राज्यपाल ने राजभवन के सुरक्षाकर्मियों की समस्याओं को सुना।# मित्र पुलिस से बिछुड़ी महिला दर्शनार्थी को बद्रीनाथ में दल से व 6 वर्षीयआव्या को केदारनाथ में माता-पिता से मिलवाया#चारधाम यात्रियों की सुविधा के लिए पुलिस अधिकारियों ने किए अपने मोबाईल नंबर जारी -www.Janswar.com

नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने बुधवार को राजभवन की सुरक्षा में लगे अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ बैठक की। इस दौरान राज्यपाल ने सुरक्षा में लगे अधिकारियों एवं कर्मचारियों की समस्याओं को भी सुना।

बैठक में राज्यपाल ने कहा कि सुरक्षा में लगे सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा बहुत महत्वपूर्ण दायित्वों का निर्वहन किया जा रहा है। राज्यपाल ने कहा कि नियमानुसार चेकिंग के साथ-साथ राजभवन में आने वाले सभी आगन्तुकों के स्वागत और सम्मान का भी सदैव ध्यान रखा जाय।
उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि ड्यूटी में लगे किसी भी कर्मचारी को कोई भी परेशानी न हो इसका ध्यान रखा जाए। राज्यपाल ने सुरक्षाकर्मियों के बैरक का सुदृढ़ीकरण के साथ-साथ उनके बैठने के स्थान व शौचालय आदि को ठीक करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अच्छा कार्य करने वाले कर्मियों को सम्मानित व प्रोत्साहित किया जाएगा।
बैठक में विधि परामर्शी श्री अमित कुमार सिरोही, अपर सचिव श्रीमती स्वाती एस.भदौरिया, परिसहाय श्री राज्यपाल रचिता जुयाल, वित्त नियंत्रक डॉ.तृप्ति श्रीवास्तव विशेषकार्याधिकारी श्री वी.पी.नौटियाल, मुख्य सुरक्षा अधिकारी श्री शिव कुमार, कम्प्ट्रोलर श्री प्रमोद चमोली के अलावा राजभवन में तैनात सुरक्षा कार्मिक उपस्थित थे।

*******

महाराष्ट्र से बद्रीनाथ दर्शन के लिए आई महिला यात्री को कोतवाली बद्रीनाथ पुलिस ने बिछड़े साथियों से मिलवाया

श्री बद्रीनाथ_धाम में प्रतिदिन भारत के अलग-अलग प्रान्त से #दर्शनार्थी श्री हरि दर्शनों को पहुँच रहे हैं, जिनकी सेवा में चमोली पुलिस चौबीस घण्टे तत्पर है। आज दिनांक 11.5.2022 को महाराष्ट्र से श्री बद्रीनाथ दर्शन के लिए आई महिला श्रीमती प्रतिभा पांड्या जो कि मन्दिर दर्शन के उपरान्त अपने साथियों से बिछड़ गई थी, उन्होंने कोतवाली बद्रीनाथ में आकर पुलिस को जानकारी दी कि मैं अपने साथियों से बिछड़ गई हूँ, मुझे मेरी बस का भी पता नहीं कि वह कहाँ खड़ी है। कोतवाली पुलिस द्वारा तत्काल कार्य़वाही करते हुए लाउडहेलर से अनाउंस करवाया गया व उक्त महिला के साथियों की ढूढखोज कर सम्पर्क किया गया, एवं महिला यात्री को सकुशल उनकी बस तक पहुँचाया गया। अपने साथियों के वापस मिलने पर अत्यधिक प्रसन्न हुई महिला यात्री ने पुलिस की प्रसंशा की व सह्रदय धन्यवाद किया गया।

                  #

6 वर्षीय आव्या अपने दादाजी श्री राम बंसल एवं पिताजी गौरव बंसल एवं मां अंकिता बंसल के साथ श्री केदारनाथ यात्रा पर आई थी, जो कि भीड़ में अपने परिजनों से बिछड़ गई थी।

परिजनों द्वारा आव्या की अपने स्तर से ढूंढ खोज की गई लेकिन उसका कोई पता नहीं चला तत्पश्चात उनके द्वारा पुलिस से सहायता मांगी गई।
पुलिस उपाधीक्षक श्री विवेक कुमार एवं आरक्षी श्री भरत नेगी द्वारा मासूम बच्ची को ढूंढ कर उसके परिजनों से मिलाया गया परिजनों द्वारा पुलिस परिवार का आभार व्यक्त किया गया है।
#surakshitchardham
#ukpolicehaisath
#UttarakhandPolice
#kedarnath

********

तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए उत्तराखण्ड के पुलिस अधिकारियों के मोबाईल नंबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.