मुख्यमंत्री ने डांडीकांठी क्लब की स्मारिका का विमोचन किया।#जिलाधिकारी गढवाल ने दिव्यांग सरकारी कर्मचारियों व स्वरोजगारियों का सम्मान किया-Janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

 

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास में डांडी कांठी क्लब की स्मारिका 2021 ‘दृढ़ संकल्प’ का विमोचन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस स्मारिका में डांडी कांठी क्लब द्वारा उत्तराखण्ड की संस्कृति और उत्तराखण्ड आंदोलन की गाथा, लोक संस्कृति, स्थानीय परंपराओं एवं स्थानीय पर्वों के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया गया है। स्मारिका में कोविड संक्रमण के बचाव से संबंधित विभिन्न जानकारियों का भी समावेश किया गया है।
डांडी कांठी क्लब के अध्यक्ष श्री विजय भूषण उनियाल ने कहा कि डांडी कांठी क्लब का उद्देश्य ही सामाजिक सरोकारों को बढ़ावा देना रहा है। अपनी संस्कृति एवं सांस्कृतिक विरासत को विश्व पटल पर रखने का भी हमारा प्रयास है। पर्वतीय क्षेत्रों से दूर रह रहे प्रवासियों को अपनी समृद्ध लोक संस्कृति से परिचित कराना भी क्लब का उद्देश्य रहा है। उन्होंने कहा कि इसी के दृष्टिगत क्लब की स्मारिका दृढ़ संकल्प का प्रकाशन किया गया है।
इस अवसर पर डांडी कांठी क्लब के महासचिव श्री कृष्णानन्द भट्ट, लोक गायक श्री चन्द्र दत्त सुयाल, पार्षद श्री कविन्द्र सेमवाल, श्री नरेश रावत, श्री ललित मोहन लखेड़ा, श्री प्रकाश बडोनी, श्री राम चमोली, श्री राजनीश सेमवाल, श्री राकेश पुरोहित, श्री विजेन्द्र सजवाण, श्री नीरज जोशी, श्री कुलदीप नेगी आदि उपस्थित थे।


जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ विजय कुमार जोगदण्डे ने सरकारी कार्यालयों में दक्षता पूर्ण अपने कार्यों का निर्वहन करने तथा स्वतः स्वरोजगार के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाले दिव्यांगजनों को सम्मानित किया।
शुक्रवार को जिलाधिकारी डा0 जोगदण्डे ने अपने कार्यालय कक्ष में दक्ष दिव्यांग कर्मचारी विनीत पंवार सांख्यकीय सहायक बाल विकास परियोजना पोखड़ा और स्वतः रोजगार श्रेणी में कांता प्रसाद सहारा कम्यूनिकेशन बस अड्डा पौड़ी गढ़वाल का चयन राज्य स्तरीय दिव्यांग पुरस्कार 2021 में होने पर प्रशस्ति पत्र एवं मेडल से सम्मानित किया। साथ ही पांच-पांच हजार के चेक भी वितरित किए।
जिलाधिकारी डॉ जोगदण्डे ने बताया कि प्रदेश स्तर पर समाज कल्याण विभाग के तत्वाधान मे हर जिले में विभिन्न सरकारी कार्यालयों में दक्षता पूर्ण अपने कार्यों का निर्वहन करने वाले दिव्यांगों को चयनित किया जा रहा है। साथ ही स्वतः रोजगार कर दिव्यांग जो दूसरे लोगों को प्रोत्साहित कर रहे है उन्हें चयनित कर सम्मानित करने का कार्य समाज कल्याण विभाग द्वारा किया जा रहा है।  बाल विकास विभाग से चयनित विपिन पंवार को सरकारी विभाग में दक्ष दिव्यांग श्रेणी में चयनित कर सम्मानित किया गया। जबकि  स्वरोजगार के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाले  दिव्यांग कांता प्रसाद को स्वतः रोजगार श्रेणी में सम्मानित किया गया। इस मौके पर जिलाधिकारी ने शासन से प्राप्त पांच-पांच हजार के चेक भी वितरित किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.