सीएम ने किया 17 अधिकारियों को पुरस्कृत#औद्योगिक क्षेत्र में विकास कार्यों के लिए एक करोड़ मंजूर# उच्च शिक्षामंत्री ने सुमाड़ी (खिर्सू)में पन्थ्यादादा स्मारक व मूर्ति का शलान्यास किया।#मुख्यसचिव ने सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर शपथ दिलायी।पढिए Janswar.Com में।

द्वारा-अरुणाभ रतूड़ी

सीएम ने किया 17 अधिकारियों को पुरस्कृत

व्यक्तिगत एवं सामुहिक श्रेणी में प्रदान किये गये 03-03 पुरस्कार

सचिवालय में प्रदान किये गये उत्कृष्टता एवं सुशासन पुरस्कार 2019-20

     मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य करने वाले अधिकारियों को मुख्यमंत्री उत्कृष्टता एवं सुशासन पुरस्कार 2019-20 से पुरस्कृत किया। मुख्यमंत्री ने 17 अधिकारियों को पुरस्कृत किया। व्यक्ति गत श्रेणी में 03 अधिकारियों एवं सामुहिक श्रेणी के 03 पुरस्कार प्रदान किये गये।
     मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि मुख्यमंत्री उत्कृष्टता एवं सुशासन पुरस्कार का उद्देश्य अच्छा कार्य करने वाले कार्मिकों को प्रोत्साहित करना है। अच्छा कार्य करने वालों को प्रोत्साहन मिलना जरूरी है। इससे अन्य लोग भी प्रेरणा लेते हैं। राज्य में लगातार तीसरे वर्ष यह पुरस्कार दिया जा रहा है। आज जिन अधिकारियों को पुरस्कृत किया गया है, उन्होंने राज्य के विकास के लिए नई पहलों से योगदान करने का सराहनीय प्रयास किया है।
     व्यक्तिगत श्रेणी में मुख्यमंत्री उत्कृष्टता एवं सुशासन पुरस्कार से 2019-20 प्रभागीय वन अधिकारी, वन प्रभाग कोट बंगला, उत्तरकाशी श्री संदीप कुमार को भू-क्षरण एवं भू-स्खलन पर नियंत्रण के लिए, प्रधानाचार्य राजकीय इण्टर कॉलेज, पत्थरपानी पिथौरागढ़ श्री कोस्तुभ चन्द्र जोशी को नई किरण वेबसाइट निर्माण कार्य, डिजिटल लैब द्वारा विद्यालयी शिक्षा में कार्य एवं डिप्टी कलेक्टर भनोली, अल्मोड़ा सुश्री मोनिका को जागेश्वर महोत्सव, व्यापक प्रचार प्रसार से पर्यटकों की वृद्धि के फलस्वरूप रोजगार के वृद्धि के क्षेत्र में सराहनीय कार्य के लिए पुरस्कृत किया गया।
     सामूहिक श्रेणी में जो तीन पुरस्कार दिये गये उनमें सचिव परिवहन श्री शैलेश बगोली के साथ अपर परिवहन आयुक्त श्रीमती सुनीता सिंह, उप परिवहन आयुक्त श्री सनत कुमार सिंह, सम्भागीय परिवहन अधिकारी श्री दिनेश चन्द्र पठोई, श्री अरविन्द पाण्डेय एवं मुख्य प्रशासनिक अधिकारी श्री नरेश संगल को ओटोमेटेड ड्राइविंग टेस्ट, वाहन चालन कुशलता परीक्षण की नवीन तकनीक, कुशल वाहन चालक का चयन मात्र 15-20 मिनट में कर ड्राईविंग लाइसेंस निर्गत करने में किये गये सराहनीय कार्य के लिए दिया गया।
     सामूहिक श्रेणी में अध्यक्ष उत्तराखण्ड अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण, उरेडा, श्रीमती राधिका झा के साथ निदेशक उरेडा कै. आलोक शेखर तिवारी एवं अनुभाग अधिकारी,ऊर्जा अनुभाग श्री जे.पी मैखुरी को वन क्षेत्रों में चीड़ की पत्तियों से पर्यावरण संतुलन में हो रहे बदलाव को रोकने हेतु पिरूल नीति प्रख्यापित करने, पिरूल आधारित विद्युत उत्पादन परियोजनाओं की आवश्यकताओं हेतु स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं, वन पंचायतों एवं अन्य स्थानीय संस्थाओं के सदस्यों द्वारा पिरूल एकत्रीकरण कर उद्यमियों को विक्रय करने से रोजगार के अवसर सृजित करने में सराहनीय कार्य के लिए पुरस्कृत किया गया।
     सामूहिक श्रेणी में जिलाधिकारी देहरादून डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव के साथ मुख्य विकास अधिकारी देहरादून श्रीमती नितिका खण्डेलवाल, प्रभागीय वनाधिकारी देहरादून श्री राजीव धीमान, मुख्य नगर आयुक्त नगर निगम ऋषिकेश श्री नरेन्द्र सिंह क्वीरियाल एवं अधशासी अभियन्ता, उत्तराखण्ड पेयजल निगम ऋषिकेश श्री ए.के. चतुर्वेदी को माँ गंगा की आध्यात्मिकता को कायम रखते हुए इसके आस्था के फलस्वरूप एकत्र होने वाले फूलों का सदुपयोग अगरबत्ती एवं इसके अन्य 22 अन्य सह उत्पाद का निर्माण करने की प्रेरणा लघु एवं कुटीर उद्योगों को देकर रोजगार सुलभ करवाने के क्षेत्र में सराहनीय कार्य के लिए दिया गया।
     इस अवसर पर मेयर श्री सुनील उनियाल गामा, विधायक श्री खजान दास, मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश, अपर मुख्य सचिव श्रीमती मनीषा पंवार, प्रमुख सचिव श्री आनन्द वर्द्धन एवं शासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

——————————————————————–औद्योगिक क्षेत्र में विकास कार्यों के लिए एक करोड़ मंजूर

     मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जिला उधमसिंह नगर स्थित औद्योगिक आस्थान रुद्रपुर और काशीपुर में अवस्थापना विकास कार्यों के लिए एक करोड़ की राशि जारी करने पर सहमति दी है।

   इस राशि से इन औद्योगिक आस्थान के तहत पड़ने वाले क्षेत्रों में सड़कों व नालियों की मरम्मत और पुनर्निर्माण, बारिश के पानी की निकासी व बाउंड्रीवाल आदि अवस्थापना विकास कार्य किए जाएंगे। इस औद्योगिक आस्थान रुद्रपुर में 11 एकड़ और काशीपुर में 20 एकड़  भूमि क्षेत्र में औद्योगिक आस्थान स्थापित हैं।

 हिमालयन ब्रांड के लिए बनेगा लोगोः मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य के उत्पादों व सेवाओं के लिए एक अंब्रेला लोगो तैयार किए जाने के लिए गुणवत्ता एवं लागत (क्यूसीबीएस) के आधार पर एजेंसी के चयन पर सहमति दी है। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में पिछले साल अक्टूबर में उत्तराखंड हिमालयन ब्रांड की स्थापना के लिए एक बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक में राज्य के किसानों, समितियों, संगठनों, स्वयं सहायता समूहों तथा विभिन्न विभागों द्वारा उत्पादों-सेवाओं को एक ब्रांड के तहत लाए जाने के लिए एमएसई विभाग को प्रभावी कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गए थे। राज्य के उत्पादों- सेवाओं के लिए हिमालयन ब्रांड के लिए एक अंब्रेला लोगो तैयार किया जाएगा। यह लोगो हिमालयन ब्रांड के लिए उपयोग में लाया जाएगा।

——————————————————————-
प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत ने सुमाड़ी (खिर्सू) में पंथ्या दादा के स्मारक एवं मूर्ति निर्माण कार्य का शिलान्यास किया

प्रदेश के उच्च शिक्षा, दुग्ध, सहकारिता, प्रोटोकाॅल मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत ने आज सुमाड़ी (खिर्सू) में पंथ्या दादा के स्मारक एवं मूर्ति निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि एनआईटी सुमाड़ी को लगभग 24 करोड़ की धनराशि से पानी दिया जा रहा है, जिसका शीघ्र ही लोकार्पण किया जायेगा। कहा कि जो गांव ढिकाल पेयजल योजना से नहीं जुड़े हैं उन्हें एनआईटी को दिये जाने वाले पानी से जोड़ा जायेगा। वहीं एनआईटी को 18 करोड़ की धनराशि से बिजली दी जायेगी तथा साथ ही यहां पर दो हैलीपैड बनाये जायेंगे तथा सुमाड़ी से श्रीनगर तक डबल लेन रोड़ बनाई जायेगी। कहा कि लगभग 912 करोड़ रूपये की धनराशि से सुमाड़ी में एनआईटी बनेगा, जिसके लिए धनराशि आंवटित हो गयी है तथा काम शुरू हो गया है। इस तकनीकी महाविद्यालय में दो से तीन हजार विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण करेंगे, जिससे क्षेत्र का विकास होगा तथा पलायन भी रूकेगा। कहा कि लगभग 78 करोड़ की धनराशि से बनाये जा रहे एनआईटी श्रीनगर का कार्य इसी वर्ष पूरा कर लिया जायेगा, जिसके लिए सरकार द्वारा रेशम विभाग की लगभग 30 हेक्टर भूमि एनआईटी को दी गई है।
मा. मंत्री डाॅ. रावत ने कहा कि आॅल वेदर रोड़ बन गई है, जिससे श्रीनगर की यात्रा सुगम हो गई है। कहा कि श्रीनगर में भी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन वर्ष 2024 तक पहुंच जायेगी। वहीं श्रीनगर से हवाई सेवा भी शीघ्र ही शुरू हो जायेगी। उन्होंने उपजिलाधिकारी को एक माह में पंथ्या दादा स्मारक के लिए ऐसी भूमि चिन्ह्ति करने के निर्देश दिये, जो सड़क से लगी हुई हो, जिससे लाखों लोग वहां आकर उनके स्मारक के दर्शन कर सकें। कहा कि पंथ्या दादा की भव्य मूर्ति 06 फूट की बनाई जायेगी, जो जगह चिन्ह्ति होने के बाद 04 माह में बनकर तैयार हो जायेगी। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा 09 लोगों के स्मारक बनाये जा रहे हैं, जिनमें सुमाड़ी में पंथ्या दादा स्मारक तथा रणीहाट में माधो सिंह भण्डारी के नाम से रेलवे स्टेशन बनाया जायेगा तथा उनकी प्रतिमा लगाई जायेगी। वहीं हेमवती नन्दन बहुगुणा का स्मारक व म्यूजियम, बुवाखाल में शिवानन्द नौटियाल का स्मारक/गेट, प्रो. भक्तदर्शन स्मारक, टिंचरी माई स्मारक मंज्यूर थलीसैंण, चैथान में आनन्द सिंह गुसांई का स्मारक बनाया जायेगा। जबकि वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली स्मारक का शीघ्र ही लोकार्पण किया जायेगा। वहीं  मोलाराम तोमर की मूर्ति का अनावरण प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा 28 जनवरी, 2021 को कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि सुमाड़ी के लोगों द्वारा त्याग का परिचय देते हुए एनआईटी के के लिए अपनी लगभग 06 हजार नाली भूमि दान की गई। कहा कि पंथ्या दादा के साथ प्राण त्यागने वाली भद्रा काकी व कीर्ति भुल्ली की मूर्ति भी लगाई जायेंगी।
इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष सहकारिता संघ मातवर सिंह रावत, दर्जाधारी राज्यमंत्री अतर सिंह असवाल, भाजपा जिला अध्यक्ष संपत सिंह रावत, ग्राम प्रधान सत्यदेव बहुगुणा सहित प्रसिद्ध नाट्यकर्मी विमल बहुगुणा ने भी सम्बोधन किया।
इस मौके पर डीसीबी अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह रावत, विधायक प्रतिनिधि नितिन घिल्डियाल, अध्यक्ष भाजपा श्रीनगर गिरीश पैन्यूली, मंडल अध्यक्ष भाजपा रमेश मंदवाल, उपजिलाधिकारी श्रीनगर रविन्द्र बिष्ट, तहसीलदार सुनील राज सहित क्षेत्रीय जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी मौजूद थे।
———————————————————————————–
मुख्यसचिव ने सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर शपथ दिलायी।

मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश ने सोमवार को सचिवालय प्रांगण में सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर शपथ दिलायी। सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर शपथ दिलायी। सचिवालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर शपथ दिलायी। मुख्य सचिव ने कहा कि लोकतंत्र की सफलता के लिए आवश्यक है कि देश का प्रत्येक नागरिक अपने मत का प्रयोग करे। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग ने यह एक अच्छी परम्परा शुरू की है। इस शपथ का हर नागरिक को पालन करना चाहिए। मुख्य सचिव ने इस अवसर पर राज्य निर्वाचन आयोग की थीम एवं वार्षिक कैलेण्डर का भी विमोचन किया।
     मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सौजन्या ने बताया कि भारत

निर्वाचन आयोग द्वारा मतदाता दिवस के अवसर पर इलैक्ट्रॉनिक इलैक्टोरल फोटो पहचान पत्र ( Electronic Electoral Photo Voter Identity Card ) शुरू किया गया है। बताया कि इस इलैक्ट्रॉनिक इलैक्टोरल फोटो पहचान पत्र को डाउनलोड कर डिजिटल लॉकर जैसे माध्यमों में सुरक्षित रखा जा सकेगा।
     इस अवसर पर अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री एस.ए. मुरूगेशन भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.