मुख्यमंत्री 18 मार्च को जनता को देंगे चार साल के विकास कार्यों की जानकारी।#राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)डा.धनसिंह रावत ने पौड़ी सर्किच हाउस में चिनार का पौधा रोपा। #मुख्यसचिव की अध्यक्षता में कोविड-19 वैक्सिनेशन हेतु स्पेशल टास्क फोर्स की बैठक संपन्न हुई।पढिए Janswar.COm में।

-अरुणाभ रतूड़ी

  • मुख्यमंत्री 18 मार्च को जनता को देंगे चार साल के विकास कार्यों की जानकारी।
  • 18 मार्च को सभी विधान सभा क्षेत्रों में एक साथ आयोजित होंगे कार्यक्रम।
  • विधानसभा क्षेत्र डोईवाला के लच्छीवाला में आयोजित होगा राज्यस्तरीय कार्यक्रम।
  • मुख्यमंत्री विधानसभा क्षेत्रों में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को वर्चुवली करेंगे सम्बोधित।
  • विधानसभा क्षेत्र स्तर पर कार्यक्रमों के सफल आयोजन हेतु विधायकों की अध्यक्षता में की जायेगी समिति का गठन।
  • विधायक गण करेंगे विधान सभा क्षेत्रों में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की अध्यक्षता।
  • दायित्व धारियों को सौंपी जायेगी उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी।
  • विधान सभा क्षेत्रवार विकास पुस्तिकाओं का किया जायेगा प्रकाशन।

       

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में आगामी 18 मार्च 2021 को राज्य सरकार के 4 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने के अवसर पर ‘विकास के चार साल : बातें कम काम ज्यादा’ कार्यक्रम के आयोजन से सम्बन्धित बैठक आयोजित की गई। बैठक में राज्य के सभी मंत्रीगण विधायक, शासन के उच्चाधिकारी, सम्बन्धित जनपदों के जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी एवं खण्ड विकास अधिकारी वर्चुअल माध्यम से जुड़े थे।
       मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि आगामी 18 मार्च को राज्य सरकार के चार साल पूर्ण होने के अवसर पर सभी विधानसभा क्षेत्रों में एक साथ कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। डोईवाला विधानसभा क्षेत्र के लच्छीवाला में राज्य स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। मुख्यमंत्री द्वारा सभी विधान सभा क्षेत्रों में आयोजित कार्यक्रमों को वर्चुवली सम्बोधित किया जायेगा। इसके लिये विधायकों  की अध्यक्षता में समिति का गठन किया जायेगा। दायित्वधारी कार्यक्रम आयोजन समिति के उपाध्यक्ष होंगे। इस अवसर पर विधान सभा वार विकास पुस्तिकाओं का भी प्रकाशन किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने सभी विधायकों से अपने क्षेत्र में हुए विकास कार्यों में जानकारी 28 फरवरी तक महानिदेशक सूचना को उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिये।
       मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि कार्यक्रम हेतु स्थल का निर्धारण तथा आयोजन समिति गठित कर प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के लिए कार्यक्रम की रूपरेखा का निर्धारण कर लिया जाए। मुख्यमंत्री द्वारा डोईवाला क्षेत्र से लगभग अपराह्न 12ः30 बजे सजीव प्रसारण के द्वारा समस्त विधानसभा क्षेत्रों को संबोधित किया जायेगा। सजीव प्रसारण के लिए सभी विधानसभा क्षेत्रों में LED/DISH आदि की व्यवस्था सूचना विभाग के माध्यम से की जाएगी और इसके अनुश्रवण के लिए प्रत्येक विधान सभा क्षेत्र में  NIC  तथा अन्य तकनीकी स्टॉफ की तैनाती की जायेगी।
       मुख्यमंत्री ने प्रत्येक कार्यक्रम स्थल में परम्परागत वाद्य यंत्रों की रैली निकाली जाने तथा कार्यक्रम में लगभग 100 वाद्ययंत्रों को बजाने वाले कलाकारों को शामिल किये जाने के निर्देश दिये। इस पर होने वाले व्यय हेतु धनराशि सूचना विभाग द्वारा समस्त जिलाधिकारियों को उपलब्ध कराई जायेगी। कार्यक्रम के समन्वय के लिए प्रत्येक जनपद के लिए मुख्यमंत्री कार्यालय से भी एक समन्वयक नामित किया जायेगा।
       कार्यक्रम में जन-सामान्य की जानकारी के लिए सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं से संबंधित प्रचार सामग्री भी सूचना विभाग द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी। विधानसभा क्षेत्र में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में स्थानीय जन-प्रतिनिधियों व सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को आमंत्रित किया जायेगा। संबंधित विधानसभा क्षेत्र के सभी ग्राम पंचायतो का कार्यक्रम में प्रतिनिधित्व हो। इसके साथ ही जिन लोगों/स्वयं सहायता समूह ने कोई विशिष्ट कार्य किया हो, उन्हें भी कार्यक्रम में आमंत्रित किया जायेगा। विधानसभा क्षेत्र में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम का पूर्व में व्यापक प्रचार – प्रसार भी सुनिश्चित कराये जाने के भी निर्देश मुख्यमंत्री ने दिये हैं।
        सचिव सूचना श्री दिलीप जावलकर ने ’बातें कम काम ज्यादा“ कार्यक्रम के आयोजन के सम्बन्ध में सूचना विभाग के स्तर पर की जाने वाली व्यवस्थाओं के साथ ही विधान सभा वार प्रस्तावित कार्यक्रमों की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए बताया कि कार्यक्रम 18 मार्च, 2021 को राज्य के समस्त 70 विधानसभा क्षेत्रों में एक ही समय पर आयोजित किया जाएगा। सम्पूर्ण कार्यक्रम को सुचारु रूप से संपादित कराने के लिए आयोजन समिति के अध्यक्ष संबंधित क्षेत्र के विधायक होंगे। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र हेतु आयोजन समिति गठित की जायेगी, जिसमें उपजिलाधिकारी को सदस्य सचिव नामित किया जायेगा। सदस्य सचिव का नाम, पदनाम व मोबाईल नं. सूचना विभाग की ई-मेल infodirector.uk@gmail.com पर प्रेषित किये जाने की उन्होंने अपेक्षा की, ताकि तद्नुसार आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने में सुविधा हो सके।
        इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री श्री सतपाल महाराज, श्री मदन कौशिक, राज्य मंत्री श्रीमती रेखा आर्या, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार श्री रमेश भट्ट, आर्थिक सलाहकार श्री आलोक भट्ट, विशेष सचिव मुख्यमंत्री श्री पराग मधुकर धकाते, मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश, महानिदेशक सूचना डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट के साथ ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अन्य लोग जुड़े थे।

—————————————————————— 

राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)डा.धनसिंह रावत ने पौड़ी सर्किच हाउस में चिनार का पौधा रोपा।

प्रदेश के उच्च शिक्षा, सहकारिता, दुग्ध विकास, प्रोटोकॉल राज्य मंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) डा. धन सिंह रावत ने आज पौड़ी सर्किट हाउस से घुड़दोडी द्वारीधार सड़क पर चिनार (मेपल) के पौध रोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग कर चिनार का वृक्षारोपण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पौड़ी-देवप्रयाग रोड को चिनार (मेपल) लेन के रूप में  विकसित किया जा रहा है, जो पर्यटन सर्किट के लिए मील का पत्थर सावित होगा। उन्होने उपस्थित सभी लोगों को लगाया गये पेड़ के संरक्षण में अपना अमूल्य योगदान देने को कहा।  
उच्च शिक्षा मंत्री डा0 रावत ने कहा कि इस वर्ष हरेला दिवस के अवसर 16 जुलाई को 1 घंटे में 20 लाख पेड़ रोपण करने का लक्ष्य रखा गया है। जिसमें ग्रमीण, स्वयंसेवी, अधिकारी, कर्मचारी, जनप्रतिनिधि एवं पत्रकार को बढ़ चढ़ कर उक्त वृक्षा रोपण कार्यक्रम में प्रतिभाग करने तथा प्रकृति के संरक्षण में अपना योगदान देने को कहा। कहा कि इन पेड़ों की देखभाल भी स्थानीय लोग करेंगे, सभी लोग हरेला दिवस के अवसर पर अपने घर पर भी एक पेड़ जरूर लगायेंगे।
वृक्षा रोपण कार्यक्रम में विधायक पौड़ी मुकेश सिह कोली तथा मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई सहित अन्य अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधि व स्थानीय लोगों ने भी चिनार के पेड़ लगाए।
इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ नरेंद्र कुमार, मुख्य कृषि अधिकारी देवेन्द्र राणा, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद टम्टा, निजी सचिव मा0 मंत्री महेश ढौडियाल, मीडिया प्रभारी गणेश भट्ट, अधिकारी, जनप्रतिनिधि एवं स्थानीय महिलाएं तथा अन्य लोग उपस्थित थे।

—————————————————————–

मुख्यसचिव की अध्यक्षता में कोविड-19 वैक्सिनेशन हेतु स्पेशल टास्क फोर्स की बैठक संपन्न हुई।

मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश की अध्यक्षता में गुरुवार को सचिवालय में कोविड-19 वैक्सिनेशन हेतु स्पेशल टास्क फोर्स की बैठक संपन्न हुई। मुख्य सचिव ने जिलाधिकारी हरिद्वार को सख्त निर्देश दिए कि कुम्भ ड्यूटी में लगे लोगों का 100 प्रतिशत वैक्सिनेशन करवाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने गर्भवती एवं धात्री महिला सहित कोन्ट्राइन्डिकेशन के मामलों को छोड़कर अन्य रिफ्यूजल पर सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पूरे देश से कुम्भ में लोग आएंगे, उनकी जिंदगी के साथ किसी भी प्रकार का रिस्क नहीं लिया जा सकता। उन्होंने कहा कि गर्भवती एवं धात्री महिला सहित कोन्ट्राइन्डिकेशन के मामलों को छोड़कर जो अधिकारी कर्मचारी वैक्सिनेशन नहीं करवा रहे हैं, उन्हें हरिद्वार कुम्भ क्षेत्र में न रखा जाए। कुम्भ को देखते हुए उनका स्थानान्तरण किया जाए।
      मुख्य सचिव ने कहा कि अन्य राज्यों से आने वाले पुलिस और पैरामिलिट्री कार्मिकों का भी तुरंत वैक्सिनेशन किया जाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि 15 मार्च तक उत्तर प्रदेश से भी 100 डॉक्टर्स एवं 148 पैरामेडिकल स्टाफ पहुंच जाएगा, उनके रहने की व्यवस्था भी अस्पतालों के आसपास सुनिश्चित की जाए। दुधाधारी आश्रम में बनाए जाने वाले अस्पताल को 15 मार्च तक फंक्शनल किया जाए। उन्होंने हरिद्वार में अन्य जनपदों से आने वाले कार्मिकों के वैक्सिनेशन स्टेटस का पता कर उनका भी वैक्सिनेशन सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने देहरादून में प्राईवेट सेक्टर के हेल्थ वर्कर्स के वैक्सीनेशन में गति लाने के निर्देश दिए।
     इस अवसर पर सचिव श्री अमित नेगी, श्री पंकज कुमार पाण्डेय एवं महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्रीमती अमिता उप्रेती सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपदों से जिलाधिकारी उपस्थित थे।

—————————————————————

Leave a Reply

Your email address will not be published.