रूस की सुरक्षा परिषद के सचिव श्री निकोलोई पेत्रुशेव ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की #आयकर विभाग का ई-फाइलिंग पोर्टल – अपडेट ।जनस्वर डॉट कॉम

-अरुणाभ रतूड़ी

रूस की सुरक्षा परिषद के सचिव श्री निकोलोई पेत्रुशेव ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की

 सितम्बर,08, 2021

प्रधानमंत्री कार्यालय से प्राप्त सूचना के अनुसार    रूस की सुरक्षा परिषद के सचिव महामहिम श्री निकोलोई पेत्रुशेव ने आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की।

श्री पेत्रुशेव ने प्रधानमंत्री को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और विदेश मंत्री के साथ हुए अपने सार्थक विचार विमर्श की जानकारी दी तथा भारत के साथ ‘विशेष और विशिष्ट रणनीतिक साझेदारी’ को और ज्यादा प्रगाढ़ बनाने के प्रति रूस की दृढ़ प्रतिबद्धता व्यक्त की। प्रधानमंत्री ने क्षेत्र में हो रहे बड़े बदलावों के समय सचिव पेत्रुशेव के नेतृत्व में रूसी प्रतिनिधिमंडल के भारत की यात्रा पर आने की सराहना की।

उन्होंने सचिव पेत्रुशेव से कहा कि भारत-रूस साझेदारी पर निरंतर ध्यान देने के लिए वह राष्ट्रपति पुतिन को उनकी ओर से धन्यवाद दें। उन्होंने यह भी कहा कि वह निकट भविष्य में द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के लिए राष्ट्रपति पुतिन का भारत में स्वागत करने को उत्सुक हैं।

—————————————————-आयकर विभाग का ई-फाइलिंग पोर्टल – अपडेट

आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल (www.incometax.gov.in) का शुभारंभ 7 जून, 2021 को किया गया था। तब से कई करदाताओं और पेशेवरों ने इस पोर्टल में होने वाली गड़बड़ियों और कठिनाइयों के बारे में सूचना दी है। वित्त मंत्रालय नियमित रूप से इंफोसिस लिमिटेड, जोकि इस परियोजना के लिए प्रबंधित सेवा प्रदाता है, के साथ इन समस्याओं के समाधान की निगरानी कर रहा है।

कई तकनीकी समस्याओं का लगातार समाधान किया जा रहा है और इस पोर्टल पर विभिन्न किस्म की फाइलिंग से जुड़े आंकड़ों में एक सकारात्मक रुझान दिखाई दिया है। सितंबर, 2021 में 15.55 लाख से अधिक के दैनिक औसत के साथ 7 सितंबर, 2021 तक 8.83 करोड़ से अधिक करदाताओं ने इस पोर्टल पर लॉग इन किया है। सितंबर, 2021 में प्रतिदिन की आयकर रिटर्न (आईटीआर) फाइलिंग बढ़कर 3.2 लाख हो गई है और आकलित वर्ष (एवाई) 2021-22 के लिए 1.19 करोड़ आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल किए गए हैं। इनमें से 76.2 लाख से अधिक करदाताओं ने रिटर्न दाखिल करने के लिए इस पोर्टल की ऑनलाइन सुविधा का इस्तेमाल किया है।

यहां एक उत्साहजनक तथ्य यह है कि 94.88 लाख से अधिक आईटीआर ई-सत्यापित भी किए गए हैं, जोकि केंद्रीकृत निपटान केंद्र (सेंट्रलाइज्ड प्रोसेसिंग सेंटर) द्वारा निपटारे (प्रोसेसिंग) के लिए आवश्यक है। इसमें से 7.07 लाख आईटीआर का निपटारा किया जा चुका है।

आयकर विभाग द्वारा फेसलेस असेसमेंट/अपील/पेनल्टी कार्यवाही के तहत जारी किए गए 8.74 लाख से अधिक नोटिस को करदाता देख चुके हैं। इन नोटिस पर 2.61 लाख से अधिक प्रतिक्रियाएं दर्ज की गई हैं। ई-कार्यवाही के लिए औसतन 8,285 नोटिस जारी किए जा रहे हैं और सितंबर, 2021 में दैनिक आधार पर 5,889 प्रतिक्रियाएं दर्ज की जा रही हैं।

7.86 लाख टीडीएस विवरण, ट्रस्टों/संस्थानों के पंजीकरण के लिए 1.03 लाख फॉर्म -10ए, बकाया वेतन के लिए 0.87 लाख फॉर्म-10ई, अपील के लिए 0.10 लाख फॉर्म -35 सहित कुल 10.60 लाख से अधिक वैधानिक फॉर्म जमा किए गए हैं।

कुल 66.44 लाख करदाताओं द्वारा आधार- पैन को जोड़ा गया है और 14.59 लाख से अधिक ई-पैन आवंटित किए गए हैं। सितंबर, 2021 में प्रतिदिन 0.50 लाख से अधिक करदाताओं द्वारा इन दोनों सुविधाओं का लाभ उठाया जा रहा है।

एक फिर से यह दोहराया जाता है कि करदाताओं को सुगम फाइलिंग का एक सुखद अनुभव प्रदान करने के उद्देश्य से आयकर विभाग इंफोसिस के साथ लगातार संपर्क में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.