मुख्यमंत्री ने महिला हथकरघा बुनकर समूह द्वारा संचालित ‘‘स्वावलम्बनी’’ का उद्घाटन किया।#हर की पैडी के पास से चण्डी देवी तक रोपवे के निर्माण कार्य को दी गयी स्वीकृति-कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक।#लाभार्थियों का चयन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित समिति के माध्यम से किया जायेगा-पर्यटन सचिव।#प्रभारी जिलाधिकारी ने जनपद पौड़ी गढवाल में राज्यस्थापना दिवस सफल आयोजन की जिम्मेदारियां बांटी।पढिए Janswar.Comमें।

समाचार प्रस्तुति-अरुणाभ रतूड़ी

मुख्यमंत्री ने महिला हथकरघा बुनकर समूह द्वारा संचालित ‘‘स्वावलम्बनी’’ का उद्घाटन किया।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने महिला स्वयं सहायता समूहों को महिलाओं के आर्थिक स्वावलम्बन का मजबूत आधार बताया है। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण का भी यह मजबूत आधार है।शुक्रवार को सुभाष रोड, देहरादून में सरस्वती जागृति स्वयं सहायता समूह एवं महिला हथकरघा बुनकर समूह द्वारा संचालित ‘‘स्वावलम्बनी’’ का उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के साथ ही प्रदेश के परम्परागत व्यंजनों को बढ़ावा देने एवं राज्य में आने वाले पर्यटकों के माध्यम से इसकी पहचान बनाने मे इस प्रकार के प्रयास कारगर साबित होंगे। उन्होंने कहा कि महिला समूह द्वारा किया गया यह प्रयास महिला सशक्तिकरण की भी मजबूत पहल है। उन्होंने इसे अन्य महिलाओं के लिए प्रेरणादायी भी बताया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा प्रदेश पर्यटन प्रदेश है। यहां आने वाले पर्यटकों को पर्वतीय व्यंजनों की चाहत रहती है। इससे हमारे उत्पादों को देश व दुनिया में पहचान मिलने के साथ ही पारम्परिक खेती के उत्पादन के प्रति हमारे लोग प्रेरित होंगे। इससे पारम्परिक उत्पादों व खेती को भी बढ़ावा मिलेगा।
इस अवसर पर मेयर सुनील उनियाल गामा, सरस्वती जागृति महिला स्वयं सहायता समूह की सुश्री पूजा तोमर, सुश्री सुषमा वर्मा, गायत्री श्रीवास्तव, रिद्धि कांबोज आदि उपस्थित थे।


हर की पैडी के पास से चण्डी देवी तक रोपवे के निर्माण कार्य को दी गयी स्वीकृति-कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक।

प्रदेश के शहरी विकास, आवास, राजीव गाँधी शहरी आवास, जनगणना, पुनर्गठन एवं निर्वाचन मंत्री मदन कौशिक ने सचिवालय स्थित सभा कक्ष में विभागीय कार्यों की समीक्षा बैठक ली।
बैठक में जानकारी देते हुए उन्होने बताया कि उत्तराखण्ड राज्य में रोपवे, और मैट्रो विषय पर शीध्र कार्यवाही की जायेगी। उन्हाने कहा कि हरिद्वार में हर की पैडी के पास से चण्डी देवी तक रोपवे के निर्माण कार्य की स्वीकृति प्रदान कर दिया गया है। इस कार्य के लिए शीध्र टेण्डर प्रक्रिया के लिए निर्देश दिये गये है तथा उक्त कार्य को समय से पूर्ण कराये जाने हेतु अधिकारियो को निर्देशित किया गया है। नीलकंठ और ऋषिकेश के बीच तीन स्थानों, रेलवे स्टेशन, रोडवेज तथा त्रिवेणी घाट के लिए रोपवे के निर्माण हेतु हेतु प्लान तैयार करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये गये। देहरादून में मेट्रो के लिए भारत सरकार से वार्ता के लिए पुनः बैठक की जायेगी।
इसके साथ ही उन्होने नगर निकाय विस्तार के सम्बन्ध में भी विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें ऋषिकेश में कुछ सीमा विस्तार तथा श्रीनगर को नगर निगम बनाये जाने एवं हरिद्वार जनपद में भगवानपुर सीमा विस्तार, इमलीखेडा, रामपुर, पाडलीगुर्जर,, ढण्डेरा को नये निकाय के रूप में विकासित करना है। इसके अतिरिक्त उघमसिहनगर में लालपुर, सिरोरीकला, नगला बागेश्वर में गरूड और पौडी में थलीसैण्ड सहित कुल 13 निकायो के विस्तार पर चर्चा की गई। इस बैठक में सम्बन्धित जिलाधिकारियो को वीडियो क्रन्फे्रसिंग के माध्यम से जोडा गया था। जिलाअधिकारियों को निर्देशित किया गया कि इस सम्बन्ध में एक सप्ताह के अन्दर अपनी रिपोर्ट उपलब्ध कराये।

इस अवसर पर, सचिव आवास शैलेश बगौली, जिलाधिकारी हरिद्वार, रविशंकर, अपर सचिव, हरिश चन्द्र सेमवाल इत्यादि उच्चाधिकारी मौजूद थे।

——————————————————————

लाभार्थियों का चयन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित समिति के माध्यम से किया जायेगा-पर्यटन सचिव
पर्यटन विभाग द्वारा ट्रैकिंग ट्रक्शन सेन्टर होम-स्टे नियमावली-2020 के प्राविधानों के अन्तर्गत जनपद उतरकाशी के अगोड़ा जबकि जनपद टिहरी के घुत्तू के पात्र व्यक्तियों को योजना का लाभ प्रदान किये जाने के लिए अधिसूचित किया गया है। चयनित आवेदकों को अटैच्ड टॉयलेट सहित नये कक्षों के निमार्ण हेतु प्रति कक्ष रू0 60,000/- तथा पूर्व से निर्मित कक्षों के साज-सज्जा हेतु रू0 25,000/- प्रति कक्ष अधिकतम 06 कक्ष तक की राज सहायता प्रदान की जायेगी।
योजना का लाभ प्रदान किये जाने हेतु अगोड़ा के अन्तर्गत अगोड़ा, भंकुली, गजोली, दासडा़ व नौगांव जबकि घुत्तू ट्रैकिंग ट्रक्शन के अन्तर्गत घुत्तू, रानीडाल, ऋषिधार, सत्याल, मल्ला मेहरगांव आदि गांवों को अधिसूचित किया गया है। सचिव पर्यटन श्री दिलीप जावलकर ने बताया कि लाभार्थियों का चयन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित समिति के माध्यम से किया जायेगा, और मूल्यांकन समिति के परीक्षण के उपरान्त प्रत्यक्ष लाभ हस्तान्तरण के माध्यम से अनुदान की राशि लाभार्थियों को अन्तरित की जायेगी। सम्बन्धित जनपदों के जिला पर्यटन विकास अधिकारी चयन समिति के सचिव और मूल्याकंन समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य करेगें।
उन्हांने कहा कि इस योजना का उद्देश्य ट्रैकिंग टूरिज्म की सम्भावनाओं वाले दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यटकों हेतु आवासीय सुविधायें स्थापित करते हुए राज्य में साहसिक पर्यटन को नई ऊँचाइयाँ प्रदान करना है। उन्हांने कहा कि राजकीय सहायता देकर सरकार स्थानीय लोगों को सशक्त कर रही है, ताकि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत किया जा सके। पलायन को रोकने तथा ग्रामीण क्षेत्रों को पर्यटन के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में यह योजना कारगर सिद्ध होगी। योजना के अन्तर्गत पारम्परिक पहाड़ी शैली में बने भवनों को प्राथमिकता दी जायेगी। सम्बन्धित गांव के मूल निवासी ही योजना का लाभ ले सकेंगे। यह योजना पोस्ट कोविड काल में देश के अन्य शहरों से वापस लौटे युवा उद्यमियों के लिए प्रोत्साहन सिद्ध होगी और इस प्रकार रिर्वस माइग्रेशन को बढ़ावा देने का काम करेगी।


प्रभारी जिलाधिकारी ने जनपद पौड़ी गढवाल में राज्यस्थापना दिवस सफल आयोजन की जिम्मेदारियां बांटी।

जनपद में 21 वां राज्य स्थापना दिवस समारोह की तैयारी को लेकर प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी श्री आशीष भटगांई ने संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक ली। संबंधित अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपते हुए सफल आयोजन हेतु दिये आवश्यक दिशा-निर्देश। जबकि अपर जिलाधिकारी डाॅ. एस.के. बरनवाल को आयोजित कार्यक्रम के मिनट टू मिनट बनाने के निर्देश दिये। प्रदेश के मा. काबीना मंत्री/जनपद प्रभारी मंत्री श्री सुबोध उनियाल की अध्यक्षता में 09 नवम्बर, 2020 को राज्य स्थापना दिवस मनाया जायेगा। प्रभारी जिलाधिकारी ने समुचित कार्यक्रम में सामाजिक दूरी का अनुपालन करने, मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग कराने हेतु दिये आवश्यक दिशा-निर्देश। साथ ही उपस्थित जन-मानस को मास्क वितरण करने तथा सेनिटाईज की व्यवस्था बनाये रखने को कहा।
जिला कलेक्ट्रेट परिसर एवं रामलीला मैदान पौड़ी में स्थापना दिवस कार्यक्रम आयोजन को लेकर प्रभारी जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कार्यक्रम स्थल पर जन-जागरूकता होर्डिंग्स, बैनर, पोस्टर, फ्लैक्स आदि लगाने के निर्देश दिये, जो कोविड-19 जन-जागरूकता एवं विभागीय योजनाओं से संबंधित होंगे। शासनादेशानुसार 07 नवम्बर, से 11 नवम्बर, 2020 तक सभी राजकीय भवनों, पर्यटक आवास गृह, जी.एम.वी.एन को प्रकाशमान किया जायेगा। इस अवसर पर जिला पूर्ति विभाग द्वारा पी.वी.सी. कार्ड का शुभारम्भ कर वितरण किया जायेगा। वहीं सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग, उत्तराखण्ड एवं जिला सूचना कार्यालय पौड़ी द्वारा प्रकाशित विकास पुस्तिका का विमोचन किया जायेगा। वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भी कोविड-19 के संबंध में एवं सरकार की जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जायेगी। जनपद के अन्तर्गत समस्त अधिशासी अधिकारी नगरपालिका/नगर पंचायत को निर्देशित किया गया कि अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत विशेष सफाई अभियान चलाकर प्लास्टिक कूड़ा एकत्रित कर निस्तारण करवाना सुनिश्चित करें। वहीं समस्त विभागाध्यक्ष/कार्यालयाध्यक्ष को भी निर्देशित किया कि अपने-अपने कार्यालयों में विशेष सफाई अभियान चलाना सुनिश्चित करें।
इस मौके पर अपर जिलाधिकारी डाॅ. एस.के. बरनवाल, सीओ वन्दना वर्मा, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, एपीडी सुनील कुमार, मुख्य उद्यान अधिकारी डाॅ. नरेन्द्र सिंह, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी संजय शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी के.एस. रावत, जिला समाज कल्याण अधिकारी सुनीता अरोड़ा, पुरात्व अधिकारी पे्रम चन्द्र ध्यानी, अधिशासी अधिकारी नगरपालिका पौड़ी प्रदीप बिष्ट सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.