राज्यपाल से राजभवन में श्रीमती आराधना जौहरी ने मुलाकात की# सिंचाई विभाग द्वारा प्रदेश के प्रत्येक जनपद में बाढ़ नियंत्रण कक्ष तथा देहरादून में केन्द्रीय बाढ़ नियंत्रण केन्द्र की स्थापना की गयी है# राज्य में 07 जुलाई से 11 जुलाई तक मौसम सूचना -www.janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

राज्यपाल से से राजभवन में श्रीमती आराधना जौहरी ने मुलाकात की।

 

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) से राजभवन में श्रीमती आराधना जौहरी ने मुलाकात की। आराधना जौहरी पूर्व आईएएस अधिकारी हैं और उन्होंने उत्तराखण्ड, उत्तरप्रदेश के अलावा केन्द्र में अपनी सेवाएं दी हैं। इस दौरान उन्होंने राज्यपाल को स्वलिखित पुस्तक ‘‘BEYOND THE MISTY VEIL: Temple Tales of Uttarakhand’’ भेंट की। इस पुस्तक में उनके द्वारा उत्तराखण्ड के अद्वितीय मंदिरों एवं उनके इतिहास के बारे में लिखा गया है।
राज्यपाल ने पुस्तक की प्रशंसा करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड देवभूमि है और देवभूमि के मंदिरों के बारे में इतने विस्तार से लिखने और उनकी जानकारी लोगों तक पंहुचाना बेहद सराहनीय पहल है। उन्होंने कहा कि पुस्तक में उत्तराखण्ड के लगभग प्रत्येक मंदिर की विस्तृत जानकारी दी गयी है इसे प्रत्येक उत्तराखंडी को पढ़ना चाहिए। इससे हमें अपने आत्म मूल्य के साथ-साथ उत्तराखण्ड की धरोहर, इतिहास और संस्कृति के बारे में जानने का अवसर मिलेगा।

******

सिंचाई विभाग के अन्तर्गत वर्ष 2022 मानसून काल में प्रत्येक जनपद में बाढ़ नियंत्रण कक्ष तथा देहरादून में केन्द्रीय बाढ़ नियंत्रण केन्द्र की स्थापना की गयी है। सिंचाई विभाग द्वारा 23 स्थानों पर नदियां तथा 14 स्थानों पर बैराज / डैम पर जलस्तर तथा डिस्चार्ज की निगरानी की जा रही है। सिंचाई विभाग द्वारा विभिन्न जिलों में 113 राजस्व बाढ़ चोकियों स्थापित की गयी है, बाढ़ चौकियों के माध्यम से ग्रामीणों को चेतावनी पहुंचाने की व्यवस्था की जाती है। इसके अतिरिक्त सम्बन्धित कर्मचारियों के पास ग्राम प्रधानों के मो० नम्बर व जनप्रतिनिधियों मो० नम्बर से आपदा स्थिति में तत्काल सूचना पहुॅचाई जाती है।

1. दिनांक 04.07.2022 को जनपद बागेश्वर के विकासखण्ड कपकोट के ग्राम कुँवारी में शम्भू नदी पर भू-स्खलन के कारण मलवा आ गया था, जिस कारण प्राकृतिक झील का निर्माण हो गया था। जो की 80 मीटर लम्बाई एवं 58 मीटर चौड़ाई में थी। आज दिनांक (07.07.2022 तक झील से पानी के निकासी हेतु सिंचाई विभाग द्वारा 12 मीटर चौड़ाई में चैनल निर्माण कर दिया गया है। जिससे की 1050 क्यूसेक पानी का निकास हो रहा है। इसके अलावा अधिकारियों द्वारा झील पर नियमित निगरानी भी रखी जा रही है, अभी तक स्थिति खतरे से बाहर है।

2. इटरना – कालमन – कुखई मोटर मार्ग की खुदाई पी०एम०जी०एस०वाई०, खण्ड नरेन्द्रनगर द्वारा कराई जा रही थी। जिसका मलबा जाखन नदी पर सूर्यधार बैराज से 03 कि०मी० ऊपर की ओर प्राकृतिक झील का निर्माण हो गया था। सिंचाई खण्ड देहरादून एवं पी०एम०जी०एस०वाई० खण्ड नरेन्द्रनगर के अधिकारियों द्वारा स्थलीय निरीक्षण किया गया। आज दिनांक 07.07.2022 तक मानवीय संसाधनों द्वारा झील के मुख को 01 मीटर गहराई तक खोल दिया गया है, प्राकृतिक झील में बड़े-बड़े बोल्डर होने के कारण इसे मजदूरों द्वारा हटाना सम्भव नहीं है। उक्त स्थल पर वन भूमि होने के कारण पोकलेन मशीन / जे०सी०बी० लाना सम्भव नहीं है, जिस हेतु सम्बन्धित विभागों से अनुमति लेने का प्रयास किया जा रहा है।

07 जुलाई से 11 जुलाई तक मौसम सूचना

मौसम विभाग के दिनाँक 07 जुलाई 2022 की जारी मौसम सूचना/मौसम पूर्वानुमान में आज से दिनाँक 07 जुलाई को यलो अलर्ट, दिनाँक 08 व 09 जुलाई के लिए ऑरेंज अलर्ट,दिनाँक 10जुलाई को यलो तथा दिनाँक 11जुलाई को ग्रीन अलर्ट घोषित किया है।

मौसम विभाग के अनुसार आज
दिनाँक- 07.07.2022
उत्तराखंड राज्य में कुमाऊं मंडल के बागेश्वर व पिथौरागढ जनपदों में भारी वर्षा होने की संभावना है।
दिनाँक-08.07.2022
उत्तराखंड राज्य के चंपावत,नैनीताल,उधमसिंह नगर, बागेश्वर,पिथौरागढ,पौड़ी,देहरादून,टिहरी जनपदों के अनेक स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।
दिनांक- 09.07.2022
उत्तराखंड राज्य के चंपावत नैनीताल,उधमसिंह नगर,बागेश्वर,पिथौरागढ,पौड़ी ,टिहरी व देहरादून जनपदों में कहीं -कहीं भारी व बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।
दिनाँक-10.07.2022
उत्तराखंड राज्य के देहरादून,बागेश्वर व पिथौरागढ जनपदों में कहीं-कहीं भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।

दि0 11-07-2022

राज्य में मौसम सामान्य रहेगा।

*******-

चारधाम यात्रा

*राज्य आपत्कालीन परिचालन केन्द्र,सचिवालय परिसर देहरादून द्वारा दिनाँक 06-07-2022 को10:45 बजे रात्रि को जारी सूचना के अनुसार आज

श्री बद्रीनाथ धाम में 5561 यात्री पहुँचे तथा अब तक कुल 930129 यात्री पहुच चुके हैं, जिनमें से आज मृतक यात्रियों संख्या-शून्य है।तथा अब तक कुल 52 यात्रियों की मृत्यु हुई है।*
*श्री हेमकुंड साहिब में आज 1257यात्री तथा अब तक कुल126186 यात्री पहुँच चुके हैं।अब तक मृतक यात्रियों की संख्या कुल–02 रही है
*श्री केदारनाथ(सोनप्रयाग) में आज 4169 यात्री पहुँचे।तथा अब तक कुल 860890 यात्री पहुँच चुके हैं जिनमें से आज हुई 02 यात्री की मृत्यु सहित अब तक कुल 100 यात्रियों की मृत्यु हो चुकी है ।*
*श्री गंगोत्री धाम मेंआज 1449यात्री पहुँचे। अब तक कुल 440865 यात्री पहुँच चुके हैं जिनमें से अब तक कुल 13 यात्रियों की मृत्यु हुई है। *
*गौमुख में आज 127यात्री पहुँचे तथा अब तक यहां कुल 7200 यात्री पहुँच चुका है।

श्री यमुनोत्री धाम(जानकीचट्टी) में आज कुल 618 यात्री पहुँचे।अब तक यहां कुल 323225यात्री पहुँच चुके हैं जिनमें से अभी तक 43 यात्रियों की मृत्यु हुई है।*

*आज उपरोक्त धामों में कुल 13181 यात्री पहुँचे जिनमें से आज 02 यात्रियों की मृत्यु हुई है। अब तक इन धामों में कुल 2703953 यात्री यहाँ पहुँच चुके हैं। यहँ पहुँचने वाले यात्रियों में से अब तक कुल 210 यात्रियों की मृत्यु हो चुकी है।*

*उत्तराखण्ड के सभी यात्रा मार्ग,राजमार्ग व सभी धामों के मार्ग सुचारू रूप से यातायात हेतु खुले हैं ।*

Leave a Reply

Your email address will not be published.