सचिव मुख्यमंत्री व आयुक्त राजीव रौतेला ने डेंगू,मलेरिया से युद्ध स्तर पर कार्य करने के दिए निर्देश।पढिएJanswr.com में.

समाचारप्रस्तुति-नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

हल्द्वानी – सूचना विभाग से प्राप्त जानकारी के अनसार सचिव मुख्यमंत्री एवं आयुक्त श्री राजीव रौतेला ने क्षेत्र मे फैल रहे वाइरल,मलेरिया, डेंगू बीमारी को गम्भीरता से लेते हुये स्वास्थ्य महकमे व नगर निगम को किया तलब। उन्होने स्वास्थ महकमे व नगर निगम की सफाई व्यवस्था पर नाराजगी व्यक्त करते हुये विभागों द्वारा किये जा रहे प्रयासों को नाकाफी बताया व युद्ध स्तर पर कार्य करने के निर्देश दिये।
सचिव मुख्यमंत्री श्री रौतेला ने क्षेत्र में वायरल, मलेरिया, डेंगू आदि बिमारियों को रोकने के सम्बन्ध में रविवार को कैम्प कार्यालय हल्द्वानी में आपातकालीन बैठक बुलाई। उन्होने स्वास्थ विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे वायरल, मलेरिया, डेगू के प्रति क्षेत्रों मे जाकर जनजागरूकता करें साथ ही पम्पलेट, पोस्टर एवं फ्लैक्सी के माध्यम से डेंगू, मलेरिया के लक्षण एवं बचाव का प्रचार प्रसार करें ताकि जनता जागरूक हो तथा जनता के बीच मे फैली भ्रान्ति दूर हो। श्री रौतेला ने कहा कि बुखार को लेकर लोंगोें में तरह -तरह की भ्रान्तियां है जनमानस को यह बताया जाए कि हर बुखार डेंगू नही होता, डंेगू की पुष्टि एलाइजा परीक्षण के बाद ही होती है ऐसे मे बुखार आने पर लोग घबरायें नही परीक्षण के उपरान्त ही सम्बन्धित बुखार का ईलाज हो साथ ही यह बताया जाए कि डेंगू लाइलाज नही है। उन्होने कहा कि डेंगू के लक्षण एवं बचाव के सम्बन्ध में डोर टू डोर जाकर आशा कार्यकत्री एवं एएनएम को लोगो को जानकारी देने के लिए भेजा जाए इसके साथ ही घरों,विद्यालयो, सरकारी गैर सरकारी दफ्तरों मे लगाई गयी पानी की टंकियांे व कूलरोें की सफाई किये जाने के लिए विशेष अभियान चलाया जाए। उन्होने कहा कि डेगू को फैलने से रोकने के लिए लार्वा का विनिष्टिकरण आवश्यक है। उन्होने नगर स्वास्थ अधिकारी डा0 मनोज काण्डपाल को निर्देश दिये कि प्रभावित क्षेत्रों के अलावा पूरे नगर निगम क्षेत्रों मे विशेष अभियान चलाकर फागिंग कराई जाए साथ ही कूडे के स्थानों पर दवा छिडकाव करायी जाए। उन्होने जिला मलेरिया अधिकारी को निर्देश दिये कि वह प्रभावित क्षेत्रों के घरोें के भीतर स्प्रे करे व क्षेत्र में नगर निगम के साथ मिलकर फागिंग कराना सुनिश्चित करें।
सचिव मुख्यमंत्री श्री रौतेला ने चिकित्साधिकारियों को निर्देश कि वे चिकित्सालयों में आ रहे वायरल, मलेरिया, डेंगू मरीजों की नियमित जांच करें व दवा वितरण करें साथ ही उन्होने एलाइजा किट व पर्याप्त दवाये रखने के निर्देश दिये। पूछे जाने पर प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक बेस द्वारा बताया गया कि चिकित्सालय के दो लैब टैक्निशियनों को डेंगू होने के कारण जांच में परेशानी आ रही है जिस पर सचिव मुख्यमंत्री ने मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 भारती राणा को तत्काल दो लैब टैक्निशियन बेस मे तैनात करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि मुख्य चिकित्साधिकारी प्रतिदिन एलाइजा जांच एव अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां मीडिया को उपलब्ध करायेंगे।

बैठक में प्राचार्य मेडिकल कालेज डा.सीपी भैसोडा,चिकित्सा अधीक्षक एसटीएच डा.अरुण जोशी,प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक बेस डा.हरीशलाल,सिटि मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह,जिला मलेरिया अधिकारी अर्जुनसिंह राणा,डा.विनीता जोशी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.