मुख्यमंत्री ने राजीव गाँधी नवोदय विद्यालय, तपोवन रायपुर, देहरादून से प्रदेश के शिक्षकों से किया वर्चुअल संवाद।# क्षेत्रीय विधायक श्रीमती ऋतु खंडूड़ी भूषण तथा जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के चिकिस्सालयों का संयुक्त निरीक्षण किया।पढिए Janswar.com में

-अरुणाभ रतूड़ी
मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने राजीव गाँधी नवोदय विद्यालय, तपोवन रायपुर, देहरादून से प्रदेश के शिक्षकों से वर्चुअल संवाद किया। मुख्यमंत्री ने नीति आयोग द्वारा जारी सतत विकास लक्ष्य  SDGs सूची में शिक्षा के क्षेत्र में उत्तराखण्ड को चौथी रैंकिंग प्राप्त होने पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों एवं सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं को बधाई दी। इस वर्चुअल संवाद में 500 स्कूलों से शिक्षक जुड़े थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अटल उत्कृष्ट विद्यालय की वेबसाइट लाँच की।
        मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि यह प्रदेश के लिए सौभाग्य की बात है कि नीति आयोग द्वारा जारी सतत विकास लक्ष्य  SDGs सूची में चौथा स्थान प्राप्त हुआ है। 17 विभिन्न आयामों को लेकर सूची का निर्धारण किया गया। 2015-16 में जहां राज्य को 19वां स्थान मिला था, आज राज्य ने चौथा स्थान प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में शिक्षा के क्षेत्र में उत्तराखण्ड को प्रथम स्थान पर लाने के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों एवं शिक्षकों को इसी मनोयोग से कार्य करना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड काल में पठन-पाठन का कार्य एक नई चुनौती है। सीमित संसाधन होने के बावजूद भी ऑनलाईन शैक्षणिक गतिविधियों के लिए शिक्षा विभाग द्वारा सराहनीय प्रयास किया गया।
         मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि स्कूलों की व्यवस्थाओं में गुणात्मक सुधार लाने के लिए राज्य सरकार द्वारा हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। स्कूलों में विभिन्न व्यवस्थाओं के लिए जिला प्लान के माध्यम से व्यवस्थाएं की गई हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के दूरस्थ क्षेत्रों तक नेट कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। अटल उत्कृष्ट विद्यालयों के माध्यम से शिक्षा के स्तर में और सुधार करने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। राज्य में 190 अटल उत्कृष्ट विद्यालय स्वीकृत किये गये हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अनेक स्कूलों के शिक्षकों के साथ वर्चुअल संवाद किया।
शिक्षा मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय ने शिक्षा के क्षेत्र में उत्तराखण्ड की चौथी रैंकिंग प्राप्त होने पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों एवं शिक्षकों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड की देवभूमि के रूप में विश्व में अलग पहचान है। शिक्षकों के कठिन परिश्रम के परिणामस्वरूप उत्तराखण्ड ने नीति आयोग द्वारा जारी सतत विकास लक्ष्य SDGs सूची में चौथा स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में गुणात्मक सुधार के लिए राज्य सरकार द्वारा लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। प्रदेश में सभी के लिए एक जैसा पाठ्यक्रम लागू किया गया है। 90 प्रतिशत स्कूलों में फर्नीचर की व्यवस्था है। इसे जल्द ही शत प्रतिशत किया जायेगा। 500 स्कूलों में वर्चुअल क्लास की व्यवस्था की गई है। जल्द ही 600 और स्कूलों में वर्चुअल क्लास की व्यवस्था की जायेगी।
           इस अवसर पर सचिव शिक्षा श्री आर.मीनाक्षी सुदंरम, महानिदेशक शिक्षा श्री विनय शंकर पाण्डेय एवं शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
—————————————————-

जनपद गढ़वाल क्षेत्रान्तर्गत यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र में क्षेत्रीय विधायक श्रीमती ऋतु खंडूड़ी भूषण तथा जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे द्वारा आज लगातार संयुक्त रूप से अतिरिक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पोखाल एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र यमकेश्वर का स्थलीय निरीक्षण किया गया। इससे पूर्व उनके द्वारा आज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दुगड्डा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र डाडामंडी एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चेलूसैंण का भी निरीक्षण किया गया।
यमकेश्वर विधायक श्रीमती ऋतु एवं जिलाधिकारी डाॅ. जोगदण्डे ने अतिरिक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पोखाल एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र यमकेश्वर के निरीक्षण के दौरान पैथोलॉजी लेब का रिबन काटकर शुभारम्भ किया। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र यमकेश्वर में पैथोलॉजी लेब, जनरल वार्ड, टीकाकरण कक्ष, आइसोलेशन कक्ष सहित अन्य का निरीक्षण किया। उन्होंने सम्बन्धित स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि गंभीरता के साथ कार्य करना सुनिश्चित करें। इस दौरान वहां मौजूद स्थानीय लोगों द्वारा ब्लड टेस्ट नही होने, स्टाफ की कमी, एम्बुलेंस की कमी सहित 47 बिन्दुओं का मांगपत्र दिया गया।
क्षेत्रीय विधायक ने स्थानीय लोगों की समस्याएं सुनी, स्थानीय लोगों ने सड़क, पानी, अस्पताल में स्टाफ की समस्याएं बताई। वहां मौजूद लोगों ने क्षेत्र में शिविर लगाकर लोगों की समस्याएं दूर करने की मांग भी की है।
इस अवसर पर उपजिलाधिकारी यमकेश्वर मनीष कुमार, सीएमओ डॉ. मनोज शर्मा, प्रभारी चिकित्साधिकारी पोखाल डॉ. एचके सिंह, प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. राजीव, डॉ. पारुल, डॉ. शुभम, अमित नैथानी आदि उपस्थित थे।

इसके बाद विधायक व जिलाधिकारी ने राजकीय एलोपैथिक चिकित्सालय लक्ष्मणझूला का स्थलीय निरीक्षण किया।विधायक श्रीमती ऋतु ने सम्बन्धित चिकित्साधिकारी से क्षेत्र में फैले कोविड-19 संक्रमण व उससे बचाव हेतु किये जा रहे कार्यों की जानकारी लेते हुए मरीजों का बेहतर उपचार करने के निर्देश दिए, उन्होंने संक्रमण की रोकथाम हेतु सक्रियता से कार्य करने को कहा ।
निरीक्षण के दौरान हिलमेल संस्था की ओर से मनजीत नेगी ने जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे को 110 पीपी कीट, 50 मास्क व 40 लीटर सेनेटाइजर दिया। उन्होंने कहा कि हिलमेल संस्था पहाड़ों की ओर वापस लौटने का अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए हर क्षेत्र में राहत सामाग्री उपलब्ध कराई जा रही है। जिलाधिकारी ने संस्था की सराहना करते हुए कहा कि इस वैश्विक महामारी में सभी को मदद के लिए आगे आना चाहिए।
इस अवसर पर उपजिलाधिकारी यमकेश्वर मनीष कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. मनोज शर्मा, प्रभारी अस्पताल चिकित्सक डॉ. नितिन, डॉ. राजीव आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.