मिश्र में हो रहे जलवायु परिवर्तन पर अ.रा. सम्मेलन में भाग लेने रवाना हुए जनमेजय व स्निग्धा तिवारी# पौड़ी गढवाल के जिलाधिकारी व  एसएसपी अंकिता भंडारी के माता पिता से मिले।#सेवानिवृत व्यक्ति ने गाँव आकर की अपनी जमीन आबाद।www.janswar.com

 

-अरुणाभ रतूड़ी

 

जलवायु परिवर्तन पर मिस्र में हो रहे अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेने रवाना हुए जन्मेजय और स्निग्धा तिवारी

 

अल्मोड़ा (अशोक कुमार पाण्डेय)अल्मोड़ा के जन्मेजय तिवारी और नैनीताल उच्च न्यायालय की अधिवक्ता स्निग्धा तिवारी जलवायु परिवर्तन पर 6 से 18 नवंबर तक मिस्र में शर्म अल शेख में हो रहे अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन कॉप 27 में भाग लेने भी दिल्ली से रवाना हो गए हैं। यह दोनों युवा भाई बहन (संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क ऑफ क्लाइमेट चेंज कॉन्फ्रेंस UNFCC द्वारा आयोजित सम्मेलन में भागीदारी करेंगे।)
ज्ञातव्य है कि ग्लोबल वार्मिंग व जलवायु परिवर्तन पर दुनिया की सरकारों एवं नागरिक समाज की चिंताओं पर विचार विमर्श का सर्वोच्च मंच है।
शर्म अल शेख रवाना होने से पहले इन युवाओं ने कहा कि सम्मेलन के दौरान भारत और दुनिया के अन्य क्षेत्रों से सम्मेलन में पहुंचने वाले युवाओं के साथ मिलकर इस वैश्विक समस्या के हल की दिशा में आगे बढ़ने के लिए एकजुटता से प्रयास करेंगे।
जन्मेजय ने कहा कि सामाजिक विकास के लिए पर्यावरणीय न्याय सामाजिक न्याय के बिना पूरा नहीं हो सकता इसके लिए सरकारों के साथ समुदायों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सार्थक प्रयास जरूरी हैं।
सम्मेलन में भागीदारी करने जा रहे इन युवाओं ने कहा कि इस सम्मेलन में भारत जैसे विकासशील देशों की समस्याओं को भी सामने लाने का प्रयास करेंगे।
स्निग्धा और जन्मेजय उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी एवं स्वर्गीय श्रीमती मंजू तिवारी के पुत्री एवं पुत्र हैं जो गत वर्ष ग्लासको आयरलैंड में हुए कॉप 26 में भागीदारी कर चुके हैं।

*********

पौड़ी गढवाल के जिलाधिकारी व  एसएसपी  अंकिता भंडारी के माता पिता से मिले।

जिलाधिकारी डॉ0 आशीष चौहान व वरिष्ट पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने आज स्व0 अंकिता के गांव पहुंचकर उनके माता-पिता से मुलाकात कर सांत्वना दी। जिलाधिकारी व वरिष्ट पुलिस अधीक्षक नेे अंकिता के परिजनों को अपना संपर्क नम्बर दिया और कहा कि किसी भी समय किसी भी प्रकार की समस्या या परेशानी हो तो बिना झिजके इन नम्बरों पर संपर्क कर सकते। कहा कि इस दुखः की घड़ी में जनपद का राजस्व व पुलिस प्रशासन अंकिता के परिजनों के साथ है तथा किसी भी शिकायत या समस्या का हर संभव समाधान निकाला जा सकेगा।
जिलाधिकारी ने अंकिता के पिता से कहा कि उनका बेटा अजय को सीए की पढाई में अड़चनें ना आने पाए इस हेतु जिलाधिकारी व वरिष्ट पुलिस अधीक्षक स्वयं भी उनसे संपर्क करते रहेंगे। अंकिता ने परिजनों ने जिलाधिकारी व वरिष्ट पुलिस अधीक्षक को पूरी व्यथा सुनाई, जिसपर वरिष्ट पुलिस अधीक्षक ने कहा कि एक वार गुजरे हुए समय को वापस नहीं लाया जा सकता है इसलिए परिजनों को हिम्मत से काम लेकर समाज में आगे बढ़ना होगा। कहा कि पुलिस प्रशासन द्वारा हर संभव मदद व सहयोग निरंतर दिया जाता रहेगा।

********

सेवानिवृत व्यक्ति ने गाँव आकर की अपनी जमीन आबाद।

गजा(डी.पी.उनियाल)  शहर की चकाचौंध से वापस अपने बंजर जमीन को आबाद कर रहा टंखी सिंह, सुविधाएं उपलब्ध हों फिर से लहलहायेंगे खेत । नरेन्द्र नगर प्रखंड के रौंदेली गांव निवासी टंखी सिंह राणा एम.एस. देहरादून कार्यालय से कोरोनाकाल में सेवानिवृत्त हुए तो उन्होंने अपने गांव की पुश्तैनी खेती और मकान की ओर रुख किया, रौंदेली गांव में टूट चुके मकान के बजाय गजा तमियार रोड पर 9 किलोमीटर पर अपनी पुरानी 200 नाली जमीन तथा पुरानी छानी (मकान) को फिर से लहलहाने का मन बनाया, पुश्तैनी जमीन पर खेती बाड़ी का काम शुरू किया, इन्हीं खेतों में बहुत सालों पहले लहसुन, तम्बाकू, अदरक, मटर, मक्का, राई,पालक, गेंहू, अरहर (तोर) की खूब फसल हुआ करती थी, यही सोचकर टंखी सिंह राणा ने सेवानिवृत्त होने के बाद यहां अपना आशियाना बनाया है और अब राई,मटर,अरहर मक्का लहसुन पैदा कर रहे हैं । उनका कहना है कि पानी और बिजली की काफी दिक्कत है , पानी एक किलोमीटर दूर प्राकृतिक स्रोत से लाना पड़ता है तो प्रकाश व्यवस्था के लिए सौर ऊर्जा प्लेट लगाई गई है, जबकि आधा किलो मीटर दूर दूसरे मकान तक विजली की लाइन है , प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर सौडू नामक यह तोक प्रकृति प्रेमियों को आकर्षित करता है,

Leave a Reply

Your email address will not be published.