विधायक गण एवं जनप्रतिनिधि जनता के साथ निरंतर संवाद बनाए रखें- मुख्यमंत्री#18-45आयु वर्ग के टीकाकरण में टीका उपलब्ध न होने से कुछ विलंब से होगा प्रारंभ#जिलाधिकारी पौड़ी गढवाल ने पौड़ी में 18-45 आयुवर्ग के टीकाकरण स्थल का निरीक्षण किया। पढिए Janswar.com में

-अरुणाभ रतूड़ी
विधायक गण एवं जनप्रतिनिधि जनता के साथ निरंतर संवाद बनाए रखें- मुख्यमंत्री
 

                    मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री कैंप कार्यालय में देहरादून के सभी विधायक गणों के साथ कोविड-19 की रोकथाम के संबंध में महत्वपूर्ण बैठक ली। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि संकट के इस दौर में सभी विधायक गण, जनप्रतिनिधि जनता के साथ निरंतर संवाद बनाए रखें। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनप्रतिनिधि आम जनता को कोविड वैक्सीनेशन के लिए अधिक से अधिक प्रेरित करें। इसके साथ ही मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने बताया कि अधिकारियों को निर्देश दिए हैं, कि वे जनप्रतिनिधियों से समन्वय बनाते हुए कोरोना के खिलाफ इस जंग को मजबूती से लड़ने में सहयोग लें। मुख्यमंत्री कैंप कार्यालय में आयोजित इस बैठक में कैबिनेट मंत्री श्री गणेश जोशी, कैंट विधायक श्री हरबंस कपूर, राजपुर विधायक श्री खजान दास, धर्मपुर विधायक श्री विनोद चमोली के अलावा देहरादून में महापौर श्री सुनील उनियाल गामा मौजूद रहे।

———————————————————————
उत्तराखंड में कोविड-19 संबंधित व्यवस्थाओं के बारे में स्वास्थ्य सचिव श्री अमित नेगी ने सचिवालय स्थित मीडिया सेंटर में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए जानकारी दी कि पिछले कई दिनों से लगातार सरकार द्वारा ऑक्सीजन बेड के लिए इंतजाम किए गए हैं। इसके साथ ही सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी ने यह भी बताया कि प्रदेश में 18 वर्ष से 45 वर्ष तक की आयु के लोगों को कोविड वैक्सीन हेतु 122108 डोज कोविशील्ड एवं 42 हजार 370 डोज़ कोवैक्सीन की आपूर्ति जल्द भारत सरकार द्वारा की जाएगी। हम वैक्सीन की निर्माता कम्पनियों से लगातार सम्पर्क में हैं। उन्हें डिमांड भी दे दी गई है। हम भारत सरकार से भी सम्पर्क में हैं। प्रदेश में 18 साल से 45 आयु के लोगों का वैक्सीनेशन की निश्चित डेट बताना अभी मुश्किल है, परंतु यह एक सप्ताह बाद ही शुरू हो पाएगा।
सचिव अमित नेगी ने यह भी जानकारी दी कि सरकार द्वारा को आम जनता तक पहुंचाने के लिए एक पोर्टल भी बनाया गया है जिसको कंट्रोल रूम के माध्यम से लगातार मॉनिटर भी किया जा रहा है। इसके साथ ही अमित नेगी ने बताया कि ईसंजीवनी पोर्टल के माध्यम से प्रदेश के दूरस्थ इलाकों में रहने वाले लोगों को लाभ दिया जा रहा है। राज्य सरकार द्वारा इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, एम्स एवं सेवानिवृत्त चिकित्सकों से भी मदद ली जा रही है। उन्होंने बताया कि कोविड हेल्पलाइन 104 पर रोजाना 2000 फोन को प्राप्त किए जा रहे हैं। राज्य सरकार के सामने चुनौतियां बहुत हैं लेकिन ऑक्सिजन सपोर्टेड बेड लगातार बढ़ाए जा रहे हैं। उन्होंने यह भी बताया कि दवाओं एवं मेडिकल इक्विपमेंट्स की कालाबाजारी रोकने हेतु शासन और पुलिस के स्तर पर नोडल अधिकारीयों की तैनाती की गई है।
—————————————————-

जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने आज जनपद में 18 वर्ष से 44 आयु वर्ग के लोगों के लिए कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम के तहत जनपद मुख्यालय के अंतर्गत चिन्हित राजकीय इण्टर कालेज पौड़ी, डीएवी इंटर कॉलेज पौड़ी तथा मेसमोर इण्टर कॉलेज पौड़ी में टीकाकरण स्थल का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी एवं अपर मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि टीकाकरण स्थल में 03 से 04 टीमें गठित कर वैक्सीनेशन कार्य की जिम्मेदारी देना सुनिश्चित करें। जिससे आम जनमानस को किसी भी प्रकार की परेशानियों का सामना ना करना पड़े। साथ ही उन्होंने कहा की हर कैम्प पर मेडिकल ऑफिसर भी तैनात करें। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि टीकाकरण स्थल पर लोगों के लिए बैठने, पेयजल तथा बारिश होने पर कमरों में बैठने के लिए पूर्व में ही समुचित व्यवस्था करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी डॉ0 जोगदण्डे ने निरीक्षण के दौरान टीकाकरण स्थल में बने प्रतीक्षा कक्ष, वैक्सीनेशन तथा ऑब्जरवेशन कक्षों का जायजा देते हुए संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि टीकाकरण लाभार्थियों के लिए पूर्व में ही समुचित व्यवस्था करना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने कहा कि टीकाकरण स्थल में आने वाले लोगों को सामाजिक दूरी, मास्क तथा सैनिटाइजर का अनुपालन करवाएं। कहा की जनपद में कैंप के माध्यम से वैक्सीनेशन का संचालन करवाना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि वैक्सीनेशन टीकाकरण का प्रयास दो तरह से किया जा रहा है। जिसमें रजिस्ट्रेशन करने तथा टीकाकरण स्थल पर पंजीकृत किया जाएगा। जिससे लोगों को परेशानियों का सामना ना करना पड़ेगा। साथ ही जिलाधिकारी ने टीकाकरण स्थल पर लोगों के लिए बैठने, पानी तथा परेशानी होने पर मेडिकल टीम को उपस्थित रहने के निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान के तहत 45 साल से लेकर अधिक उम्र वाले व्यक्तियों का वैक्सीनेशन कार्यक्रम प्रगति पर है, जिसमें काफी बेहतर प्रगति हो रही है। कहा कि इस अभियान के तहत जनपद में जितने भी व्यक्ति हैं उनका वैक्सीनेशन कार्य प्रगति पर है। कहा कि 18 साल से 44 आयुवर्ग के लोगों के लिए भी टीकाकरण स्थलों को चिन्हित कर तैयारियां की जा रही है।
इस अवसर पर उपजिलाधिकारी एस एस राणा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनोज शर्मा, एसीएमओ डॉ. जीएस तालियान, तहसीलदार एच एम खंडूड़ी, पीडब्लूडी से जी एस कौण्डल, आलोक रावत आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.