सीएम हेल्पलाईन में दर्ज शिकायत तक निस्तारित नहीं मानी जायेगी जब तक शिकायत कर्ता संतुष्ट नहीं हो जाता-मुख्यसचिव संधु# गुरुगोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय में अभि विन्यास कार्यक्रम का आयोजन क्या गया। www.janswar.com

-नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने सोमवार को सचिवालय में सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत शिकायतों के निस्तारण के सम्बन्ध में अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्य सचिव ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन का उद्देश्य आमजन को समस्याओं को दूर करना है। यदि निर्धारित समय के अंदर आम नागरिकों की वास्तविक शिकायतों को दूर नहीं किया जा सके तो इतने बड़े सिस्टम का क्या फायदा।

उन्होंने कहा कि जो इस सिस्टम से जुड़ा है प्रतिदिन पोर्टल या अन्य माध्यमों से प्राप्त शिकायतों के निस्तारण के लिए कार्य करेंगे तो सभी समस्याएं हल हो जाएंगी।
मुख्य सचिव ने कहा कि जब तक शिकायतकर्ता संतुष्ट नहीं हो जाता, शिकायत को निस्तारित नहीं माना जायेगा। उन्होंने सभी अधिकारियों को  निर्देश दिए कि  L3 लेवल में विभागाध्यक्ष को शामिल नहीं किया गया है, वे विभाग विभागाध्यक्ष को इसमें जरूर शामिल कर लें, साथ ही जहां  L1 से  L4 तक लेवल में कहीं भी कोई परिवर्तन करने की आवश्यकता है, तो अगले एक सप्ताह में कर लिया जाए। मुख्य सचिव ने शिकायतों के निस्तारण में स्पेशल क्लोज कैटेगरी का भी निरन्तर समीक्षा किए जाने के निर्देश दिए, कहा कि वास्तविक शिकायतों को स्पेशल क्लोज न किया जाए।
मुख्य सचिव ने कहा कि अधिकारी यह भी देखना सुनिश्चित करें कि किस प्रकार की शिकायतें लगातार आ रही हैं, उनकी श्रेणी तय कर लें। यदि एक प्रकार की शिकायतें लगातार आ रही हैं तो इसका मतलब हमारे सिस्टम में कमी है, जिसके परिवर्तन की आवश्यकता है। ऐसे प्रकरण चिन्हित कर सिस्टम में सुधार लाया जाए। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन के नोडल विभाग आईटीडीए को भी निर्देश दिए कि शिकायतों के निस्तारण में खराब प्रदर्शन कर रहे विभागों को सबसे ऊपर रखते हुए रैंकिंग लिस्ट विभागों को भेजी जाए। विभाग अभियान चलाकर इन शिकायतों का निस्तारण करे। साथ ही साप्ताहिक समीक्षा की जाए ताकि शिकायतों का निस्तारण त्वरित गति लाई जा सके।
इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी, प्रमुख सचिव श्री एल फैनई, सचिव श्री दिलीप जावलकर, श्री अरविंद सिंह ह्यांकी, श्री रविनाथ रमन, डॉ. पंकज कुमार पाण्डेय, डॉ. आर. राजेश कुमार, निदेशक आईटीडीए श्री अमित सिन्हा सहित अन्य उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

*******

 

गुरुगोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय बिथ्याणी में आज नयी शिक्षा नीति 2020 के अन्तर्गत प्रवेश एवं पाठ्यक्रम हेतु एक दिवसीय ‘अभिविन्यास कार्यक्रम’ का आयोजन किया गया।

 

कार्यक्रम के प्रारम्भ में दीप प्रज्वलित कर माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण किया गया।कार्यक्रम प्रारम्भ करते हुए डा०उमेश त्यागी(सहायक प्राध्यापक इतिहास) के द्वारा महाविद्यालय में प्रवेश नियमावली एवं समय सारिणी के बारे में जानकारी दी गयी। प्राध्यापक डा.विनय कुमार पाण्डेय (सहा.प्राध्यापक अर्थशास्त्र) ने पाठ्यक्रम एवम् विषय संयोजन के संबन्ध में जानकारी दी। डा.राम सिंह सामन्त (सहा.प्रा.समाजशास्त्र) द्वारा कौशल विकास पाठ्यक्रम एवं क्रेडिट व क्रेडिट निर्धारण सह पाठ्यक्रम शिक्षण एवं सहक्रिया के बारे में जानकारी दी गयी। सहा.प्राधापक अंग्रेजी सुनील प्रसाद ने स्नातक पाठ्यक्रमों में ग्रेडिंग प्रणाली क्रेडिट निर्धारण एवं उत्तीर्णता प्रतिशत तथा परीक्षा व अंक सुधार परीक्षा के बारे में जानकारी दी।सहायक प्राध्यापक श्रीमती पूजा ने कक्षोन्नति काल अवधि की जानकारी दी।कार्यक्रम का संचालन डा.नीरज नौटियाल ने किया।
इस कार्यक्रम में प्रशासनिक अधिकारी श्री महेन्द्र सिंह बिष्ट,सहा०पुस्तकालयध्यक्ष श्रीमती सीमा देवी,पुस्तकालय लिपिक श्री जयदेव सिंह बिष्ट,सहायक लिपिक श्री मनमोहन सिंह रावत ने भी प्रतिभाग किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.