प्रधानमंत्री ने वर्चुअल माध्यम से श्री बद्रीनाथ एवं श्री केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा# मुख्यमंत्री इण्डियन पब्लिक स्कूल के 22वें स्थापना दिवस समारोह में प्रतिभाग किया।#वरिष्ठ नागरिक कल्याण संगठन ऋषिकेश ने कोविड वैक्सीन शिविर लगाया।www.janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को वर्चुअल माध्यम से श्री बद्रीनाथ एवं श्री केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय से इस बैठक में वर्चुअल प्रतिभाग किया। इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ. एस.एस.संधु, विशेष कार्याधिकारी पर्यटन विभाग श्री भाष्कर खुल्बे, सचिव पर्यटन श्री सचिन कुर्वे वर्चुअल माध्यम से  सचिव संस्कृति भारत सरकार श्री गोविन्द मोहन, संयुक्त सचिव भारत सरकार श्री रोहित यादव, उप सचिव भारत सरकार श्री मंगेश घिल्डियाल भी उपस्थित थे।
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने श्री बद्रीनाथ एवं श्री केदारनाथ के पुनर्निर्माण कार्यों की प्रगति की पूरी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में श्री केदारनाथ एवं श्री बद्रीनाथ में श्रद्धालुओं की संख्या तेजी से बढ़ेगी। श्री केदारनाथ के निकटवर्ती स्थानों को भी आध्यात्मिक पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने होंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए आस-पास के एरिया के डेवलपमेंट की दिशा में प्रयास करने होंगे। रामबाड़ा और केदारनाथ के बीच श्रद्धालुओं को ठहरने एवं कौन सी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हो सकती हैं, इस ओर भी ध्यान दिया जाए। प्रधानमंत्री ने कहा कि वासुकीताल, गरूड़ चट्टी, लिंचोली और उनके आस-पास श्रद्धालुओं के लिए आध्यात्मिक दृष्टि से क्या किया जा सकता है, इसका पूरा प्लान तैयार किया जाए।
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि श्री बद्रीनाथ के साथ ही आस-पास के क्षेत्रों को मॉडल के रूप में विकसित करने के लिए भी योजना बनाई जाए। माणा गांव एवं उसके आस-पास के क्षेत्रों को रूरल टूरिज्म के लिए विकसित करने की दिशा में भी ध्यान दिया जाए। इनमें स्थानीय कल्चर एवं स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देकर ईकोनॉमी का अच्छा मॉडल बनाया जा सकता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि श्री केदारनाथ एवं श्री बद्रीनाथ में श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत सेवकों एवं डॉक्टरों से भी अधिक से अधिक सहयोग लिया जाए। सरकारी व्यवस्थाओं के साथ जन सहयोग भी जरूरी है।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में श्री बद्रीनाथ एवं श्री केदारनाथ में पुनर्निर्माण के कार्य तेजी से चल रहे हैं। श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत रात-दिन कार्य प्रगति पर है। दिसम्बर 2023 तक सभी कार्यों को पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है। इस साल अभी तक 35 लाख से अधिक पंजीकृत श्रद्धालु चारधाम यात्रा में आ चुके हैं।
मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने श्री केदारनाथ एवं श्री बद्रीनाथ के पुनर्निर्माण कार्यों का प्रस्तुतीकरण दिया। उन्होंने कहा कि श्री केदारनाथ में प्रथम चरण के पुनर्निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं। द्वितीय चरण में 188 करोड़ रूपये के 21 कार्य किये जा रहे हैं। जिनमें से 03 कार्य पूर्ण किये जा चुके हैं, 06 कार्य दिसम्बर 2022 तक पूर्ण हो जायेंगे। अवशेष 12 कार्यों को जुलाई 2023 तक पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है। गौरीकुण्ड में गेट का निर्माण किया जा चुका है। संगम घाट का कार्य जून 2023 तक पूर्ण किया जायेगा। ईशानेश्वर टेम्पल का कार्य भी एक माह में पूर्ण हो जायेगा। मास्टर प्लान के अनुसार सभी कार्य दिसम्बर 2023 तक पूर्ण किये जायेंगे। मुख्य सचिव ने कहा कि श्री बद्रीनाथ में भी मास्टर प्लान के अनुसार तेजी से कार्य हो रहे हैं। शीश नेत्र लेक एवं बद्रीश लेक का कार्य 03 माह में पूर्ण हो जायेगा। रिवर डेवलपमेंट प्रोजेक्ट का कार्य जून 2023 तक पूर्ण हो जायेगा।
सचिव संस्कृति, भारत सरकार श्री गोविन्द मोहन ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से जानकारी दी कि श्री केदारनाथ के लिए संस्कृति मंत्रालय के तहत चार प्रकार के कार्य होने हैं। जो जल्द शुरू किये जायेंगे। सोनप्रयाग में ओरिएंटेशन सेंटर की स्थापना, रामबाड़ा, छोटी लिंचोली, बड़ी लिंचोली एवं चन्नी कैंप में चिन्तन स्थल (ध्यान स्थल), श्री केदारनाथ में शिव उद्यान एवं श्री केदारनाथ में श्री केदार गाथा म्यूजियम का निर्माण किया जायेगा। इन सभी कार्यों की पूरी योजना बनाकर तैयारी कर ली गई है।

*********

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को राजावाला, देहरादून स्थित दि इण्डियन पब्लिक स्कूल के 22वें स्थापना दिवस समारोह में प्रतिभाग किया।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने दि इण्डियन पब्लिक स्कूल परिवार को स्थापना दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा दि इण्डियन पब्लिक स्कूल श्रेष्ठ विद्यालय के रूप में उभर रहा है, विद्यालय शिक्षा में संस्कृति, वैदिक ज्ञान, योग जैसे विभिन्न पाठ्यक्रम को भी जोड़ा गया है। विद्यार्थियों के लिए यह विद्यालय विरासत है, उन्होंने कहा शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करना सेवा का कार्य होता है, अच्छी शिक्षा से ही अच्छे भविष्य का निर्माण होता है।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी का जन्मदिवस सेवा पखवाड़ा के रूप में मनाया जा रहा है, संपूर्ण उत्तराखंड में इसे आगामी 2 अक्टूबर तक मनाया जाएगा, इस अवसर पर पूरे राज्य के अंतर्गत स्वच्छता, रक्तदान, संगोष्ठियां एवं सेवा के अन्य कार्यक्रम किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा हमने भी संकल्प लिया है कि हम आने वाले समय में उत्तराखंड को नशा मुक्त, एवं टी.बी मुक्त उत्तराखंड बनाएंगे, उन्होंने कहा सेवा पखवाड़े के अंतर्गत शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों एवं मेधावी छात्र-छात्राओं को भी सम्मानित किया गया है, उन्होंने कहा हमें अपने जीवन में विकल्प रहित संकल्प के मंत्र के साथ अपने सपनों को साकार करने में जुट जाना चाहिए, उन्होंने कहा समय बहुत बहुमूल्य होता है, जिसका सदुपयोग ही हमारे जीवन को सफल एवं सार्थक बनाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में समान नागरिक संहिता के लिये समिति का गठन किया गया है, जल्द ही समिति के सुझावों के आधार पर फैसला लिया जाएगा। उत्तराखंड राज्य में नई शिक्षा नीति को लागू कर दी गई है एवं 2030 तक संपूर्ण राज्य में नई शिक्षा नीति के तहत पाठ्यक्रम शुरू किये जाए इसके लिए हम प्रतिबद्ध हैं, उन्होंने कहा आज ही प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने वर्चुअल माध्यम से केदारनाथ में हो रहे पुनर्निर्माण कार्य का जायजा लिया है उन्होंने कहा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उत्तराखंड राज्य के अंतर्गत रोड, रेलवे, स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, जैसे प्रत्येक क्षेत्र में तिरुपति के साथ कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने स्कूल के चेयरमैन श्री आर.के. सिन्हा को जन्मदिन की शुभकामनायें भी दी।
इस दौरान कार्यक्रम में विधायक श्री सहदेव सिंह पुंडीर, श्रीमती रीता सिन्हा, विद्यालय निदेशक श्री ए. के. सिंह, संयुक्त सचिव श्रीमती रत्ना सिन्हा, कार्यकारी प्रधानाचार्य श्री मणि सीवी सहित बड़ी संख्या में विद्यार्थी एवं अन्य लोग मौजूद रहे।

********

24 सितम्बर, 2022 को समय 11ः00 बजे विकास भवन सभागार में मा0 सांसद लोकसभा तीरथ सिंह रावत की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति(दिशा) की बैठक आयोजित की जायेगी।

*********

आज  वरिष्ठ नागरिक कल्याण संगठन ऋषिकेश द्वारा एस पी एस चिकित्सालय ऋषिकेश के सहयोग से निरंकारी भवन गंगानगर में कोविड की वैक्सीन लगाने की व्यवस्था की गई। जिसमें 24 लोगों ने वैक्सीन लगवाई। संस्था आपसी सहयोग से वरिष्ठ जनों के कल्याण के लिए 25 वर्षों से कार्यरत है । कार्यक्रम में एस पी एस हॉस्पिटल से अंकित व राहुल सक्सेना , संस्था के अध्यक्ष ब्रम्ह कुमार शर्मा ,हेम कुमार पांडे, अजीत कुमार शर्मा, श्याम सिंह व गणेशी लाल उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.