स्मार्ट सिटी के काम में लापरवाही बर्दाश्त नहीं,निर्धारित समयावधि में गुणवत्ता के साथ पूरे हों काम-सीएम# जिलाधिकारी रोजाना आम जनता से मिलने का समय निर्धारित करें व जन प्रतिनिधियों से समन्वय करें -मुख्यमंत्री#वन मंत्री एवं विधायक यमकेश्वर ने तेंदुआ द्वारा मारी गयी गोदी गांव की लड़की के घर जाकर सांत्वना व राहत चेक दिया#जिलाधिकारी गढवाल ने सामुदायिक स्वास्थ्यकेन्द्र कोट का भ्रमण कर वैक्सीनेशन कार्य का निरीक्षण किया।पढिए Janswar.comमें।द्वारा- नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

• स्मार्ट सिटी के काम में लापरवाही बर्दाश्त नहीं- सीएम

• निर्धारित समयावधि में गुणवत्ता के साथ पूरे हों काम

• मुख्यमंत्री श्री तीरथ ने किया स्मार्ट सिटी के कार्यों का औचक स्थलीय निरीक्षण

• पल्टन मार्केट एवं परेड ग्राउण्ड में किया कार्यों का निरीक्षण

• निर्माण कार्यों से लोगों और व्यापारियों को परेशानी न हो

मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने रविवार को पलटन बाजार एवं परेड ग्राउण्ड में स्मार्ट सिटी के कार्यों का औचक स्थलीय निरीक्षण किया। पलटन मार्केट के निरीक्षण के दौरान उन्होंने सीईओ स्मार्ट सिटी/जिलाधिकारी देहरादून को निर्देश दिये कि निर्माण कार्यों में लगी सभी एजेंसियों के माध्यम से कार्य में और तेजी लाई जाय। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाय कि निर्माण कार्यों से व्यापारियों और जनता को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। निर्माण से संबधित सभी कार्य रात्रि में किये जाय। धूल की समस्या के समाधान के लिए कार्य स्थल पर पानी का छिङकाव किया जाय।
मुख्यमंत्री श्री तीरथ ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि पल्टन मार्केट में सड़क निर्माण के साथ ही सीवरेज और तारों के अन्डरग्राउंड से संबधित जो भी कार्य हैं, उन्हें साथ-साथ पूर्ण किया जाय। कार्यों को एक छोर से पूर्ण किया जाय, ताकि लोगों को अधिक व्यवधान न हो। पल्टन मार्केट के कार्यों को 30 अप्रैल तक पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्य कि गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं होगा। विद्युत, सीवरेज, सड़क निर्माण और अन्य सभी कार्य एक साथ किये जायेंगे।
मुख्यमंत्री श्री तीरथ ने इससे पूर्व परेड ग्राउण्ड में चल रहे स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये परेड ग्राउण्ड में स्मार्ट सिटी के तहत जो भी कार्य होने हैं, वे निर्धारित अवधि में पूरे किये जाय। निर्माण एवं ब्यूटिफिकेशन से सबंधित कार्यों में तेजी के साथ गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाय। चरणबद्ध तरीके से कार्य पूर्ण किये जाय।
इस अवसर विधायक श्री खजान दास, सीईओ स्मार्ट सिटी/जिलाधिकारी देहरादून डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव एवं संबधित अधिकारी उपस्थित थे।
————————————————–

• जनप्रतिनिधियों से समन्वय सुनिश्चित करें जिलाधिकारीः मुख्यमंत्री तीरथ

• रोजाना आम जनता से मिलने का समय निर्धारित करें जिलाधिकारी

• मुख्यमंत्री तीरथ के जिलाधिकारियों को सख्त निर्देश

मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि सभी जिलाधिकारी जनप्रतिनिधियों से समन्वय सुनिश्चित करें। नियमित रूप से अपने जनपद के विधायकगणो से बैठक कर यथासंभव जनसमस्याओ का समाधान करेंगे और इसकी रिपोर्ट शासन को भेजेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलाधिकारी अपने कैम्प कार्यालय में न बैठकर अपने मूल कार्यालय में बैठें। ताकि आगंतुक आम जनता को कष्ट न हो। आम जनता की जिलाधिकारी तक आसानी से पहुंच सुनिश्चित हो।
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि प्रत्येक दिन 2 घंटे जिलाधिकारी जनता से मिलकर उनकी समस्या सुनेंगे और तुरंत निस्तारित करेंगे। जनप्रतिनिधियों को पूरा सम्मान हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाये।

—————————————————-

प्रदेश के वनमंत्री व यमकेश्वर की विधायक ने गुलदार द्वारा मारी गयी गोदी गांव की आकांक्षा के घर  जाकर परिजनों को सांत्वना दी।राहत चैक दिया।
प्रदेश के वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत ने दुगड्डा ब्लॉक के ग्राम गोदी बड़ी में गुलदार के हमले में मृतक आकांक्षा (माही) के घर पहुंचकर परिजनों को सांत्वना दी। वहीं शिवपुर में भी मृतक महिला के परिजनों से मुलाकात कर ढांढस बंधाया। उन्होंने मृतकों के परिजनों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। मंत्री ने मृतकों के परिजनों को 1-1 लाख रुपये की सहायता राशि का चेक सौंपा। मंत्री ने कहा कि मृतकों के परिजनों को तीन-तीन लाख की सहायता राशि जल्द ही दे दी जाएगी।

प्रदेश के वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत व यमकेश्वर विधायक ऋतु खंडूड़ी आज आकांक्षा के घर पहुंचे। वन मंत्री ने कहा कि वर्तमान में जंगलों में आग लग रही है, जिस कारण जंगली जानवर आबादी क्षेत्र की ओर रुख कर रहे है। इसलिए लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। मंत्री ने मृतक बच्ची के परिजनों को एक लाख रुपये की धनराशि का चेक दिया। मंत्री ने कहा कि एक लाख रुपये की धनराशि मृतक बच्ची के परिजनों को कॉर्बेट फाउंडेशन की ओर से दी जाएगी। इसके बाद काबीना मंत्री डॉ. रावत हाथी के हमले में मृतका शिवपुर निवासी कुंती देवी के घर पहुंचकर परिजनों को सांत्वना दी। मंत्री ने मृतक महिला के परिजनों को एक लाख रुपये की धनराशि का चेक दिया। काबीना मंत्री डॉ. रावत ने बेस अस्पताल पहुंचकर हाथी के हमले में घायल दमयंती देवी का हाल चाल जाना। उन्होंने डॉक्टरों से दमयंती देवी के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। साथ ही डॉक्टरों को बेहतर उपचार करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जल्द ही घायल को नियमानुसार मुआवजा राशि दी जाएगी।
वन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार दुगड्डा ब्लॉक के ग्राम गोदी बड़ी में वन विभाग को गुलदार को पकड़ने के लिए दो पिंजरे लगा दिये है। साथ ही गुलदार पर निगरानी रखने के लिए तीन कैमरे भी लगा दिये है। लैंसडौन वन प्रभाग की दुगड्डा रेंज के रेंजर किशोर नौटियाल के नेतृत्व में वन विभाग की टीम ने गांव में ही डेरा डाला हुआ है।
—————————————————-
जिलाधिकारी गढवाल ने सामुदायिक स्वास्थ्यकेन्द्र कोट का भ्रमण कर वैक्सीनेशन कार्य का निरीक्षण किया।

जिलाधिकारी गढ़वाल डा0 विजय कुमार जोगदण्डे अपने भ्रमण निरीक्षण कार्यक्रम के तहत जनपद के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कोट पहुंचे जहां उन्होने वैक्सीनेशन कार्य का निरीक्षण करते हुए टिकाकरण को पहुंचे लोगों तथा वैक्सीनेशन टीम को फुलों की गुलदस्ता भेंट कर सम्मानीत किया। उन्होने कोविड 19 के संक्रमण से बचाव एवं सुरक्षा को लेकर वैक्सीनेशन हेतु लक्षित लोगों को समय पर पहुंच कर अपने टिकाकरण कराने को कहा। कहा इस महामारी के खिलाफ बचाव हेतु अभियान में जागरूकता एवं सावधानियां के साथ मुकाबला करना है। वहीं अपर मुख्य चिकित्सधिकारी को कहा कि दिनांक 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक वैक्सीनेशन कार्यक्रम को महोत्सव के रूप में  चलाये जाने है। जिसमें सभी को बढ़-चढ़ कर प्रतिभाग करना है। कोरोना संक्रमण को लेकर जनमानस में जागरूकता की अधिक से अधिक जानकारी हो इसके लिए सभी को सहयोग की जरूरत है।
जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने शनिवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र विकासखंड कोट का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पताल में हो रहे टीकाकरण की जानकारी संबंधित अधिकारियों से ली। साथ ही उन्होंने वैक्सीनेशन टीकाकरण  में लगे डॉक्टरों व स्वास्थ्य कर्मचारियों की बेहतर कार्य करने पर उनकी सराहना की। इस दौरान जिलाधिकारी ने टीका लगवाने आये लोगों तथा स्वास्थ्य कर्मचारियों का पुष्प देकर सम्मानित भी किया।
जिलाधिकारी डा0 जोगदण्डे ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोट का निरीक्षण कर टीकाकरण लगवाने आए लोगों का हालचाल जाना। उन्होंने अस्पताल में संबंधित अधिकारियों से वैक्सीनेशन टीकाकरण की जानकारी लेते हुए निर्देशित किया कि अधिक से अधिक संख्या में लोगों को जागरूक कर टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि कोविड काल से लेकर अब तक स्वास्थ्य कर्मचारी गंभीरता से कार्य कर रहे हैं।
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अशोक तोमर ने बताया कि 8 अप्रैल तक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोट में प्रथम व दूसरे चरण को मिला कर 3161 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।
इस अवसर पर एसीएमओ डॉ. जी. एस. तालियान, डॉ. उपेंद्र पंवार, ए. एन. एम.  मातेश्वरी, बी. पी. एम. महेंद्र कुकरेती, डी. ई. ओ. नीरज डोभाल, पूर्व ब्लाक प्रमुख सुनील लिंगवाल, सहित संजय बलूनी, अजय प्रकाश मिश्रा, अतुल भट्ट अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.