मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपति उम्मीदवार श्रीमती द्रोपदी मुर्मू का जौलीग्रांट हवाई अड्डे पर स्वागत किया# 15वीं वाहिनी, एन०डी०आर०एफ० को गदरपुर में स्थापित किया गया #जिला विधिक प्राधिकरण 23जुलाई को मैसमोर इं.का.पौड़ी में नालसा द्वारा चलाये जा रहे जन कल्याणकारी योजनाओं हेतु बहुउद्देशीय शिविर आयोजित करेगा-Janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

 

राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार श्रीमती द्रौपदी मुर्मू के उत्तराखंड आगमन पर मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया।

श्रीमती द्रौपदी मुर्मू एवं मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने इसके बाद देहरादून कलेक्ट्रेट स्थित  शहीद स्थल जाकर शहीद राज्य आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि दी। इसके उपरान्त श्रीमती द्रौपदी मुर्मू एवं मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय स्थित मुख्य सेवक सदन में उत्तराखण्ड के सांसदगणों एवं विधायकगणों के साथ बैठक में प्रतिभाग किया।
इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, भाजपा के प्रदेश प्रभारी श्री दुष्यंत गौतम, सह प्रभारी श्रीमती रेखा वर्मा, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक, सांसदगण एवं विधायकगण उपस्थित थे

********

15वीं वाहिनी, एन०डी०आर०एफ० को आपदा से निपटने के लिए उत्तराखण्ड राज्य, जिला उधमसिंह नगर के गदरपुर में स्थापित किया गया है। 15वीं वाहिनी, एन०डी०आर०एफ० द्वारा मानसून 2022 के मध्यनजर उत्तराखण्ड के अति संवेदनशील एवं संवेदनशील क्षेत्रों को देखते हुए 06 टीमों को अलग-अलग जिलों (अल्मोड़ा, पिथौरागढ, उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग (केदारनाथजी) एवं आर.आर.सी. झाझरा (देहरादून) में समस्त साजो सामान के साथ तैनात किया है। प्रत्येक टीम में एक विशेष प्रकार की क्षमता है जो कि अलग-अलग प्रकार की आपदाओं से निपटने के लिए सक्षम है, जिससे कि आपदा के समय एन०डी०आर०एफ० टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए राहत एवं बचाव कार्य किये जा सकें। वाहिनी कमाण्डेंट श्री सुदेश कुमार दराल के दिशा निर्देशन में एन०डी०आर०एफ० के 02 अधिकारियों और 06 टीमों को गढ़वाल एवं कुमाऊं मण्डल में आपदा एवं राहत बचाव कार्य हेतु तैनात किया गया है। वर्तमान में उत्तराखण्ड पुलिस महानिदेशक के अनुरोध एवं एन०डी०आर०एफ० प्रमुख श्री अतुल करवाल, भा०पु०से० के निर्देशन पर 15वीं वाहिनी, एन०डी०आर०एफ० की एक विशेष टीम को चारधाम यात्रा हेतु श्री केदारनाथजी में तैनात किया गया है। एन०डी०आर०एफ० टीम द्वारा यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं को काफी मदद पहुंचायी जा रही है, जिससे वहाँ के सिविल प्रशासन को यात्रा को सुचारू रूप से चलाने में काफी मदद मिल रही है तथा यात्रा में गये श्रद्धालुगण स्वयं को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। एन०डी०आर०एफ० के कार्य को देखते हुए स्थानीय जनता एवं श्रद्धालुओं द्वारा भूरी-भूरी प्रशंसा की गई है। यहाँ बता दें कि एन०डी०आर०एफ० को लोकप्रियता तथा मानवीय कार्यों में सेवा के प्रति समर्पण के कारण ही ‘Angels in Orange’ देवदूत भी कहा जाता है।
इसके अतिरिक्त एन०डी०आर०एफ० द्वारा पूरे वर्ष राज्य के सभी जिलों में समुदाय की आपदा से निपटने की क्षमता में विकास किया जा रहा है जिससे यहां के सभी लोगों को आपदा से निपटने हेतु सक्षम एवं कुशल बनाया जा रहा है। क्षमता वृद्धि कार्यक्रम के दौरान अलग अलग प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम जैसे की सामुदायिक जागरूकता कार्यक्रम तथा बच्चों को स्कूल सेफ्टी प्रोग्राम के माध्यम से विकसित किया जा रहा है। 15वीं वाहिनी द्वारा वर्ष 2022-23 के दौरान उत्तराखण्ड राज्य के अल्मोड़ा, पौड़ी, नैनीताल, चम्पावत, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग तथा देहरादून जिलों में जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के द्वारा किये जाने वाले नाक अभ्यास में प्रतिभाग किया जायेगा। इस वर्ष एन०डी०आर०एफ० के द्वारा राज्य के 26 विद्यालयों में स्कूल सेफ्टी कार्यक्रम आयोजित किये गये हैं इसके अतिरिक्त राज्य सभी जवाहर नवोदय विद्यालयों में एन०डी०आर०एफ० तथा नवोदय विद्यालय समिति द्वारा किये गये MOU के तत्वाधान में नवोदय विद्यालय के शिक्षको तथा विद्यार्थियों के लिए 01 दिवसीय आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण भी आयोजित किये गये।
15वीं वाहिनी के कमाण्डेंट श्री सुदेश कुमार दराल ने अवगत कराया कि अगामी 29 जुलाई 2022 को राज्य स्तरीय आपदा प्रबंधन मॉक अभ्यास एक बड़ा कार्यक्रम राज्य में होने जा रहा है जिसमें कि राज्य के सभी स्टेकहोल्डर को बढ़ चढ़कर प्रतिभाग करना चाहिए तथा पूर्व में बनाये गये आपदा प्रबंधन योजना, मानक प्रचलन प्रक्रिया तथा राज्य के संसाधनों की आपदा के प्रति तैयारी को चेक करने का यह एक सुनहरा अवसर है, साथ ही उन्होंने यह भी अवगत किया कि किसी भी आपदा के दौरान समुदाय ही पहला रिस्पांडर होता है तथा 15वीं वाहिनी का एक लक्ष्य उत्तराखण्ड राज्य के स्थानीय नागरिकों तथा समुदाय को आपदा के प्रति सशक्त बनाना है ताकि आपदा की आपदा के दौरान होने वाले जन हानि तथा आर्थिक नुकसान को कम से कम किया जा सके।

*******

उत्तराखण्ड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के निर्देशन पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पौड़ी द्वारा 23 जुलाई 2022 को 11ः00 बजे मैसमोर इण्टर कॉलेज पौड़ी में नालसा द्वारा चलाये जा रहे जन कल्याणकारी योजनाओं हेतु बहुउद्देशीय शिविर आयोजित किया जाएगा। आयोजित शिविर में लोगों की वास्तविक समस्याओं को उनके मध्य जाकर उसकी जानकारी एकत्र कर उसका निस्तारण किया जाएगा।
सीनियर सिविल जज/जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने जानकारी देते हुए बताया कि शिविर में सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से लोगों को लाभाविंत किया जाएगा। उन्होंने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि आमजनमानस की उक्त विभाग से सम्बन्धित समस्याओं के निस्तारण हेतु शिविर में प्रतिभाग करने तथा आवश्यक सुविधाओं सहित स्टॉल लगाना सुनिश्चित करें। उन्होंने आयोजित शिविर में शिक्षा विभाग, समाज कल्याण विभाग, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग, उद्यान विभाग, राजस्व विभाग, श्रम् विभाग, उद्योग विभाग, पंचायत राज विभाग, जिला विकास विभाग, जिला पूर्ति विभाग, स्वास्थ्य विभाग, स्वजल विभाग, जल संस्थान एवं अक्षय ऊर्जा विभाग सहित अन्य विभागों को शिविर में प्रतिभाग करने को कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.