राज्यपाल,मुख्यमंत्री,वि.स.अध्यक्ष,कैबिनेट मंत्री व सांसद ने स्वामी हंसप्रकाश महाराज के सातवें निर्वाण दिवस पर दी श्रद्धांजलि।##नैनीताल की स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार के लिए जिलाधिकारी प्रयासरत।पढिएJanswar.com में।

राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य, मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचंद अग्रवाल, कैबिनेट मंत्री श्री मदन कौशिक, सांसद श्री अजय भट्ट रविवार को प्राचीन अवधूत मण्डल आश्रम में ब्रम्हलीन स्वामी श्री हंस प्रकाश महाराज के सातवें निर्वाण दिवस श्रद्धांजलि सभा में प्रतिभाग किया एवं उनको श्रद्धांजलि अर्पित की।
राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौय ने कहा कि किसी भी संत को हमारी सच्ची श्रद्धांजलि वही होगी जब हम अपने समाज के दलित, शोषित, अशिक्षित, गरीब, लाचार जरूरतमंदो को साथ लेकर चलें। उन्हें समाज में समानता का एहसास दिलाने के लिए उन्हें अपने बराबरी में स्थान दें। अपने सामाजिक, धार्मिक आयोजन में उनकी भी बराबर सहभागिता सुनिश्चित कर सकें। ब्रम्हलीन स्वामी हंस प्रकाश महाराज ने समाज को अपने वचनों से प्रेरित किया है। उन्होंने धर्म-करम के कार्य़ द्वारा समाज को सुधारने में अहम भूमिका निभाई हैं। इसके बाद राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने दक्षिण काली मंदिर के दर्शन किये एवं पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद ब्रम्हचारी से भेंट कर पूजा अर्चना की और भगवान का आशीर्वाद लिया।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि काफी वर्षो से अवधूत मंडल आश्रम द्वारा शिक्षा, चिकित्सा, गौ रक्षा, संस्कृति तथा सेवा के क्षेत्र में सराहनीय कार्य किया जा रहा है। उन्होंने ब्रम्हलीन स्वामी हंस प्रकाश महाराज के जीवन को प्रेरणादायक बताया। उन्होने भारतीय संस्कृति की रक्षा और परम्परा को आगे बढ़ाने के लिए आश्रम के वर्तमान संयोजक ब्रम्हलीन स्वामी श्री हंस प्रकाश महाराज के शिष्य श्री रूपेंद्र प्रकाश महाराज को शुभकामनायें दी।
 कार्यक्रम में विधायक श्री आदेश चौहान, प्रभारी जिलाधिकारी श्री विनीत तोमर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री सेंथिल अबुदई, सहित अनेक संतगण उपस्थित रहे।#############################

जनपद नैनीताल की स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार मे प्रयासरत हैं जिलाधिकारी

जनपद  की स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने की दिशा में जिलाधिकारी श्री सविन बंसल पूरी तन्मयता से जुटे हुए हैं। इस दिशा में जिलाधिकारी श्री बंसल ने जनद के दूरस्थ क्षेत्र बेतालघाट एवं ओखलकाण्डा में स्वास्थ्य सेवाओं को सुलभ व बेहतर बनाते हुए आधुनिकतम चिकित्सा तकनीकि से युक्त मोबाईल मेडिकल यूनिट वाहन को कैम्प कार्यालय से हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
श्री बंसल ने कहा कि बेतालघाट एवं ओखलकाण्डा के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले आम लोगों को विशेषकर उन लोगों को जो बुजुर्ग, बीमार, अपाहिज होने के कारण सफर करते हुए अस्पताल नहीं पहुंच सकते, ऐसे लोगों को उनके घर के पास बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुफ्त उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से शुरू की गई मोबाइल मेडिकल यूनिट सेवा वरदान साबित होगी।
एसीएमओ डाॅ.रश्मि पन्त ने बताया कि मोबाइल मेडिकल यूनिट वाहन में ईसीजी,लिपिड प्रोफाइल टेस्ट, किडनी फंक्शन टेंस्ट, लीवर फंक्शन टेस्ट, यूरिन, ब्लड, बीपी सहित विभिन्न प्रकार की जाॅचे मोबाईल टीम द्वारा मौके पर ही की जा सकेंगी। मोबाईल यूनिट वाहन एक पीएचसी की भाॅति कार्य करने में पूर्णतः सक्षम है। उन्होंने बताया कि मोबाईल यूनिट का संचालन प्रति माह 4 तारीख से 25 तारीख तक कुल 22 दिन किया जायेगा। जिसमें से 15 दिन बैतालघाट क्षेत्र व 7 दिन ओखलकाण्डा क्षेत्र में किया जाएगा। जिससे क्षेत्र की लगभग 40 हजार जनसंख्या लाभांवित होगी। मोबाईल यूनिट सेवा में प्रति मरीज 10 रूपये फीस निर्धारित की गयी है तथा सभी प्रकार की जाॅच एवं दवायें निःशुल्क उपलब्ध करायी जायेंगी। उन्होंने बताया कि मोबाईल यूनिट व टेलीमेडिसिन सेवा आपसी समन्वय से कार्य करेगी, जिससे क्षेत्रीय जनता को दोनो सेवाओं का और अधिक प्रभावी तरीके से लाभ मिल सके। इस अवसर पर मोबाईल मेडिकल यूनिट द्वारा कैम्प कार्यालय में उपस्थित 42 व्यक्तियों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण एवं विभिन्न प्रकार की जाॅच करते हुए दवाई भी वितरित की गयी।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ.भारती राणा, एआरटीओ विमल पाण्डे, जिला शिक्षा अधिकारी हीरालाल गौतम, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, अधिशासी  अभियंता जल संस्थान विशाल कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध, सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.