मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री ने पेयजल परियोजनाओं की समीक्षा की वेबपोर्टल लॉच की##एम्स ऋषिकेश में भर्ती कॅरोना संदिग्धों की संख्या 6 हुई ##कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होगी-विजय बिष्ट##खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने की ऐडवाजरी जारी## परियोजनाओं की समीक्षा की वेबपेर्टल लॉच की##एम्स ऋषिकेश में भर्ती कॅरोना संदिग्धों की संख्या 6 हुई ##कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होगी-विजय बिष्ट##खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने की ऐडवाजरी जारी।

समाचार प्रस्तुति-नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

मुख्यमंत्री ने पेयजल परियोजनाओं की समीक्षा की वेबपेर्टल लॉच की##एम्स ऋषिकेश में भर्ती कॅरोना संदिग्धों की संख्या 6 हुई ##कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होगी-विजय बिष्ट##खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने की ऐडवाजरी जारी##
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को सचिवालय में पेयजल परियोजना अन्तर्गत कार्यों की समीक्षा हेतु एनआईसी द्वारा तैयार वेब पोर्टल को लांच किया। विश्व बैंक पोषित अर्द्धनगरीय पेयजल योजनाओं, जल शक्ति मिशन एवं अन्य पेयजल योजनाओं  का अनुश्रवण एवं मूल्यांकन इस ऑनलाइन पोर्टल से किया जायेगा। इस पोर्टल के माध्यम से पेयजल योजनाओं की कार्य प्रगति, डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट, योजना के तहत लगाये गये एवं अवशेष कनेक्शनों की जानकारी भी प्राप्त होगी।  
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने अधिकारियों को निर्देश दिये की पेयजल योजनाओं की प्रतिमाह मॉनिटरिंग कर प्रगति रिपोर्ट दी जाय। जल शक्ति मिशन एवं अर्द्धनगरीय पेयजल योजनाओं के सफल संचालन के लिए कार्यों की निश्चित समयावधि तय की जाय। नमामि गंगे के तहत अवशेष कार्यों को जल्द पूर्ण किया जाय।
सचिव पेयजल श्री अरविन्द सिंह ह्ंयाकी ने जानकारी दी कि राज्य के  अर्द्धनगरीय क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति में सुधार के लिए 385.81 करोड़ रूपये की 12 पेयजल योजनाओं का कार्य प्रगति पर है। विश्व बैंक पोषित अर्द्धनगरीय पेयजल योजना के अन्तर्गत प्रदेश में 22 अर्द्धनगरीय क्षेत्र चिन्हित हैं। इस योजना के तहत 4.39 लाख लोगों को प्रतिदिन 12 से 16 घण्टे पेयजल आपूर्ति करने का लक्ष्य रखा गया है।
इस अवसर पर विधायक श्री पुष्कर सिंह धामी, मुख्यमंत्री के आईटी सलाहकार श्री रविन्द्र दत्त, एमडी स्वजल श्री उदयराज सिंह एवं एनआईसी के अधिकारी उपस्थित थे।  
————————————————–अपडेट-एम्स में कोरोना वायरस आशंकित भर्ती मरीजों की संख्या 6, बुधवार देररात रुड़की निवासी 81 वर्षीय बुजुर्ग को एम्स के ट्रामा सेंटर स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। उक्त व्यक्ति गले में दर्द, नाक बहने व जुकाम की शिकायत से पीड़ित है, उसे लगातार 16 दिनों से ठंड लगने के साथ साथ बुखार की शिकायत बनी हुई है। दवा लेने पर भी उसकी सेहत में कोई सुधार नहीं हुआ, मरीज के अनुसार हाल में उसका बेटा थाइलैंड गया था और फिर बैंकाॅक से दिल्ली होते हुए रुड़की आया, बैंकाॅक व दिल्ली दोनों कोविड पॉजीटिव क्षेत्र है। संस्थान में किए गए सभी परीक्षण सामान्य पाए गए, मरीज का सैंपल लेकर परीक्षण के लिए प्रयोगशाला को भेज दिया गया है। भर्ती मरीजों में तीन की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। तीन मरीजों की रिपोर्ट प्रयोगशाला से प्रतीक्षारत है।
—————————————————-
जनता अफवाहों से बचें,कालाबाजारी करने वालो केे खिलाफ की जायेगी कार्यवाही – विजय बिष्ट
जनता अफवाहों से दूर रहे,सरकार द्वारा जारी एडवाईजरी का पालन करें। हल्द्वानी में मण्डी अथवा बाजार बन्द होने की सूचना गलत है अफवाहो फैलाने वालो व कालाबाजारी करने वालो पर शासन-प्रशासन कडी नजर रखे हुए है । अफवाहों फैलाने वालो के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश प्रशासन को दे दिये गये है। बाजार में आवश्यक वस्तुओ की कोई कमी नही है।
कोरोना वायरस के बचाव व संक्रमण रोकने हेतु नियमित सफाई, सैनिटाईजेशन करे। कोरोना वायरस के मद्देनजर शासन-प्रशासन द्वारा जन-जागरूकता हेतु क्या करें-क्या न करें का अनुपालन अनिवार्य रूप से करें। सामूहिक समारोह एवं भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से परहेज़ करें। यदि किसी व्यक्ति को खाॅसी, जुकाम व बुखार के लक्षण हों तो उससे दूरी बनाते हुए सावधानी बरतें तथा नज़दीकी चिकित्सालय अथवा हैल्पलाईन नम्बर से सम्पर्क करें।
————————————————
आयुक्त खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्री सुशील कुमार ने कहा कि प्रदेश में समस्त पैट्रोल पम्पों, गैस एजेन्सियों, राजकीय अन्न भण्डारों एवं राशन की दुकानों में साबुन, हैण्डवाश तथा सेन्टाइजर रखवाना सुनिश्चित करें तथा उपस्थित कर्मचारी/व्यक्ति आवश्यकतानुसार मास्क का प्रयोग करें। राशन की दुकानों में बायोमैट्रिक ट्रांजेक्शन के अन्य तरीकों का उपयोग करें। बार-बार स्पर्श की गयी सभी सतहों जहां हाथ पहुंचने/छूने से संक्रमण का खतरा हो उसको नियमित सफाई/सेनेटाइज करें। राजकीय खाद्यान्न गोदामों में परिवहन एवं लदान-ढुलान में लगे व्यक्तियों को भी आवश्यकतानुसार मास्क का प्रयोग करने हेतु निर्देशित करें।
आयुक्त खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति ने  प्रदेश के सभी जिला पूर्ति अधिकारियों को एडवायजरी दी है कि शासन स्तर से कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति पर निगरानी रखी जा रही है एवं निरन्तर समीक्षा की जा रही है। कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण प्रबंधन के अन्तर्गत कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सभी जिला पूर्ति अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि कार्यालयों को स्वच्छ रखें, बैठकों का आयोजन न करते हुए वीडियो कान्फ्रेंस का उपयोग करें। जिन कार्मिकों को खांसी, जुकाम एवं सांस लेने में तकलीफ के लक्षण दिखाई दे, उन्हें घर से कार्य करने की अनुमति प्रदान की जाय।

Leave a Reply

Your email address will not be published.