्ग प्रतिभाग करेंगे। कान्क्लेव 11 व 12 जनवरी को आयोजित किया जा रहा है। उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव एक तीन सूत्रीय कार्यक्रम है और इसमें सेवा, संवाद और संकल्प को मूलमंत्र बनाया गया है। इसमें उत्तराखंड और भारत भर के विभिन्न प्रसिद्ध शिक्षण संस्थानों के 375 युवा छात्रों द्वारा प्रतिभाग किया जा रहा है।
उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव में उत्तराखंड के विकास के लिए महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर चर्चा की जाएगी। इनमें मुख्यतः मानव संसाधन विकास, स्वास्थ्य, सूचना प्रौद्योगिकी, अवसंरचना और उद्योग के क्षेत्र शामिल हैं।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम 11 जनवरी को प्रातः 11ः00 बजे प्रारम्भ होगा। जिसमें सर्वप्रथम उद्घाटन समारोह एवं प्रथम सत्र आयोजित होंगे। विशेषज्ञों की अध्यक्षता में तीन समानांतर सत्रों का आयोजन किया जाएगा। दूसरे दिन समापन सत्र में मुख्यमंत्री युवाओं से संवाद करेंगे। कार्यक्रम का समापन राज्य और राष्ट्र को उत्कृष्ट बनाने के लिए एवं अनुभव का उपयोग करने के संकल्प (शपथ) के साथ होगा। उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव के पीछे निहित सोच युवाओं के संवाद में प्राप्त ठोस और महत्वपूर्ण निष्कर्षों के उपरांत एक उपयुक्त मसौदा तैयार करना है। राज्य के भविष्य और उत्थान के लिए सबसे उत्साहजनक दृष्टिकोण वाले प्रतिनिधि को नीतीश्री की उपाधि से सम्मानित किया जाएगा।अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में स्वामी विवेकानंद जी की जयंती युवा दिवस पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिसके तहत मैराथन दौड़ होगी और लोगों को स्वैच्छिक रक्तदान के प्रति जागरुक करने व जीवन के संरक्षण के लिए रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में उत्तराखंड की महामहिम राज्यपाल बेबीरानी मौर्य बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगी।

#######################

युवा दिवस पर एम्स में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश की राज्यपाल मुख्य अतिथि होंगी-एम्स निदेशक प्रो. रविकांत.

स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर एम्स संस्थान संस्थान का उद्देश्य युवा महोत्सव के रूप में इस आयोजन के माध्यम से अधिकाधिक युवाओं तक स्वामी विवेकानंद जी के विचारों को पंहुचाना व युवाओं को उनके विचारों को आत्मसात करने को प्रेरित करना है। यह बात एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रविकांत ने एक पत्रकार वार्ता में बताया. उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी एक महान विचारक और युवाओं के प्रेरणास्रोत हैं। उन्होंने जीवनभर महान चिंतन से विश्व को प्रभावित करने और भारत भूमि की आध्यात्मिकता से रूबरू कराया। एम्स निदेशक ने युवाओं का आह्वान किया कि वह स्वामी विवेकानंद जी के जीवन आदर्श को आत्मसात कर विश्व को नई राह दिखाने का कार्य करें। पद्मश्री प्रो. रविकांत ने कहा कि बंगाली, हिंदी और अंग्रेजी सहित कई भाषाओं का ज्ञान रखने वाले स्वामी विवेकानंद जी ने अपने ओजस्वी विचारों से पूरी दुनिया के युवाओं को एक सूत्र में बांधने का कार्य किया। उन्होंने बताया कि संस्थान रविवार को स्वामी विवेकानंद जी की जयंती युवा दिवस पर विशेष कार्यक्रम आयोजित कर रहा है, जिसमें राज्यपाल बेबीरानी मौर्य बतौर मुख्यअतिथि शिरकत करेंगी। जिसके तहत युवाओं को जागरुक करने के लिए प्रातःकाल मैराथन दौड़ का आयोजन किया जाएगा,जिसमें संस्थान के चिकित्सक, फैकल्टी व अन्य कर्मचारी प्रतिभाग करेंगे। निदेशक एम्स ने बताया कि युवा दिवस पर सुबह 10 बजे कार्यक्रम स्वस्थ उत्तराखंड समृद्ध उत्तराखंड स्वास्थ्य मंथन कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जिसमें विभिन्न स्थानों से आए अतिथि उत्तराखंड राज्य की हेल्थ पॉलिसी बनाने में भावी पीढ़ी की सहभागिता सुनिश्चित कराने पर चिंतन करेंगे। साथ ही इस विषय पर भी विशेषज्ञ मंथन करेंगे कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं को किस तरह से एक दूसरे को सहयोग से आगे बढ़ाया जा सके। इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और रक्तदान शिविर का आयोजन भी होगा। युवा दिवस के कार्यक्रम में रायवाला कैंट से आर्मी बैंड की विशेष प्रस्तुति भी होगी। निदेशक एम्स प्रो. रवि कांत ने बताया कि कार्यक्रम को लेकर सभी तैयारियां लगभग पूरी की जा चुकी हैं। उन्होंने ऋषिकेश और आसपास के नागरिकों को भी कार्यक्रम में खासतौर से आमंत्रित किया है। इस अवसर पर उप निदेशक प्रशासन अंशुमन गुप्ता, कार्यक्रम संयोजक डा. विनोद, डा. मोहित तायल, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल आदि मौजूद थे।

##########################कुमांयु आयुक्त राजीव रौतेला ने किया निर्माण कार्यों की समीक्षा
सरकार द्वारा आवंटित धनराशि का उपयोग करते हुए गुणवत्तायुक्त निर्माण कार्य समयबद्धता से पूर्ण करना सुनिश्चित करें। यह निर्देश आयुक्त कुमाऊॅ मण्डल श्री राजीव रौतेला ने शुक्रवार को मण्डल में चल रहे निर्माण कार्यो की समीक्षा करते हुए सड़क महकमे के आला अधिकारियों को दिए।
श्री रौतेला ने निर्देशित करते हुए कहा कि निर्माण कार्यों में विलम्ब से जहाॅ कार्य की लागत बढ़ती हैं, वहीं सरकार पर अतिरिक्त धनराशि का भार भी बढ़ता है। श्री रौतेला ने पर्याप्त धनराशि होते हुए भी कार्यो में धीमी प्रगति पर अधीक्षण अभियंता लोनिवि अल्मोडा़, नैनीताल तथा पिथौरागढ़ डिवीजन को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश मुख्य अभियंता लोनिवि को दिए। उन्होंने मुख्य अभियंताओं व अधीक्षण अभियंताओं को निर्देश दिए कि अधीशासी अभियंता यदि कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही कर रहें हैं या आदेशों की अवहेलना कर रहे हैं तो उसकी सूचना तत्काल आयुक्त कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करे। श्री रौतेला ने सख्त निर्देश दिए कि जनहित कार्यों में आदेशों की अवहेलना करने एवं कार्य धीमी गति से करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।
श्री रौतेला ने एनएच निर्माण कार्यो की समीक्षा करते हुए काशीपुर में चल रहे रेलवे ओवर ब्रिज निर्माण कार्य में तेजी लाने तथा ठैकेदार को स्थानीय स्तर पर सभी प्रकार की सुविधाएं नियमानुसार उपलब्ध कराने के निर्देश अधीक्षण अभियंता एनएच को दिए निर्माण कार्य शीघ्रता से पूरा किया जा सके। उन्होंने निर्देश दिए कि निर्माण कार्य किसी भी दशा में बाधित न हों, यदि रेवले से किसी भी प्रकार की समस्या हैं तो उसके सम्बन्ध तत्काल अवगत कराना सुनिश्चित करें ताकि रेलवे के उच्चाधिकारियों से वार्ता कर समस्या का समय से समाधान कराया जा सके। उन्होंने काशीपुर में शहर में सड़क की दशा सुधारते हुए लोनिवि को हस्तान्तरित करने के निर्देश अधीक्षण अभियंता एनएच को दिए।
श्री रौतेला ने पीएमजीएसवाई के अन्तर्गत मण्डल में निर्माधीन सड़कों की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने कहा कि पीएमजीएसवाई ही स्थानीय छोटे गाॅव व तोकों को जाड़ने का कार्य करता हैं, इसलिए कार्यों में गति लाकर सड़कों को पूर्ण करें ताकि जनता को सड़क का शीघ्रता से लाभ मिल सके। जिस पर मुख्य अभियंता जीएस पांगती ने बताया कि अवमुक्त धनराशि का 60 प्रतिशत व्यय करते हुए 70 बसासत को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया था जिसमें से 44 बसासतों को अभी तक जोड़ दिया गया है। आयुक्त ने मण्डल में पीएमजीएसवाई के सभी डिवीजनवार सड़कों की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति तलब की ताकि और अधिक गहनता से समीक्षा की जा सके।
श्री रौतेला ने लोनिवि के कार्यों की समीक्षा करते हुए मुख्य अभियंता श्री डीके यादव को निर्देश दिए कि नव निर्मित रामनगर ब्रिज पर स्ट्रीट लाईटें लगाने का प्रस्ताव शीघ्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिए, साथ ही उन्होंने हल्द्वानी रिंग रोड की जानकारी ली, जिस पर मुख्य अभियंता ने बताया कि रिंग का सर्वे कर लिया गया है। सर्वे की फिजिबिलिटी रिपोर्ट भी आ चुकी है। जिस पर आयुक्त ने कार्यदायी संस्था को रिंग रोड़ का विस्तृत प्रजेंटेशन दिखाने के साथ ही गुलाब घाटी में आये दिन लगने वाले जाम से निजात दिलाने हेतु अमृतपुर-काठगोदाम बाईपास का शीघ्रता से सर्वे कराने के निर्देश भी दिए। उत्तराखण्ड में प्रवेश करने वाली सड़को पर कुमाऊॅनी संस्कृति पर आधारित प्रवेश द्वार बनाने हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत करते हुए सड़कों मरम्मत एवं सौन्दर्यकरण कराने के भी निर्देश दिए। कालाढुंगी-नैनीताल रोड व रानीबाग-भीमताल रोड पर मलवा संभावित क्षेत्रों एवं वर्तमान स्थिति की विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि वह मण्डी परिषद द्वारा किए जा रहे कार्यों की गहनता से समीक्षा कर, रिपोर्ट प्रस्तुत करें।
बैठक में अपर आयुक्त संजय खेतवाल, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या राजेन्द्र तिवारी, मुख्य अभियंता बीएन तिवारी, जीएस पांगती, दीपक कुमार यादव, अधीक्षण अभियंता अरूण कुमार गोयल, अनिल पांगती, निदेशक मण्डी बीएस चलाल, महाप्रबन्धक पेयजल निर्माण निगम एमएम पन्त आदि मौजूद थे।

#######################

Leave a Reply

Your email address will not be published.