राज्यपाल ने डीआईटी विश्वविद्यालय में छठे दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया।# मुख्यमंत्री ने टनकपुर में रोजगार मेले का उद्घाटन किया।WWW.JANSWAR.COM

अरुणाभ रतूड़ी

राज्यपाल ने डीआईटी विश्वविद्यालय में छठे दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया।

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत गुरमीत सिंह (से नि) ने शनिवार को डीआईटी विश्वविद्यालय में छठे दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। राज्यपाल ने विभिन्न पाठ्यक्रमों के 1237 छात्रों को उपाधियां प्रदान करने के साथ 36 विद्यार्थियों को मेडल प्रदान किये। समारोह में उन्होंने विश्वविद्यालय के दो एल्युमनी(Alumni) को भी सम्मानित किया। इस अवसर पर राज्यपाल ने विश्वविद्यालय की वार्षिक रिपोर्ट और दीक्षांत समारोह की स्मारिका का भी अनावरण किया।

दीक्षांत समारोह में उपस्थित छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने सभी मेडल एवं डिग्री प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं एवं उनके अभिभावकों को भी बधाई दी। उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा कि उपाधि प्राप्त करके रोजगार तलाशने की पंक्ति में खड़े न हो अपितु स्वयं रोजगार देने वाले साबित हों। उन्होंने कहा कि आने वाले अमृत काल के इन 25 वर्षों में विकसित भारत का नेतृत्व आपकी पीढ़ी को करना है। उन्होंने छात्रों से कहा कि अपने हाथों से विकसित भारत के सपनों को साकार करते हुए आगे बढ़े। राज्यपाल ने कहा कि हमें हर क्षेत्र में शक्ति और समृद्धि अर्जित करते हुए विश्व गुरू के शिखर पर पंहुचना है जिसमें आप सभी युवाओं का योगदान बेहद महत्वपूर्ण है।

राज्यपाल ने कहा कि टेक्नोलॉजी, रिसर्च, आर्टिफिशियल इन्टेलीजेंस और ड्रोन टेक्नोलॉजी आदि तकनीकों के बल पर आगे बढ़ते हुए परिवर्तन की एक क्रान्ति लाएं। भारत के लिए ज्ञान-विज्ञान प्रणाली से नए रिकॉर्ड स्थापित करें। उन्होंने कहा कि एक नए विजन के साथ देश सेवा का संकल्प लेकर आगे बढें। राज्यपाल ने कहा कि एक भारत, श्रेष्ठ भारत के सपनों को पूरा करने के लिए हमें प्रधानमंत्री जी द्वारा दिए गए 5 मूलमंत्र को आत्मसात करना होगा।

राज्यपाल ने डीआईटी विश्वविद्यालय की 24 वर्षों की सफल यात्रा के लिए बधाई और आने वाले भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में छात्रों को बेहतर शैक्षणिक वातावरण उपलब्ध कराने के साथ ही यहां की अवस्थापना सुविधाएं भी बेहतरीन हैं। दीक्षांत समारोह में कुलपति डॉ. जी. रघुराम ने विश्वविद्यालय की उपलब्धियों और नवाचारों की संक्षिप्त जानकारी दी। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के चेयरमैन श्री अनुज अग्रवाल, चांसलर एन. रविशंकर, एडवाइजर डॉ. आर.सी. गोयल, प्रो. वाइस चांसलर प्रिय दर्शन पात्रा, रजिस्ट्रार डॉ. वंदना सुहाग सहित विश्वविद्यालय कार्यपरिषद के सदस्यगण एवं उपाधि प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राएं उपस्थित रहीं।

*******

मुख्यमंत्री ने टनकपुर में रोजगार मेले का उद्घाटन किया।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को विधानसभा चंपावत के टनकपुर स्थित ए.पी.जे अब्दुल कलाम इंजीनियरिंग कॉलेज में जिला प्रशासन एवं सेवायोजन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित रोजगार मेले का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने वृहद रोजगार मेले शुभारंभ करने के साथ ही चंपावत जिले की दोनों विधानसभा चंपावत व लोहाघाट अंतर्गत 8417.93 लाख की कुल 30 योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने ए.पी.जे अब्दुल कलाम इंजीनियरिंग कॉलेज में मुख्यमंत्री घोषणा के अंतर्गत निर्मित लाइब्रेरी, प्रयोगशाला एवं स्मार्ट कक्षा का शुभारंभ भी किया।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने ए.पी.जे अब्दुल कलाम इंजीनियरिंग कॉलेज में महिला छात्रावास का निर्माण कार्य किए जाने  एवं कॉलेज के अतिथि शिक्षकों को उच्च शिक्षा की भांति तकनीकी शिक्षा के अंतर्गत मासिक स्तर पर मानदेय दिए जाने की घोषणा की।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने रोजगार मेले में पंहुचे विभिन्न कंपनियों के प्रतिनिधियों से जानकारी ली, साथ ही उन्होंने रोजगार हेतु विभिन्न क्षेत्रों से आए बेरोजगार युवाओं से भी वार्ता करते हुए कहा कि वह इस सुनहरे अवसर का लाभ उठाएं। रोजगार मेले में जहां एक ओर उत्तराखंड राज्य एवं बाहरी प्रदेशों से बड़ी-बड़ी कंपनियों द्वारा प्रतिभाग किया जा रहा है, वहीं संपूर्ण राज्य में आयोजित होने वाले इस तरह के रोजगार मेले से अनेकों युवाओं को रोजगार भी मिल रहा है। चंपावत विधानसभा में आयोजित इस मेले से कई युवाओं को रोजगार प्राप्त होगा। अपनी प्रतिभा एवं मेहनत के बलबूते पर हमारे युवा उत्तराखंड राज्य एवं देश के विकास में अपना अहम योगदान देंगे।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि देवी देवताओं की भूमि चंपावत हमेशा उनमें नई ऊर्जा प्रदान कराती है। उन्होंने कहा आज का दिन युवाओं के लिए बहुत विशेष है। आज प्रतिभावान युवाओं को नए अवसर मिलेंगे। उन्होंने मेले में उपस्थित सभी युवाओं से अपील की कि वे रोजगार लेने के साथ-साथ रोजगार देने वाले बनें, यहां के युवा अपनी प्रतिभा से जिस भी क्षेत्र में जाएंगे, वहां अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देंगे।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि उत्तराखंड सरकार जहां एक ओर निजी क्षेत्र में रोजगार देने का कार्य कर रही है वहीं सरकारी विभागों में नौकरी हेतु UKPSC द्वारा आगामी भर्ती हेतु कैलेंडर भी जारी कर दिया गया है। उन्होंने कहा लंबे समय से UKSSSC में चल रही गड़बड़ियों को सरकार ने गंभीरता से लिया है। प्रतियोगी परीक्षाओं में अब किसी भी प्रकार का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। UKSSSC   प्रतियोगी परीक्षाओं में हुई गड़बड़ी की जांच  एसटीएफ और विजिलेंस के द्वारा कराई जा रही है। अब तक उनके द्वारा 45 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। जब तक अंतिम आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो जाती है तब तक यह जांच चलती रहेगी। उन्होंने कहा सभी रिक्त पदों में जल्दी से जल्दी भर्तियां करवाई जाएंगी। विभिन्न विभागों में रिक्त 19 हजार  रिक्त पदों को जल्द ही भरा जाएगा।
       मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश निरंतर आगे बढ़ रहा है उनका उत्तराखंड राज्य से विशेष लगाव है। जिसके बदौलत आज उत्तराखंड में चौतरफा विकास देखने को मिल रहा है।
इस अवसर पर सांसद श्री अजय टम्टा, अध्यक्ष वन विकास निगम उत्तराखंड श्री कैलाश चन्द्र गहतोड़ी, अध्यक्ष जिला पंचायत ज्योति राय, विधायक रानीखेत श्री प्रमोद नैनवाल, प्रदेश महामंत्री भाजपा श्री विकास शर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री दीप पाठक, नगरपालिका अध्यक्ष टनकपुर श्री विपिन कुमार, जिलाधिकारी श्री नरेन्द्र सिंह भंडारी, पुलिस अधीक्षक श्री देवेन्द्र पींचा, मुख्य विकास अधिकारी श्री आरएस रावत, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं विभागीय अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.