मुख्यमंत्री व भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने श्रीनगर में युवा संवाद कार्यक्रम में प्रतिभाग कर जनसभा को संबोधित किया । ##डोईवाला सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र:अनुबंध के खिलाफ यूकेडी के धर्मवीर बैठे अनशन पर 

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी एवं भा.ज.यु.मो. राष्ट्रीय अध्यक्ष, सांसद तेजस्वी सूर्या ने मंगलवार को श्रीनगर में युवा संवाद कार्यक्रम में प्रतिभाग कर जनसभा को संबोधित किया ।
इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि उन्हें आज युवाओं के बीच आकर अपने को गौरवशाली महसूस कर रहा हूं। उन्होंने कहा युवा वह होता है जिसके पैरों में गति होती है, जिसकी आवाज एवं इरादे बुलंद होते हैं, असंभव को संभव बनाना जानता हो, एवं जो अपने लक्ष्य को भलीभांति साधना जानता हो।  हमारी युवा शक्ति प्रदेश में विकास की नई नींव रखने के साथ प्रदेश के भाग्य को बदलेगी। प्रदेश सरकार की यह प्राथमिकता है की युवाओं को नए अवसर प्रदान करवाएं । प्रदेश के युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए 24000 पदों पर भर्ती प्रक्रिया जारी है। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री धामी ने वात्सल्य योजना,  महालक्ष्मी किट जैसी तमाम जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में बताया।
—2–

अनुबंध के खिलाफ यूकेडी के धर्मवीर बैठे अनशन पर

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोईवाला का अनुबंध समाप्त करने की मांग को लेकर उत्तराखंड क्रांति दल के वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष धर्मवीर गुसाई अनशन पर बैठ गए हैं।

गौरतलब है कि कल देर रात अनशन पर बैठे उत्तराखंड क्रांति दल के जिला उपाध्यक्ष संजय डोभाल को पुलिस प्रशासन ने जबरन उठाकर देहरादून के कोरोनेशन अस्पताल में फोर्स फीडिंग कराने के लिए भर्ती करा दिया था।

आज अनशन पर बैठने वाले धर्मवीर गुसाईं ने संकल्प जताया कि यह एक निर्णायक आंदोलन है और हिमालयन अस्पताल से इसका अनुबंध निरस्त कर आए बिना वे लोग यहां से उठने वाले नहीं है।

वही भारतीय किसान सभा के प्रदेश प्रवक्ता अजीत अंजुम ने आंदोलनकारियों को जबरन उठाए जाने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की।

उन्होंने कहा कि सरकार जनता की मांगों को जबरन दमन चक्र चलाकर कुचलना चाहती है, इसे किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उन्होंने भारतीय किसान सभा के तमाम कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर इस आंदोलन को तेज करने की चेतावनी दी है।

धर्मवीर गुसाई के साथ आज रमेश तोपवाल तथा रामेश्वर पांडे क्रमिक अनशन पर बैठे।

इसके अलावा जिला संगठन मंत्री दिनेश सेमवाल, श्याम सुंदर, भूपेंद्र सिंह, अमित राणा, हर्ष रावत, सविता श्रीवास्तव, सरोज रावत, त्रिलोक सिंह , बी पी टोडरिया, दामोदर जोशी, शेर सिंह, मेहताब अली आदि आंदोलन में शामिल रहे।

भू कानून आंदोलन ने दिया समर्थन

अस्पताल के अनुबंध को निरस्त कराने की मांग को लेकर चल रहे उत्तराखंड क्रांति दल की इस आंदोलन को भू कानून आंदोलन ने भी अपना समर्थन दिया है।

सख्त कानून लागू कराने की मांग को लेकर 1000 किलोमीटर की यात्रा करके लौटे प्रभात कुमार और उनकी टीम ने आंदोलन स्थल पर आकर उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया और अपना समर्थन व्यक्त करते हुए कहा कि वह तन मन धन से इस आंदोलन के साथ हैं।

  1. भूकानून आंदोलन की ओर से समर्थन देने वालों में से जसवीर सिंह, दया राम, राजेंद्र सिंह, डीपी सिंह, पूजा चमोली आदि मुख्य थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.