सीएम धामी ने प्रधानमंत्री, पार्टीअध्यक्ष ,रक्षामंत्री एवं पर्यटनमंत्री से शिष्टाचार भेंट की।#राजभवन में 26 जून को अर्थराईटिस रोग पर सेमिनार#पशुपालन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन मंत्री ने संबंधित विभागों की समीक्षा बैठक ली।www.janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री से शिष्टाचार भेंट की।

जीएसटी क्षतिपूर्ति की अवधि बढ़ाने व राष्ट्रीय फार्मास्यूटिकल शिक्षा एवं शोध संस्थान की राज्य में शाखा स्थापित किये जाने का अनुरोध किया

पिथौरागढ़ एयरस्ट्रिप से हवाई सेवाओं के शीघ्र संचालन व मानस खण्ड मंदिर माला मिशन की स्वीकृति का भी किया अनुरोध

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से शिष्टाचार भेंट की। मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड के विकास के लिए प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन और केंद्र सरकार के सहयोग के लिये देवभूमि उत्तराखण्ड की जनता की ओर से आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से उत्तराखण्ड के लिये जीएसटी क्षतिपूर्ति की अवधि को जून, 2022 के आगे बनाए रखने, उत्तराखण्ड में राष्ट्रीय फार्मास्यूटिकल शिक्षा एवं शोध संस्थान की एक शाखा स्थापित किये जाने, कुमांऊ मण्डल के पौराणिक मन्दिरों को जोड़े जाने के उद्देश्य से “मानस खण्ड मन्दिर माला मिशन“ को स्वीकृति दिये जाने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने पिथौरागढ़ एयरस्ट्रिप से हवाई सेवाओं के शीघ्र एवं सुचारू संचालन के लिये संबंधित को निर्देशित किये जाने के साथ ही टीएचडीसी इण्डिया लि0 की इक्विटी शेयर धारिता में उत्तर प्रदेश के 25 प्रतिशत अंशधारिता को उत्तराखण्ड राज्य को स्थानान्तरित करने में केंद्र से सहयोग का भी अनुरोध किया।
बीजेपी अध्यक्ष से भेंट-मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जे पी नड्डा जी से शिष्टाचार भेंट की।

रक्षामंत्री से भेंट- मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को नई दिल्ली में केंद्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह से शिष्टाचार भेंट की। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय रक्षा मंत्री को बताया कि उनके द्वारा भारत सरकार की “अग्निपथ योजना के संबंध में 20 जून 2022 को उत्तराखण्ड के समस्त जनपदों के पूर्व सैन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से एक संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया । संवाद कार्यक्रम के दौरान समस्त पूर्व सैन्य अधिकारियों द्वारा भारत सरकार की अग्निपथ योजना को वर्तमान वैश्विक परिप्रेक्ष्य में सैन्य आधुनिकीकरण, देश की सुरक्षा एवं युवाओं के उज्जवल भविष्य के अनुकूल बताया गया। साथ ही संवाद कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले सभी पूर्व सैन्य अधिकारियों द्वारा “अग्निपथ योजना“ के संबंध में अपने-अपने सुझाव / विचार भी व्यक्त किये गये। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह को पूर्व सैन्य अधिकारियों द्वारा दिये गये सुझाव / विचार संज्ञानार्थ सौंपे।

पर्यटन मंत्री से भेंट-मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य में एक अतिरिक्त सैनिक स्कूल जखोली जनपद रूद्रप्रयाग में खोले जाने की स्वीकृति प्रदान की गयी थी। सैनिक स्कूल की स्थापना हेतु उत्तराखण्ड राज्य द्वारा अवस्थापना संबंधी सुविधायें उपलब्ध करानी थी। मुख्यमंत्री ने सैनिक स्कूल की स्थापना के लिए केंद्रीय रक्षा मंत्री से राज्य में सीमित संसाधन देखते हुए भारत सरकार से अवस्थापना विकास हेतु वित्तीय सहायता प्रदान किये जाने का अनुरोध किया।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केंद्रीय पर्यटन मंत्री श्री जी.किशन रेड्डी से शिष्टाचार भेंट की। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री से उत्तराखण्ड राज्य के कुमाऊं मण्डल में एक विरासत सर्किट विकसित करने और गढवाल मण्डल में ऋषिकेश को एक अन्तर्राष्ट्रीय / आईकोनिक पर्यटक गन्तव्य के रूप में विकसित किये जाने के लिए भारत सरकार से विशेष पैकेज के रूप में वित्त पोषण हेतु सैद्धान्तिक स्वीकृति प्रदान करने का अनुरोध किया।

********

दिनांक 26 जून को राजभवन में अर्थराइटिस रोग से संबंधित बीमारियों की रोकथाम हेतु सेमिनार आयोजित किया जा रहा है। इस सेमिनार में मुख्य वक्ता के रूप में प्रो0 ले. जनरल वेद प्रकाश चतुर्वेदी, पीवीएसएम, वीएसएम, एमडी मेडिसन, डीएम रियूमैटोलॉजिस्ट एवं इम्युयोनीलॉजिस्ट सर गंगाराम हॉस्पिटल नई दिल्ली होंगे। इसके अलावा विशेषज्ञ वक्ताओं के रूप में डॉ0 बी.के.एस. संजय ऑर्थोपैडिक, डॉ0 वर्षा सेक्सेना, आयुर्वेद बी.ए.एम.एस एवं श्रीमती नेहल शाह, पीएचडी, पीटी, प्राचार्य द्वारा व्याख्यान दिया जायेगा।

********

पशुपालन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन मंत्री श्री सौरभ बहुगुणा ने विधानसभा स्थित अपने कक्ष में पशुपालन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन विभाग से संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

मंत्री ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में पशुपालन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन के विकास के कार्यों पर बल देते हुए कहा कि हमें स्थानीय महिला समूहों एवं युवाओं को ध्यान में रखकर योजनाएं बनानी होंगी, साथ ही उन्होंने कहा कि ऊधमसिंह नगर में निवास कर रहे बंगाली समाज के लोगों को मत्स्य पालन से जोड़ने की कार्ययोजना पर कार्य किया जाए।

मंत्री ने ऊधमसिंह नगर स्थित बरी क्षेत्र में विभाग द्वारा 24-25 एकड़ क्षेत्र में निर्मित होने वाले तालाब की जानकारी ली तथा प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी इस तरह के कार्यों को कराए जाने पर जोर दिया।

मंत्री ने कहा कि ऊधमसिंह नगर और हरिद्वार जिले में मत्स्य पालन की अपार सम्भावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं और महिलाओं को मत्स्य विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं से जोड़ा जाए, जिससे पलायन और बेरोजगारी पर अंकुश लगाया जा सके।

मंत्री ने कहा कि विभाग द्वारा प्रदेश में जल्द ही पीपीपी मोड पर आंचल कैफे लांच किए जाएंगे, जिससे कि युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि सितम्बर से विभिन्न यात्रा पड़ावों पर भी विभाग आंचल दूध, कुल्फी तथा आइस्क्रीम आदि उत्पादों की बिक्री हेतु आंचल क्योस खोलने की तैयारी की जा रही है।

मंत्री ने कहा कि ऊधमसिंह नगर में 2900 महिला समूह हैं जो कि कोऑपरेटिव में रजिस्टर्ड हैं, जिन्हें पशुपालन, दुग्ध व्यवसाय तथा मत्स्य पालन से जोड़ने का काम पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर किया जाएगा।

बैठक में सचिव पशुपालन श्री बी॰वी॰आर॰सी॰ पुरूषोत्तम, उपनिदेशक मत्स्य श्री अनिल कुमार, संयुक्त निदेशक दुग्ध विकास श्री जयदीप अरोड़ा तथा अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.