प्रधानमंत्री ने टीकाकरण के एकवर्ष पूर्ण होने पर इस अभियान से जुड़े लोगों को नमन किया।#प्रधानमंत्री17 जनवरी को डब्ल्यूईएफ के दावोस एजेंडा में ‘स्टेट ऑफ द वर्ल्ड’ पर विशेष भाषण देंगे।-Janswar.comr

-अरुणाभ रतूड़ी

प्रधानमंत्री ने टीकाकरण अभियान के 1 वर्ष पूरे होने पर टीकाकरण अभियान से जुड़े लोगों को नमन किया।

प्रधानमंत्री ने टीकाकरण अभियान में डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों की भूमिका की सराहना की।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने टीकाकरण अभियान के 1 वर्ष पूरे होने पर टीकाकरण अभियान से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को नमन किया है। प्रधानमंत्री ने टीकाकरण अभियान में डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों की भूमिका की सराहना की है। उन्होंने यह भी कहा कि भारत के टीकाकरण कार्यक्रम ने कोविड-19 की स्थिति से निपटने में काफी ताकत बढ़ाई है।

MyGovIndia के एक ट्वीट के उत्तर में, प्रधानमंत्री ने ट्वीट की एक श्रृंखला में कहा;

“आज हम टीकाकरण अभियान का #1 वर्ष पूरा कर रहे हैं।

मैं टीकाकरण अभियान से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को नमन करता हूं।

हमारे टीकाकरण कार्यक्रम ने कोविड-19 से निपटने में काफी ताकत बढ़ा दी है। इसने जीवन को बचाने के साथ-साथ आजीविका की रक्षा की है।

साथ ही, हमारे डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों की भूमिका असाधारण है। जब हम दूर-दराज के इलाकों में लोगों का टीकाकरण करते हुए या हमारे स्वास्थ्य कर्मियों को वहां टीके लेते हुए देखते हैं, तो हमारा दिल और दिमाग गर्व से भर जाता है।

महामारी से लड़ने के लिए भारत का दृष्टिकोण हमेशा विज्ञान आधारित रहेगा। हम अपने देशवासियों की उचित देखभाल सुनिश्चित करने के लिए स्वास्थ्य की बुनियादी सुविधाओं का भी विस्तार कर रहे हैं।

आइए हम सभी कोविड-19 के अनुकूल व्यवहार का पालन करते रहें और महामारी से उबरें।”


प्रधानमंत्री 17 जनवरी को डब्ल्यूईएफ के दावोस एजेंडा में ‘स्टेट ऑफ द वर्ल्ड’ पर विशेष भाषण देंगे।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 17 जनवरी, 2022 को भारतीय समयानुसार रात 8:30 बजे विश्व आर्थिक मंच के दावोस एजेंडा में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘विश्व की वर्त्तमान स्थिति’ (स्टेट ऑफ द वर्ल्ड) पर विशेष भाषण देंगे।

यह वर्चुअल कार्यक्रम 17 से 21 जनवरी, 2022 तक आयोजित किया जाएगा। इसे विभिन्न राष्ट्राध्यक्षों द्वारा संबोधित किया जाएगा, जिनमें शामिल हैं – जापान के प्रधानमंत्री श्री किशिदा फुमियो, यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष श्री उर्सुआ वॉन डेर लेयेन; ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री श्री स्कॉट मॉरिसन; इंडोनेशिया के राष्ट्रपति श्री जोको विडोडो; इज़राइल के प्रधानमंत्री श्री नफ्ताली बेनेट; पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के राष्ट्रपति श्री शी जिनपिंग व अन्य। इस कार्यक्रम में उद्योग जगत की शीर्ष हस्तियाँ, अंतर्राष्ट्रीय संगठन और नागरिक समाज भी भाग लेंगे, जो दुनिया की वर्त्तमान महत्वपूर्ण चुनौतियों पर विचार-विमर्श करेंगे और उनसे निपटने के तरीकों पर चर्चा करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.