श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुले। शुक्रवार  प्रातः 6.25 मिनट पर विधि-विधान से खुले कपाट। #राज्यपाल ने मिस उत्तराखण्ड-2022 ऐश्वर्या बिष्ट ने मुलाकात की।#मुख्यमंत्री ने घोङाखाल (नैनीताल) में आयोजित श्री गोल्ज्यू  संदेश यात्रा के समापन कार्यक्रम मे प्रतिभाग किया।

  • श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुले। शुक्रवार  प्रातः 6.25 मिनट पर विधि-विधान से खुले कपाट।
  • 10 हजार  से अधिक श्रद्धालु कपाट खुलने के गवाह बने।
  • मंदिर को भब्य रूप से फूलों से सजाया गया।
  • सेना के मराठा रेजीमेन्ट के बैंड की भक्तिमय स्वर लहरियों से केदारपुरी गुंजायमान रही

 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम से लोककल्याण हेतु  पहला रूद्राभिषेक हुआ।

  • प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सहित पर्यटन- धर्मस्व संस्कृति  मंत्री सतपाल महाराज ने श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं दी।
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के साक्षी बने।
  • शनिवार को भकुंट भैरवनाथ जी की पूजा के पश्चात श्री केदारनाथ धाम की आरती शुरू होगी।

श्री केदारनाथ धाम के कपाट आज बाबा केदारनाथ की जय उदघोष के साथ शुक्रवार वृष लग्न में  प्रातः 6 बजकर 25 मिनट पर खुल गये है।  इस अवसर पर मंदिर को भब्य रूप से नौ क्विंटल  फूलों से सजाया गया था। सेना की मराठा रेजीमेंट के बैंड की भक्तिमय धुनों के साथ देश-विदेश से आये 10  हजार से अधिक श्रद्धालुजन कपाट खुलने के गवाह बने। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कपाट खुलने के साक्षी बने।
आज प्रात साढ़े चार बजे से श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति ने कपाटोद्घाटन की तैयारी शुरू कर दी थी। श्री केदारनाथ -केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय सहित धाम के रावल भीमाशंकर लिंग,  केदारनाथ धाम के पुजारी टी गंगाधर लिंग, आयुक्त गढवाल सुशील कुमार, जिलाधिकारी मयूर दीक्षित सहित मंदिर समिति मुख्य कार्याधिकारी बी.डी. सिंह, वेदपाठी आचार्यगणों ने मंदिर के पूरब द्वार से मंदिर के सभामंडप में प्रवेश किया। पांच बजे से मंदिर के गर्भगृह के  द्वार का पूजन शुरू हुआ। श्री केदारनाथ धाम के रक्षक क्षेत्रपाल श्री भकुंट भैरव के आव्हान के साथ ठीक प्रातः6 बजकर 25 मिनट पर श्री केदारनाथ धाम के  मुख्य द्वार के कपाट खोल दिये गये।
कपाट खुलते ही श्री केदारनाथ भगवान के स्वयंभू शिवलिंग को समाधि रूप से जागृत किया। कुछ ही पल बाद बाबा के निर्वाण दर्शन हुए  कुछ अंतराल में बाबा का श्रृंगार दर्शन  शुरू हुए तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नाम से पहला रूद्राभिषेक किया गया।
इस अवसर पर मंदिर को विभिन्न प्रकार के फूलों से सजाया गया तथा समस्त केदारनाथ धाम में मराठा रेजीमेन्ट के बैंड की भक्तिमय धुनों से वातावरण गुंजायमान हो रहा था। दानीदाताओं ने भंडारे आयोजित किये हेली सेवा एवं पैदल मार्ग से श्रद्धालुओं का आने का सिलसिला जारी है। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सहित पर्यटन धर्मस्व संस्कति मंत्री सतपाल महाराज ने श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के अवसर पर देश-विदेश के तीर्थयात्रियों को शुभकामनाएं दी है कहा कि श्री केदारनाथ भगवान की कृपा जनमानस पर बनी रहे। प्रदेश के मुख्यमंत्री  पष्कर सिंह धामी इस अवसर पर विशेष रूप से केदारनाथ धाम दर्शन को पहुंचे है।
उल्लेखनीय है कि कपाट खुलने की प्रक्रिया के अंतर्गत श्री केदारनाथ  भगवान की पंचमुखी डोली 2 मई को शीतकालीन गद्दीस्थल श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से पैदल मार्ग से चलकर गुप्तकाशी,फाटा, गौरीकुंड होते हुए 5 मई  शाम को श्री केदारनाथ धाम पहुंची थी आज 6 मई को  प्रातः श्री केदारनाथ धाम के कपाट यात्राकाल ग्रीष्मकाल 6 माह के लिए खुल गये। शनिवार को भैरवनाथ जी की पूजा के पश्चात भगवान केदारनाथ जी की आरती शुरू हो जायेगी। श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के अवसर पर श्री केदारनाथ मंदिर परिसर भक्तिमय भजनों से गुंजायमान हो रहा था।
इस अवसर पर  प़कज मोदी  पूर्व विधायक मनोज रावत, मंदिर समिति सदस्य क्रमश श्री निवास पोस्ती, आशुतोष डिमरी, सज्जन जिंदल  वीरेंद्र असवाल अतिरिक्त मुख्य सचिव आनंद वर्धन, सचिव धर्मस्व हरिचंद सेमवाल, केदार सभा अध्यक्ष विनोद शुक्ला, पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल,  एसडीएम जितेंद्र  वर्मा, कृष्णनाथ गोस्वामी सहित मंदिर समिति प्रभारी अधिकारी आर. सी. तिवारी, गिरीश देवली, आरके नौटियाल, आचार्य ओंकार शुक्ला, यदुवीर पुष्पवान, प्रदीप सेमवाल, अरविंद शुक्ला  डा. हरीश गौड़, अमित शुक्ला, विपिन तिवारी राजकुमार तिवारी आदि मौजूद रहे।

*******

 

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) से शुक्रवार को राजभवन में मिस उत्तराखण्ड-2022 ऐश्वर्या बिष्ट ने मुलाकात की। इस दौरान मिस उत्तराखण्ड-2022 की प्रथम रनरअप हिमानी रावत, द्वितीय रनरअप मानसी ग्रेवाल, तृतीय रनरअप तमन्ना शाही व चतुर्थ रनरअप राजश्री डोभाल भी उपस्थित रहीं। इस दौरान सिनमिट कम्यूनिकेशन के निदेशक दिलीप सिंधी, राजीव मित्तल भी उपस्थित रहे।
राज्यपाल ने मिस उत्तराखण्ड सहित सभी प्रतिभागियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड की बालिकाओं व महिलाओं से वह बेहद प्रभावित हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के मंच उन्हें अपनी प्रतिभाओं को निखारने व स्वप्रेरणा के लिए आगे लाते हैं। राज्यपाल ने कहा कि उत्तराखण्ड की महिलाओं में चुनौती को स्वीकार करने व उससे निपटने का एक अलग ही जज्बा है। वे उत्तराखण्ड की दिव्यता की प्रतीक हैं। राज्यपाल ने कहा कि राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति दिलाने में उत्तराखण्ड की महिलाओं की बड़ी भूमिका है। उन्होंने ऐश्वर्या बिष्ट को फैमिना मिस इंडिया के फाइनल में चयन होने व प्रतियोगिता में विजयी होने हेतु अपनी शुभकामनाएं दी।
निदेशक श्री दिलीप सिंधी ने बताया कि मिस एवं मिस्टर उत्तराखण्ड प्रतियोगिता में यहाँ के युवाओं एवं युवतियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलता है। उन्होंने अवगत कराया कि मिस उत्तराखण्ड ऐश्वर्या बिष्ट फैमिना मिस इंडिया की फाइनलिस्ट भी चुनी गई हैं जो प्रतियोगिता में उत्तराखण्ड का प्रतिनिधित्व करेंगी।
राज्यपाल ने सभी को केदारनाथ धाम की प्रतिकृति भेंट स्वरूप प्रदान की। इस दौरान प्रथम महिला श्रीमती गुरमीत कौर व शिवांगी शर्मा भी उपस्थित रही।

*******

मुख्यमंत्री  श्री पुष्कर सिंह धामी ने घोङाखाल (नैनीताल) में आयोजित श्री गोल्ज्यू  संदेश यात्रा के समापन कार्यक्रम मे प्रतिभाग किया। उन्होंने पूजा अर्चना करते हुए  गोल्य्यू महाराज  से प्रदेशवासियों की खुशहाली के लिए प्रार्थना की। मुख्यमंत्री  श्री धामी ने गोल्ज्यू महाराज मंदिर में प्रार्थना की और भक्तों के साथ प्रसाद ग्रहण किया।
इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष बेला तोलिया, विधायक भीमताल राम सिंह कैड़ा, सरिता आर्य, कुमाऊं  डीआईजी नीलेश आनंद भरणे, जिलाधिकारी  सिह गर्ब्याल ,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट, भाजपा के जिला अध्यक्ष प्रदीप बिष्ट,गोल्ज्यू मंदिर हीरानगर के संस्था अध्यक्ष गणेश मार्तोलिया, सचिव विजय भट्ट पूर्व पालिका अध्यक्ष मुकेश जोशी, नैनीताल यात्रा संयोजक नीरज जोशी, समेत बङी संख्या में श्रद्धालु और जनसामान्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.