प्रदेश में ई-ऑफिस प्रणाली के शुभारम्भ को हुआ एक वर्ष# सचिवालय में आने वाले आगन्तुको के साथ मीडिया प्रतिनिधियों को प्रवेश पास की अनुमति मिली#गणतंत्र दिवस मनाने की तैयारी के लिए डीएम ने ली अधिकारियों की बैठक।#चिन्हित 139 राज्य आन्दोलनकारी प्रकरण पर पुनरीक्षण समिति की बैठक।पढिएJanswar.com में

द्वारा-एन.पी.रतूड़ी

  • प्रदेश में ई-ऑफिस प्रणाली के शुभारम्भ को हुआ एक वर्ष
  • इस अवधि में 4621 पत्रावलियों का किया गया निस्तारण।
  • मुख्यमंत्री भी जुड़े ई-ऑफिस प्रणाली से।
  • इस व्यवस्था के एक वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर मुख्यमंत्री ने किया 4 पत्रावलियों का किया ई-आफिस के तहत निस्तारण।

        मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत द्वारा भी ई-ऑफिस प्रणाली से पत्रावलियों का निस्तारण प्रारम्भ कर दिया है। गुरूवार को सचिवालय में मुख्यमंत्री ने 4 पत्रावलियों का निस्तारण ई-ऑफिस के तहत किया गया। इनमें मुख्यमंत्री घोषणा के तहत देहरादून में स्थापित होने वाले शहीद स्मारक, खेरासेंण में सामुदायिक बारात घर की स्थापना, त्यूणी में फायर यूनिट की स्थापना तथा स्वास्थ्य विभाग की चिकित्सकों से सम्बन्धित पत्रावली सम्मिलित रही। प्रदेश में 21 जनवरी 2020 को ई-ऑफिस प्रणाली का शुभारम्भ हुआ था। इस एक वर्ष की अवधि में 4621 पत्रावलियों का निस्तारण इस प्रक्रिया के तहत किया गया है। अकेले गुरूवार का ही 26 पत्रावलियों का निस्तारण किया गया है।
         इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि ई-आफिस प्रणाली से कार्य संचालन में  से सचिवालय के कार्यों में उत्तरदायी, प्रभावी और पारदर्शी व्यवस्था सुनिश्चित होगी। इससे फाइल निस्तारण के कार्य में तेजी आयेगी और कार्य प्रबंधन में सुधार आयेगा। इससे उच्च स्तर पर प्रभावी समीक्षा भी की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि इससे महत्वपूर्ण विषयों के ऑनलाईन होने से कार्यों में शीघ्रता व पारदर्शिता आयेगी।


मुख्यमंत्री के निर्देश पर सचिवालय में आने वाले आगन्तुको के साथ मीडिया प्रतिनिधियों को दी गई प्रवेश पास की अनुमति।

    कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत इसके रोकथाम एवं बचाव हेतु सचिवालय प्रशासन विभाग द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था हेतु गणमान्य व्यक्तियों/सचिवालय प्रवेश पत्र धारक विभागीय अधिकारियों एवं सचिवालय के अधिकारियों/कर्मचारियों को छोडते हुये अन्य सभी बाहरी व्यक्तियों का सचिवालय में प्रवेश पूर्णतयः वर्जित किया गया था।

इस सम्बन्ध में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के निर्देश पर अब वर्तमान परिदृष्य में सम्यक विचारोपरान्त संक्रमण में आयी कमी के दृष्टिगत उक्त आदेश को निरस्त करते हुये सरकारी अथवा व्यक्तिगत कार्य से सचिवालय में आने वाले बाहरी आगन्तुकों / मीडिया से सम्बन्धित पत्रकारों को पूर्व की भांति कतिपय प्रतिबन्धों के साथ सचिवालय में प्रवेश हेतु अनुमति प्रदान की गई है।
सचिवालय में आने वाले आगन्तुक द्वारा मास्क/ फेस कवर का उपयोग अनिवार्य रूप से किया जायेगा बगैर मास्क/फेस कवर के आगन्तुक को सचिवालय परिसर में प्रवेश की अनुमति नही दी जायेगी।
मुख्य सुरक्षा अधिकारी का दायित्व होगा कि वे अपने अधीन सुरक्षा कर्मियों को निर्देश दें कि ये आगन्तुक को स्पष्ट अवगत कराये कि जिस अधिकारी से भेंट हेतु प्रवेश पत्र दिया गया है उसी अधिकारी से भेंट करें, सचिवालय में अन्य अधिकारियों के कार्यालय में अनावश्यक प्रवेश न करें, शासकीय कार्यों में व्यवधान उत्पन्न न हो।
इस सम्बन्ध में अपर मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी द्वारा जारी कार्यालय ज्ञाप में यह भी स्पष्ट किया गया है कि आगन्तुक पास जारी होने के समय से दो घण्टे की अवधि से अधिक समय तक सचिवालय परिसर में नहीं रहेंगे।


गणतंत्र दिवस मनाने के लिए डीएम ने ली अधिकारियों की बैठक।

जनपद पौड़ी गढवाल में गणतंत्र दिवस 26 जनवरी, 2021 को धूमधाम से मनाये जाने को लेकर जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने आज विकास भवन पौड़ी में संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक ली। गणतंत्र दिवस को आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के तहत पुलिस, होमगार्ड, शिक्षा, स्वास्थ्य, नगर पालिका, नगर निगम, खेल, कृषि, संस्कृति आदि संबंधित विभागों को जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं। दिनांक 26 जनवरी, 2021 को प्रातः 09ः30 बजे समस्त सरकारी/गैर सरकारी कार्यालय/शिक्षण संस्थाओं में झण्डारोहण एवं राष्ट्रगान किया जायेगा।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को जिला चिकित्सालय परिसर में फल वितरण, नुक्कड़ नाटक के साथ-साथ कोविड-19 से सुरक्षा/बचाव व टीकाकरण अभियान के प्रचार-प्रसार हेतु कण्डोलिया मैदान में आई.ई.सी. गतिविधि का कार्य करवाने के निर्देश दिये। जिला सूचना अधिकारी एवं अधिशासी अधिकारी नगरपालिका पौड़ी को 25 जनवरी को सांय 06ः00 बजे से 09ः00 बजे तक तथा 26 जनवरी को प्रातः 06ः00 बजे से पूर्वाह्न 11ः00 बजे तक सार्वजनिक/प्रमुख चैराहों पर लाउडस्पीकर के माध्यम से देशभक्ति एवं देशप्रेम गीतों का प्रसारण करने के निर्देश दिये। अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान पौड़ी द्वारा कार्यक्रम स्थल पर टैंकर द्वारा पीने का पानी व सूक्ष्म जलपान तथा मिष्ठान वितरण की व्यवस्था की जायेगी। मुख्य शिक्षा अधिकारी/मुख्य चिकित्सा अधिकारी/जिला सूचना अधिकारी/जिला समाज कल्याण अधिकारी/समन्वयक नेहरू युवा केन्द्र सांस्कृतिक कार्यक्रम हेतु सांस्कृतिक दलों से सम्पर्क कर दिनांक 24 जनवरी तक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को अवगत करायेंगे। उपजिलाधिकारी कोटद्वार को निर्देशित किया गया कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री मुरली सिंह पुत्र श्री रखेल सिंह निवासी मवाकोट मोटाढाक कोटद्वार को उनके घर पर जाकर सम्मानित करने की व्यवस्था करें। जिला विकास अधिकारी/जिला पर्यटन अधिकारी को रिवर्स पलायन के संबंध में विशिष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों/महिलाओं का नाम मय बायोडाटा 24 जनवरी तक जिला कार्यालय पौड़ी को उपलब्ध कराने को कहा गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी पौड़ी एवं अधिशासी अधिकारी नगरपालिका पौड़ी को कण्डोलिया मैदान में थर्मल स्कैनिंग/मास्क/सैनिटाइजर/फेस शील्ड की समुचित व्यवस्था करवाने के भी निर्देश दिये।
निर्धारित कार्यक्रमानुसार दिनांक 25 जनवरी एवं 26 जनवरी, 2021 को सायं 06ः00 बजे से 11ः00 बजे तक समस्त सरकारी भवनों, इमारतों व शहर के मुख्य चैराहों को एल.ई.डी. से प्रकाशमान किया जायेगा। 25 जनवरी को सांय 06ः00 बजे से 09ः00 बजे तक तथा 26 जनवरी को प्रातः 06ः00 बजे से पूर्वाह्न 11ः00 बजे तक मुख्य चैराहों पर देशभक्ति एवं देशप्रेम गीतों का प्रसारण लाउडस्पीकर के माध्यम से जिला सूचना अधिकारी एवं नगरपालिकाआंे द्वारा किया जायेगा। दिनांक 25 जनवरी को प्रातः 08ः00 से 09ः00 बजे तक पौड़ी नगर के समस्त वार्डों में विशेष सफाई अभियान चलाया जायेगा। 26 जनवरी, 2021 को प्रातः 09ः30 बजे समस्त सरकारी/गैर सरकारी कार्यालय/शिक्षण संस्थाओं में झण्डारोहण एवं राष्ट्रगान किया जायेगा। प्रात 10ः00 बजे जिला चिकित्सालय पौड़ी, संयुक्त चिकित्सालय श्रीनगर/कोटद्वार, कुष्ठालय श्रीनगर, जिला कारागार पौड़ी में फल वितरण किया जायेगा। प्रातः 10ः30 बजे कण्डोलिया मैदान पौड़ी में सार्वजनिक ध्वजारोहण/पुलिस परेड व विभागीय झांकी आयोजित की जायेगी तथा प्रस्तुत झांकियों में प्रथम, द्वितीय व तृतीय विजेताओं को पुरस्कार वितरित किये जायेंगे। साथ ही नगर पालिका पौड़ी के सबसे सुन्दर/स्वच्छ वार्ड को पुरस्कार, उत्कृष्ठ कर्मचारियों/विशिष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों/महिलाओं को पुरस्कार भी वितरित किये जायेंगे।

——————————————————————-

चिन्हित 139 राज्य आन्दोलनकारी प्रकरण पर पुनरीक्षण समिति की बैठक

जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल के निर्देशन में आज कलेक्ट्रेट परिसर, पौड़ी में अपर जिलाधिकारी डाॅ. एस.के. बरनवाल ने उत्तराखण्ड आंदोलनकारियों के प्रकरणों के पुनरीक्षण के संबंध में गठित समिति के सदस्यों के साथ बैठक ली। बैठक में जनपद के चिन्ह्ति 139 लोगों के प्रकरण में आ रही दिक्कतों के निस्तारण पर चर्चा की गई। अपर जिलाधिकारी ने कहा कि मानकानुसार ही उत्तराखण्ड राज्य आंदोलनकारी का दर्जा दिया जायेगा। कहा कि आवेदकों के नाम, जन्मतिथि आदि प्रपत्रों में भिन्नता नहीं होनी चाहिए, संबंधित पात्र सही दावा प्रस्तुत करें।
राज्य आन्दोलनकारी पौड़ी श्रीमती बीरा भण्डारी ने चिन्ह्ति सभी 139 लोगों को राज्य आंदोलनकारी का दर्जा दिये जाने की मांग की। इस संबंध में बैठक कल पुनः आयोजित की जायेगी।
इस मौके पर सीओ श्रीनगर श्याम दत्त नौटियाल, निरीक्षक स्थानीय अधिसूचना इकाई पौड़ी मनोज असवाल, आंदोलनकारी प्रतिनिधि विनोद सिंह आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.