राज्यपाल ने ‘शिक्षक दिवस’ के अवसर पर राज्य के सभी शिक्षकों को बधाई एवं शुभकामनायें दी।#मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री ने बागेश्वर मंदिर मंदिर में पूजा अर्चना कर 19 कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।-Janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

राज्यपाल ने ‘शिक्षक दिवस’ के अवसर पर राज्य के सभी शिक्षकों को बधाई एवं शुभकामनायें दी।

राजभवन देहरादून 04 सितम्बर, 2022

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने ‘शिक्षक दिवस’ के अवसर पर राज्य के सभी शिक्षकों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। पूर्व राष्ट्रपति व भारत रत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन को याद करते हुए राज्यपाल ने कहा कि डॉ. राधाकृष्णन एक महान शिक्षाविद्, दार्शनिक, गहन चिंतक, कुशल वक्ता व महान विचारक थे। उन्होंने कहा है की ‘शिक्षक दिवस’, हमें अपने शिक्षकों के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने का अवसर देता है।

राज्यपाल ने कहा की देश व समाज के निर्माण में शिक्षकों की भूमिका सबसे अधिक महत्वपूर्ण है। वर्तमान समय में शिक्षकों का यह दायित्व बन जाता है की वे बच्चों में त्याग, प्रेम, सौहार्द, सहनशीलता के साथ-साथ अच्छे संस्कारों और नैतिक आदर्शों का विकास करें। राज्यपाल ने कहा कि आज के तेजी से बदलते समय में जहां विचार, मूल्य व धारणाएं तेजी से बदल रही हैं, ऐसे में नैतिक शिक्षा और सांस्कृतिक ज्ञान का महत्व और बढ़ जाता है।

*******

मुख्यमंत्री ने बागेश्वर मंदिर मंदिर में पूजा अर्चना कर 19 कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

विश्व प्रसिद्ध बागनाथ मंदिर में मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने पूजा अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की व मंदिर से नुर्माइखेत पुल व नवनिर्मित बागनाथ धर्मशाला एवं पुनर्निर्माण भैरव मंदिर का लोकार्पण किया।
बिलौना बस डिपो में आयोजित कार्यक्रम में सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बागेश्वर विधानसभा में 2198.30 लाख के 19 कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। जिसमें 1463.29 लाख लागत से निर्मित 13 विकास कार्यों का लोकार्पण एवं 735.01 लाख की धनराशि के 06 विकास कार्यों का शिलान्यास किया व बसों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।   

मुख्यमंत्री ने बैजनाथ मेला डुंगरी हैलीपेड विस्तारीकरण की घोषणा की तथा काफलीगैर में डिग्री कॉलेज प्रारम्भ करने व वर्तमान शिक्षा सत्र 2022-23 से कक्षाओं का संचालन करने की स्वीकृति, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, पन्त क्वौराली का प्रान्तीकरण एवं उच्चीकरण, पालडी से जैनकरास मोटर मार्ग एवं गुरना से नैनीउडियार मोटर मार्ग का डामरीकरणके साथ ही कपकोट चन्द्र सिंह शाही महाविद्यालय में एम.ए., इतिहास, राजनैतिक शास्त्र, समाज शास्त्र, बीएससी के सभी पद तथा बी.ए. में भूगोल पद सहित, कपकोट में बस स्टेशन व 02 टैक्सी स्टेण्ड निर्माण की बात कही।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने  बागेश्वर बस डिपो के शुभारम्भ के अवसर पर जनपद के लोगों को बधाई दी, उन्होंने कहा बागेश्वर डिपो की शुरुआत से समस्त बस सेवायें बागेश्वर से प्रारम्भ होकर बागेश्वर पर ही आकर समाप्त होंगी। उन्होंने कहा इन सेवाओं हेतु 21 बसों को बागेश्वर डिपो में सम्मिलित किया जा रहा है। आज तक उत्तराखण्ड परिवहन निगम 18 बस डिपो के माध्यम से अब इसमें बागेश्वर डिपो के जुड़ जाने से कुल 19 डिपो के माध्यम से अपने 1275 बस बेड़ों के साथ जनता को यातायात की सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। उन्होंने कहा बागेश्वर जनपद का स्वतंत्रता संग्राम में भी बड़ा योगदान रहा है। बागेश्वर बस डीपो बन जाने से नये स्थानों को भी जोड़ा जायेगा, डिपो बनने से जहाँ बागेश्वर से आवागमन सुगम होगा तथा व्यापार बढ़ेगा वहीं रोजगार के अवसर भी बढ़ेगे।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि सरकार द्वारा वरिष्ठ नागरिकों, छात्राओं, स्वतन्त्रता संग्राम सैनानी, मान्यता प्राप्त पत्रकारों, राज्य आन्दोलनकारियों, दिव्यांगजनों, सांसदों एवं विधानसभा सदस्यों तथा रक्षाबन्धन के अवसर पर बहनों के लिए परिवहन निगम के माध्यम से विशिष्ट श्रेणी के लिए निःशुल्क यात्रा की सुविधा प्रदान की गई है, जिसकी प्रतिपूर्ति सरकार द्वारा की जाती है, उन्होंने कहा चारधाम यात्रा पर परिवहन निगम की बसों द्वारा माह द्वारा की जाती है, मई एवं जून में 33544 यात्रियों को लाने एवं पहुंचाने का कार्य किया है। कोविड-19 के समय में निगम की बसों द्वारा विभिन्न राज्यों से प्रवासियों को राज्य में लाने का भी कार्य किया है, सरकार द्वारा कोविड काल में लॉकडाउन से प्रभावित हुए कुल 1372 चालक-परिचालकों को, 06 माह हेतु रू 2,000 प्रतिमाह की दर से कुल 01 करोड़ 64 लाख 64 हजार रूपये सीधे डी०बी०टी० के माध्यम से उनके बैंक खातों में हस्तांतरित किये गये है। श्री केदारपुरी का पुनर्निर्माण व बद्रीनाथ धाम जी के मास्टर प्लान का काम हो रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार अपने वादों के अनुसार गरीब परिवारों को तीन सिलेण्डर मुफ्त उपलब्ध करवाने रही हैं। इसके लिये बजट में प्रावधान भी किया गया है, हमारी सरकार ने आंगनबाड़ी बहनों के मानदेय में बढ़ोतरी करते हुए आंगनबाड़ी बहनों का मानदेय 9300 रूपए, मिनी आंगनबाड़ी का 6250 रूपए और सहायिकाओं का मानदेय 5250 रूपए किया गया है, इसी प्रकार आशा कार्यकत्रियों के मानदेय में 1500 रूपए बढ़ाकर 6000 रूपये कर दी र्गइ है, वृद्धावस्था, विधवा और दिव्यांगजन पेंशन की राशि को 1000 रूपए प्रतिमाह से बढ़ाकर 1500 रूपए प्रतिमाह किया गया है। जिसके तहत जनपद बागेश्वर में 15,866 वृद्धजनों 6,710 विधवा एवं 2,740 दिव्यांग लाभार्थियों को पेंशन का भुगतान किया गया है, उत्तराखण्ड में अब वृद्धावस्था पेंशन योजना के अंतर्गत पात्र पति व पत्नी दोनों को लाभ मिलेगा ऐसा प्राविधान किया गया है।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना पर तेजी गति का काम हो रहा है, साथ ही टनकपुर-बागेश्वर ब्रॉडगेज सर्वे शुरू कर दिया गया है, डोईवाला से गंगोत्री-यमुनोत्री रेललाइन के सर्वे पर भारत सरकार की सहमति बनी है, चारधाम ऑल वेदर सड़क परियोजना के साथ ही टनकपुर-पिथौरागढ़ की सड़क कनेक्टीवीटी में सुधार हुआ है,  चारधाम सर्किट में सभी मंदिरों, गुरूद्वारों में भौतिक ढांचे और परिवहन सुविधाओं के विस्तार किया जा रहा है, उन्होंने कहा  हम कुमाऊं के पौराणिक मंदिरों के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन पर कार्य कर रहे हैं, पर्वतीय क्षेत्रों में रोपवे नेटवर्क निर्माण के लिये पर्वत माला परियोजना पर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सड़क रेल हर्वाइ कनेक्टिविटी पर तेज गति के साथ कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा राज्य सरकार पारदर्शिता के साथ  विकल्प रहित संकल्प के साथ कार्य कर रही है।
जनसभा को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय विधायक एवं परिवहन व समाज कल्याण मंत्री चंन्दन राम दास ने बागेश्वर बस स्टेशन को डिपो बनाये जाने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि परिवहन विभाग द्वारा डिपो में वर्कशॉप के साथ ही चालक एवं परिचालकों के लिए यात्रियों के लिए विश्रामालय भी बनाया जायेगा। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश से हमें 104 करोड़ की धनराशि पूर्व की प्राप्त हुई है जिससे हम पूर्व कार्मिकों का भुगतान कर रहे है। उन्होंने बताया कि पहली बार मुख्यमंत्री श्री धामी की पहल पर परिवहन विभाग द्वारा चारधाम यात्रा में 100 रोडवेज वाहन लगाये गये तथा 50 केएमओयू वाहन भी लगाये गये। रोडवेज के वाहनों से 4.50 करोड़ की धनराशि चारधाम यात्रा से प्राप्त हुए जिससे परिवहन विभाग को घाटे से उभरने में सहायता मिली।

     सांसद अजय टम्टा ने सभी को बागेश्वर डिपो बनने की बधाई देते हुए कहा कि हमारे लिए सौभाग्य की बात है कि मुख्यमंत्री हमारे बीच है व डिपो का शुभारम्भ कर रहे है। उन्होंने कहा बागेश्वर जिला अल्मोड़े से अलग होकर बना था लेकिन अब जिला व्यवस्थित हो गया है इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सूबे के मुख्यमंत्री लगातार जनपद व प्रदेश के विकास के लिए चिंतित है व आगे बढ़ा रहे है। उन्होंने बताया कि टनकपुर चौखुटिया रेल लाइन के लिए भारत सरकार द्वारा 29 करोड़ की धनराशि स्वीकृत की इसलिए उन्होंने प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर विधायक कपकोट सुरेश गढ़िया ने कहा कि युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में प्रदेश दिनों दिन विकास की ओर अग्रसर है इसके लिए उन्होंने सीएम का आभार व्यक्त किया।  

कार्यक्रम में सूबे के मुख्यमंत्री श्री धामी एवं समाज कल्याण मंत्री, सांसद, विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष व अन्य अतिथियों द्वारा लाभार्थीपरक योजनाओं के चैक व कृषि संयत्र वितरित किये, जिसमें दीन दयाल सहकारी किसान कल्याण योजना के अन्तर्गत 04 लोगों को दुधारू पशु हेतु 01-01 लाख के चेक, 32 स्वयं सहायता समूहों को 41 लाख के सीसीएल चेक वितरित किये तथा जनपद के 13 लाभार्थियों को कृषि विभाग के माध्यम से पावर वीडर व उद्योग विभाग के माध्यम से मु.मं.स्व.रो.योजनान्तर्गत दो अभ्यर्थियों को एक लाख,प्रधानमंत्री रोजगार योजना में दो लोगों को 13 लाख, मुख्यमंत्री रोजगार योजना में  1.80 लाख  व आपदा में 04 लाख का मुआवजा चैक व कोरोना काल में उत्कृष्ठ कार्य करने वालों को भी सम्मानित किया गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.