राज्यपाल ने राजभवन के कर्मचारियों की आवासीय कॉलोनी का  निरीक्षण किया# मुख्यमंत्री ने चम्पावत पत्रकार संगठन के  नव निवाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में भाग लिया# महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा ने किया विभिन्न इंटर कॉलेजों, उच्च प्राथमिक एवं प्राथमिक विद्यालयों का निरीक्षण।  राज्पाल व मुख्यमंत्री ने ब्रह्मखाल में वाहन दुर्घटना के मृतकों व देवाल में नदी में डूबने से युवकों की मृत्यु पर शोक प्रकट किया-www.janswar.com  

-अरुणाभ रतूड़ी

राज्यपाल ने राजभवन के कर्मचारियों की आवासीय कॉलोनी का  निरीक्षण किया
राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने शनिवार को राजभवन की कर्मचारी आवासीय कॉलोनी का निरीक्षण किया। उन्होंने लोनिवि के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कॉलोनी को साफ एवं स्वच्छ रखा जाय। राज्यपाल ने पूरी कॉलोनी का भ्रमण करते हुए निवासरत लोगों से उनकी समस्याओं की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कॉलोनी को साफ रखना कॉलोनीवासियों की भी जिम्मेदारी है, स्वयं भी साफ-सफाई का ध्यान रखें।

राज्यपाल ने अधिकारियों से कहा की कॉलोनी के समीप नाले व खाली जगह की सफाई कर वहां लैंडस्केपिंग के लिए संभावना तलाशें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि कॉलोनी में रह रहे लोगों को किसी प्रकार की समस्या न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाय। इसके बाद उन्होंने राजभवन के अतिथि गृह और आई.आर.बी बटालियन के बैरक का निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

*********

मुख्यमंत्री ने चम्पावत पत्रकार संगठन के  नव निवाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में भाग लिया

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को चंपावत जिला पत्रकार संगठन के निर्वाचित पदाधिकारियों अध्यक्ष श्री कमलेश भट्ट, उपाध्यक्ष श्री भगवान राम उर्फ हयात राम, सचिव श्री दीपक धामी एवं कोषाध्यक्ष श्री दिनेश भट्ट के शपथ ग्रहण समारोह में प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री ने शपथ ग्रहण कार्यक्रम का शुभारंभ किया और सभी नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने आशा व्यक्त की कि सभी  पदाधिकारी अपने दायित्वों का निर्वहन भली भांती कर जिले के विकास में अपनी सहभागिता व सहयोग करेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कलम की ताकत हमेशा क्रांति लाई है और समाज व देश को आगे बढ़ाने का काम किया है, लोगों के अंदर राष्ट्र की भावना जागृत करने और उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। हमारा संकल्प वर्ष 2025 तक उत्तराखंड को देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाने का है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इसमें मीडिया अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। उन्होंने जनपद के पत्रकारों के अनुरोध को स्वीकारते हुए कहा कि पत्रकारों की सुविधा के लिए चंपावत मुख्यालय में प्रेस क्लब बनाने के लिए प्रस्ताव बनाया जाएगा। साथ ही पत्रकारों की सुविधा के लिए जो भी आवश्यक कार्य होंगे किए जायेंगे।

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष ज्योति राय, नगरपालिका अध्यक्ष चंपावत विजय वर्मा, टनकपुर विपिन कुमार, लोहाघाट गोविंद वर्मा, ब्लाक प्रमुख चंपावत रेखा देवी, बाराकोट विनीता फर्त्याल, पाटी सुमंलता, ज्येष्ठ प्रमुख मोनिका बोहरा, भाजपा प्रदेश मंत्री हेमा जोशी, भाजपा जिलाध्यक्ष निर्मल महरा, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश तिवारी, हरगोविंद बोहरा, गोविंद सामंत एवं पत्रकार गण उपस्थित रहे।

**********

महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा ने किया विभिन्न इंटर कॉलेजों, उच्च प्राथमिक एवं प्राथमिक विद्यालयों का निरीक्षण किया

  1. शिक्षकों के साथ शैक्षिक संवाद कर विद्यालयों में छात्रों के नामांकन वृद्धि के किये जाएं प्रयास।
  2. विद्यालयों में निर्धारित समय पर शैक्षिक कार्य आरम्भ हो इसके लिये शिक्षकों एवं छात्रों की समय पर सुनिश्चित की जाय उपस्थिति।
  3. विद्यालयों की प्रयोगशालाओं का अधिक से अधिक उपयोग छात्रों के हित में किया जाए।
  4. पुस्तकालयों से छात्रों को पुस्तकें उपलब्ध कराये जाने की हो कारगर व्यवस्था।
  5. बच्चों के साथ मध्याह्न भोजन कर परखी भोजन की गुणवत्ता।

महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा श्री बंशीधर तिवारी द्वारा शनिवार को आदर्श राजकीय इण्टर कालेज मालदेवता, राजकीय इण्टर कालेज भगद्वारीखाल के साथ ही प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय सरखेत का आकस्मिक निरीक्षण किया गया।

महानिदेशक द्वारा आदर्श राजकीय इण्टर कालेज मालदेवता में शिक्षक उपस्थिति पंजिका अपूर्ण पाये जाने पर प्रभारी प्रधानाचार्य को उपस्थिति पंजिका को पूर्ण करने के निर्देश दिये गये साथ ही निर्देशित किया गया कि जिन शिक्षकों के अवकाश प्रार्थना पत्र नहीं हैं उन पर कार्यवाही की जाये। उन्होंने विद्यालय के शैक्षिक कार्यों का भ्रमण के समय विज्ञान विषय के अध्यापकों को निर्देशित किया गया कि विद्यालय में उपलब्ध प्रयोगशाला का उपयोग बच्चों को प्रयोगात्मक कार्यों के लिये किया जाना सुनिश्चित किया जाए।

उन्होंने प्रभारी प्रधानाचार्य एवं शिक्षकों को निर्देश दिया कि विद्यालय में समय पर उपस्थित होकर शिक्षण कार्य करना सुनिश्चित करें। पुस्तकालय की पुस्तकों के सम्बन्ध में भी जानकारी प्राप्त की कर उन्होंने छात्र छात्राओं को पुस्तकालय से पुस्तकें उपलब्ध कराने की व्यवस्था सुनिश्चित कराये जाने के निर्देश दिए। महानिदेशक द्वारा प्रार्थना होने के उपरान्त भी कुछ बच्चे विद्यालय में विलम्ब से पहुंच रहे थे साथ ही विद्यालय में प्रथम वादन में ‘आनन्दम‘ की कक्षाएं संचालित नहीं की जा रही थीं इस स्थिति को असंतोषजनक बताते हुए महानिदेशक द्वारा मुख्य शिक्षा अधिकारी देहरादून को निर्देश दिए गए कि प्रधानाचार्य, राजकीय इण्टर कॉलेज मालदेवता से इस संदर्भ में स्पष्टीकरण लिया जाये साथ ही विद्यालय में व्यवस्थायें सुधारे जाने हेतु आवश्यक कार्यवाही की जायें।

महानिदेशक, विद्यालयी शिक्षा द्वारा शिक्षकों के साथ शैक्षिक संवाद किया गया, जिसमें सभी शिक्षकों से अपेक्षा की गयी कि राजकीय विद्यालयों में छात्र छात्राओं के नामांकन में वृद्धि की जाये। इस हेतु प्रधानाचार्य से लेकर शिक्षकों, कर्मचारियों को योगदान देना होगा। विद्यालयों के भौतिक रखरखाव के लिए भी सभी को सचेत होना होगा। ऑनलाईन सम्बन्धित सूचनाओं यथा यू डायस, छात्र विवरण, ऑनलाईन प्रशिक्षण को समय पर पूर्ण करना होगा ताकि पी0जी0आई0 आंकलन में प्रदेश की स्थिति संतोषजनक हो। राजकीय इण्टर कालेज भगद्वारीखाल में भी महानिदेशक, विद्यालयी शिक्षा द्वारा विद्यालय में शिक्षण कार्य का अवलोकन किया गया। साथ ही विद्यालय में 02 जीर्ण शीर्ण भवनों का तत्काल ध्वस्तीकरण कराये जाने के निर्देश दिए गए तथा 02 कक्षा कक्षों का प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए। उन्होंने बच्चों के साथ मध्याह्न भोजन ग्रहण कर भोजन की गुणवत्ता भी परखी। साथ ही बच्चों को स्वच्छता, विशेष रूप से खाने से पहले खाने के बाद हाथ धोने के सम्बन्ध में जानकारी दी। विद्यालय की बायोमेट्रिक मशीन की अविलंब मरम्मत के निर्देश भी महानिदेशक द्वारा दिये गये।

महानिदेशक, विद्यालयी शिक्षा द्वारा शिक्षकों से उनके पदोन्नति के सम्बन्ध में भी चर्चा की गयी एवं विभिन्न न्यायालयी वादों के कारण पदोन्नति न होने के कारण विद्यालयों में प्रवक्ता/प्रधानाचार्यों की नियुक्ति नहीं हो रही है, इस सम्बन्ध में शिक्षकों को आपस में समय-समय पर न्यायालय प्रकरणों में कमी लानी होगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग में होने वाले क्रियाकलापों के सम्बन्ध में सभी शिक्षा से जुड़े हुए कार्मिकों को सकारात्मक सोच पैदा करनी होगी।

महानिदेशक द्वारा शिक्षकों से यह भी अपेक्षा की गयी कि विद्यालय में अध्ययनरत छात्र-छात्रायें समय पर विद्यालय में उपस्थित होवें साथ ही अनुशासन का पूर्ण ध्यान रखा जाये।  महानिदेशक, विद्यालयी शिक्षा द्वारा रा0प्रा0वि0 एवं रा0उ0प्रा0वि0 सरखेत का अनुश्रवण किया गया जो आपदा के कारण ध्वस्त हो गये हैं एवं एक साथ संचालित हो रहे हैं। इसके भवन एवं भूमि की उपलब्धता के सम्बन्ध में शीघ्र कार्यवाही किये जाने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी (प्रारम्भिक) को दिये गये। महानिदेशक द्वारा जिला स्तर एवं विकासखण्ड स्तर के अधिकारियों को समय-समय पर विद्यालयों का निरीक्षण किये जाने के निर्देश भी दिए गए।

निरीक्षण के दौरान श्री परमेन्द्र बिष्ट, संयुक्त निदेशक, पी0एम0 पोषण, श्री आकाश सारस्वत, उप राज्य परियोजना निदेशक एवं श्री भगवती प्रसाद मैन्दोली, स्टाफ आफिसर, समग्र शिक्षा उपस्थित रहे

********

राज्यपाल ने ब्रह्मखाल के समीप वाहन दुर्घटना के मृतकों व देवाल में नदी में  डूबने से चार युवकों की मृत्यु पर शोक प्रकट किया ।

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने उत्तरकाशी जिले के यमुनोत्री हाइवे पर ब्रह्मखाल के समीप हुई वाहन दुर्घटना में मृतक व्यक्तियों के प्रति गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने मृतकों की आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। राज्यपाल ने जनपद चमोली के देवाल विकासखण्ड में चार युवकों के नदी में डूबकर हुई मृत्यु पर भी शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्माओं की शांति और शोक संतप्त के प्रति गहरी संवेदना की।

*******

मुख्यमंत्री  ने जनपद उत्तरकाशी के ब्रह्मखाल के समीप हुई वाहन दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया है।
मुख्यमंत्री ने दुर्घटना की मजिस्ट्रियल जांच और मृतकों के परिजनों को  2-2 लाख रुपये की सहायता राशि देने के निर्देश दिये। उन्होंने दुर्घटना में घायल के निशुल्क उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित करने के भी निर्देश  दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.