मुख्यमंत्री टी.एस.रावत ने राइंका देवीखेत की हीरक जयन्ती मे किया प्रतिभाग।##मुख्यमंत्री ने राइंका जयहरीखाल के निर्माणाधीन भवन का निरीक्षण किया।##एम्स ऋषिकेश ने उ.प्र.के बिजनौर में वृहद स्वास्थ्य शिविर का किया आयोजन। ##

मुख्यमंत्री टी.एस.रावत ने राइंका देवीखेत की हीरक जयन्ती मे किया प्रतिभाग।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को द्वारीखाल, पौड़ी गढ़वाल में राजकीय इण्टर कॉलेज देवीखेत के हीरक जयन्ती समारोह में प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस क्षेत्र के स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों के सम्मान में उनका स्मारक बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के तीन वर्ष पूर्ण होने वाले हैं। प्रदेश की जनता से हमने वायदा किया था कि हम राज्य के विकास एवं भ्रष्टाचार मुक्त सरकार चलायेंगे। पी.एम.जी.एस.वाई में सबसे अधिक दस अवार्ड उत्तराखण्ड को मिले हैं। गांवों को सड़को से जोड़ने के लिए राज्य सरकार ने गंभीरता से प्रयास किये। देश में सड़कों के ग्रामीण संयोजन में उत्तराखण्ड को देश में प्रथम स्थान मिला है। जन सहयोग एवं सरकार की मंशा से विकास में तेजी आती है।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि उत्तराखण्ड में 17 विद्यार्थियों पर औसतन एक अध्यापक है, देश में छात्र-शिक्षक अनुपात में सबसे अच्छी स्थिति उत्तराखण्ड की है। आज रोजगार परक एवं गुणवत्तायुक्त शिक्षा पर ध्यान देने की जरूरत है। दुनिया की डिमाण्ड के हिसाब से शिक्षा में गुणात्मक सुधार पर बल देना होगा। उत्तराखण्ड में लगभग एक हजार विद्यालय ऐसे हैं, जिनमें छात्र संख्या 10 से कम है। शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए कम छात्र संख्या वाले विद्यालयों को क्लब किया गया है।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इन तीन वर्षो में राज्य सरकार की कोशिश रही है कि ग्रामीण क्षेत्रों से पलायन रूके। प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए पर्वतीय क्षेत्रों पलायन रूकना जरूरी है। पर्वतीय क्षेत्रों में लोगों की आजीविका के साधन बढ़ाने के लिए राज्य सरकार प्रयासरत है। राज्य सरकार द्वारा किसानों को बिना ब्याज के एक लाख रूपये तक का ऋण तथा स्वयं सहायता समूहों को बिना ब्याज के 05 लाख रूपये का ऋण दिया जा रहा है। गौचर मेले में सात दिन में साढ़े छः करोड़ रूपये का कारोबार हुआ, जिसमें से 61 लाख का कारोबार स्थानीय महिलाओं ने किया। स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देना जरूरी है, इस दिशा में उत्तराखण्ड में महिला स्वयं सहायता समूह अच्छा कार्य कर रहे हैं।
इस अवसर पर विधायक श्रीमती ऋतु खण्डूड़ी, भाजपा के जिलाध्यक्ष श्री सम्पत सिंह रावत, उत्तराखण्ड संस्कृति साहित्य एवं कला परिषद के उपाध्यक्ष श्री घनानन्द, सचिव शिक्षा श्री आर. मीनाक्षी सुंदरम आदि उपस्थित थे।
———————————————————
मुख्यमंत्री ने राइंका जयहरीखाल के निर्माणाधीन भवन का निरीक्षण किया।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को राजकीय इण्टर काॅलेज जयहरीखाल के जीर्णोद्धार एवं नवीनीकरण कार्यों का शिलान्यास तथा निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि जयहरीखाल में बन रहा यह आवासीय विद्यालय एक अलग तरह का विद्यालय होगा। इस विद्यालय में बच्चों को उच्च गुणवत्ता की सुविधाएँ उपलब्ध कराई जायेंगी। इस विद्यालय में परीक्षा के आधार पर चयनित प्रतिभाशाली बच्चों को प्रवेश मिलेगा। आर्थिक रूप से गरीब परिवारों के बच्चों को यहां पर शिक्षा के समान अवसर दिये जायेंगे। यह आवासीय विद्यालय प्रतिभाशाली बच्चों के लिए होगा।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस विद्यालय में स्थानीय बच्चों की जो पढ़ाई होती है, वह यथावत होती रहेगी। इस आवासीय विद्यालय के लिए हंस फाउण्डेशन सहयोग कर रहा है। हंस फाउण्डेशन राज्य में पांच सौ करोड़ रूपये से अधिक का कार्य कर रहा है। स्वास्थ्य सुविधाओं, स्कूल बसों एवं पेयजल के क्षेत्र में हंस फाउण्डेशन ने राज्य के लिए काफी सहयोग दिया है। पौड़ी जनपद में हंस फाउण्डेशन द्वारा एक नेशनल स्किल इंस्टीट्यूट बनाया जा रहा है। बच्चों को गुणात्मक एवं रोजगारपरक शिक्षा पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। राज्य के बच्चों का भविष्य उज्ज्वल हो इसके लिए राज्य सरकार, बच्चों एवं उनके अभिभावको को मिलकर प्रयास करने होंगे। इस आवासीय विद्यालय में उच्च गुणवत्ता के साथ ही बच्चों के बहुआयामी विकास पर ध्यान दिया जायेगा।
इस अवसर पर सचिव विद्यालयी शिक्षा श्री आर. मीनाक्षी सुंदरम, पूर्व भाजपा अध्यक्ष श्री एस.एस. बिष्ट, जीलाधिकारी पौड़ी श्री धीराज सिंह गब्र्याल, एस.एस.पी पौड़ी श्री दलीप सिंह कुंवर, आदि उपस्थित थे।
—————————————————-
एम्स ऋषिकेश ने उ.प्र.के बिजनौर में वृहद स्वास्थ्य शिविर का किया आयोजन।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के तत्वावधान में बिजनौर उत्तरप्रदेश में वृहद स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें एम्स के चिकित्सकों ने 400 से अधिक मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। रविवार को फुलवारी लौन बैंकट हॉल, चंदक बिजनौर में लोकराज फाउंडेशन की ओर से एम्स ऋषिकेश के सहयोग से राजा महेंद्र प्रताप की 133 वीं जयंती के उपलक्ष्य में स्वास्थ्य शिविर आयोजित किया गया। जिसमें एम्स ऋषिकेश, एम्स दिल्ली व बिजनौर के वरिष्ठ चिकित्सकों ने प्रतिभाग किया गया। मुख्य अतिथि एम्स ऋषिकेश के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत की देखरेख में आयोजित वृहद स्वास्थ्य शिविर में चिकित्सकों की टीम ने आसपास के समीपवर्ती गांवों से आए 400 से अधिक मरीजों ने स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत ने कहा कि देश के उत्थान के लिए महिलाओं का शिक्षित होना अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि यदि देश की विकास दर को बढ़ाना है तो इसके लिए महिलाओं को अधिक से अधिक शिक्षित करना होगा। निदेशक प्रो.रवि कांत ने कहा कि शिक्षित महिलाओं से ही देश का सार्थक विकास हो सकता है। उन्होंने बताया कि शिक्षित महिलाओं से ही स्वस्थ देश व समाज का निर्माण हो सकता है। शिविर में संयोजक चौधरी रावेंद्र सिंह, फाउंडेशन के अध्यक्ष डा. एसके काकरान, डा. बीएल चौधरी, डा. सॉविक, डा.सनी चौधरी, डा.तुषार राठी, डा.संदीप, डा. भियांराम,डा.सुधीर राठी, डा.रघु, डा. निखिल, डा.विनोद, डा.हृदेश, डा.नरेंद्र, डा.राजेश कुमार, डा.प्रशांत जैन,डा.राघवेंद्र,डा.देबाशीष, डा.सोफिया, डा.संदीप,डा. अमित कुमार सैनी, डा. रमेश प्रताप, डा. श्रीनिवास, त्रिलोक सिंह, राम सिंह, प्रकाश आदि ने सहयोग किया।
—————————————————-
“सक्षम” की द्वारीखाल कार्यकारिणी गठित

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के अनुसांगिक संगठन समदृष्टि क्षमता विकास एवं अनुसंधान मंडल (सक्षम) के द्वारीखाल ब्लॉक की कार्यकारिणी का आज विधिवत गठन कर लिया गया है। जिलाध्यक्ष कपिल रतूडी की अध्यक्षता में आज द्वारीखाल के देविखेत में एक बैठक का आयोजन किया गया है जिसमे सर्वसम्मति से ब्लॉक अध्यक्ष पद पर नरेश नैथानी, उपाध्यक्ष पद पर अजीत भंडारी, सचिव पद पर सुभाष नेगी, कोषाध्यक्ष पद पर सतेंद्र बलूनी, चुने गए है, जबकि गणेश गुसाईं , बृजमोहन दुदपुड़ी, नरेंद्र पाल सिंह, मनोज डबराल, देवेंद्र नेगी व मनोज गुसाईं सर्व सम्मति से सदस्य चुने गए है। ब्लॉक् महिला प्रमुख के पद पर रेनू उनियाल को मनोनीत किया गया। जिलाध्यक्ष सक्षम कपिल रतूडी ने कहा कि सक्षम संघ का ही राष्ट्रीय स्तर का संगठन है जो समाज के दिव्यांग जनों के उत्थान के लिये कार्य कर रहा है। द्वारीखाल ब्लॉक के संयोजक प्रकाश चन्द्र डबराल ने कहा कि क्षेत्र के जितने दिव्यांग जन है उनसे व्यक्तिगत सम्पर्क किया जाएगा,और उनको आवश्यकता अनुसार स्वास्थ्य लाभ जैसे- उनका मुफ्त इलाज,कृत्रिम अंग,या रोजगार हेतु सभी सुविधाएं उपलब्ध करवायीं जाएगीं। शीघ्र ही सम्पूर्ण पौड़ी जिले में ब्लॉक स्तर पर कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा।
बैठक का संचालन जिला सह सचिव हेमंत मझेड़ा ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.