प्रत्येक महिला कर्मी का पंजीकरण  महिला गौरा शक्ति एप में करना अनिवार्य-जिलाधिकारी # अल्मोड़ा की जिलाधिकारी ने तहसील भनोली के विकास कार्यों का निरीक्षण कर दिए निर्देश-janswar.com

 

प्रत्येक महिला कर्मी का पंजीकरण  महिलागौराशक्ति एप में करना अनिवार्य-जिलाधिकारी

जिलाधिकारी डॉ0 आशीष चौहान की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में ‘‘कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न कानून’’ से जुड़े प्रावधानों के क्रियान्वयन के संबंध में जनपद स्तरीय टास्क फोर्स समिति की बैठक आयोजित की गयी।
जिलाधिकारी  कहा कि ऐसे सभी विभागों जहां पर महिला कार्मिकों की संख्या 10 या इससे अधिक है वहां पर पृथक महिला शौचालय और पृथक महिला अस्थायी स्टे रूम हो। उन्होंने सभी विभागों को अपने-अपने कार्यालय में तैनात महिला कार्मिकों का विवरण प्रस्तुत करने, सभी  महिलाओं को अनिवार्य रूप से महिला गौरा शक्ति एप्प 7 दिन के अवधि के भीतर डाउनलोड करवाते हुए कृत कार्यवाही की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने ए0एन0एम0, एन0एम0, आंगनवाड़ी कार्यकत्री, नर्सेज, महिला पटवारी, महिला ग्राम विकास अधिकारी व महिला ग्राम पंचायत विकास अधिकारी, महिला प्रधानों इत्यादि से अनिवार्य रूप  से गौरा शक्ति एप्प डाउनलोड करवाने तथा उसना अनिवार्य पंजीकरण करवाने के निर्देश दिये।
उन्होंने बाल विकास विभाग, श्रम विभाग, चिकित्सा विभाग, पूर्ति विभाग इंजीनियरिंग कॉलेज, पुसिल विभाग, राजस्व विभाग, ग्राम्य एवं पंचायतीराज आदि विभाग जहां महिला कार्मिक सर्वाधिक हैं उन विभागों में महिला सुरक्षा कानून का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए विशेष फोकस करने के निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग इस बात को देखें कि जब भी महिला अपराध से जुड़ी कोई शिकायत प्राप्त होती है, तो उसका क्या रेस्पॉन्ड टाइम रहता है तथा उसकी क्या फीडबैक रहती है इसका भी आंकलन करें। जिलाधिकारी ने कहा कि जो भी महिला या पुरूष महिला सुरक्षा के संबंध में बेहतर कार्य करते हैं उनको प्रोत्साहित करने के लिए पुरस्कार-सम्मान दिया जाय। उन्होंने शिक्षा विभाग को ड्राप आउट हुई बालिकाओं की उसका कारण सहित विवरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जहां महिला कार्मिकों की संख्या औसतन है वहां आन्तरिक शिकायत निवारण समिति शीघ्र गठित हो तथा जनपद स्तर पर महिला मित्र प्रकोष्ठ का  भी तत्काल गठन किया जाय। उन्होंने पुलिस विभाग को ऐसे स्थानों जहां पर महिला सुरक्षा की दृष्टिगत स्ट्रीट लाइट लगाई जानी है, उनको परिवहन विभाग के साथ चिन्हित करते हुए उसकी रिपोर्ट दें तथा संबंधित नगर पालिका और उरेड़ा विभाग से वहां पर स्ट्रीट लाइट लगाने हेतु डी0पी0आर0 तैयार करवायी जायेगी।
जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को महिला उद्यमियों और समूहों द्वारा तैयार उत्पादों की बिक्री के लिए पृथक से विक्रय प्लेटफॉर्म उपलब्ध करवाने संबंधी होमवर्क करते हुए अग्रिम कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि गौरा शक्ति एप्प डाउनलोड करने तथा महिलाओं के पंजीकरण का कार्य सभी सरकरी-गैर सरकारी विभाग पूरा करेंगे।
उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी को महिला सुरक्षा तथा लैंगिक भेदभाव समाप्त करने संबंधित कानूनों, योजनाओं और कार्यक्रमों का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के लिए पर्याप्त मात्रा में पम्पलेट-ब्रोशर्स इत्यादि जगह-जगह चस्पा करने और वितरित करने की कार्यवाही पूर्ण करने के निर्देश दिये।
इस दौरान बैठक में वरिष्ट पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे, मुख्य विकास अधिकारी अपूर्वा पांडे, जिला विकास अधिकारी पुष्पेंद्र चौहान, जिला कार्यक्रम अधिकारी जितेंद्र कुमार, आरटीओ अनिता चंद, उद्योग विभाग से आर0सी0 उनियाल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

************-

जिलाधिकारी अल्मोड़ा ने तहसील भनोली के विकास कार्यों का निरीक्षण कर दिए निर्देश


अल्मोड़ा (अशोक कुमार पाण्डेय )- जिलाधिकारी वंदना के नेतृत्व में प्रशासन की टीम ने तहसील भनोली के अंतर्गत विभिन्न विकास योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया तथा जनता के साथ जन सुनवाई कर लोगों की समस्याओं को सुना तथा जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को समस्याओं के निस्तारण के लिए जल्द कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
इस दौरान जिलाधिकारी ने गैराड़ पम्पिंग योजना पेयजल टैंक का स्थलीय निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने बनाये गये पेयजल टैंक की गुणवत्ता की जानकारी सम्बन्धित ग्राम प्रधान व विभागीय अधिकारियों से ली। उन्होंने निर्देश दिये कि जो कार्य अवशेष रह गया है उसे समय से पूर्ण कर लिया जाय। इस दौरान उन्होंने झॉकरसैम मंदिर के समीप पर्यटन विभाग द्वारा बनाये गये ईको हट्स का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि जो हट्स बनाये जाने है उनके संचालन की कार्य योजना समय से बना ली जाय। इस दौरान जिलाधिकारी ने राजकीय उद्यान पटेरिया झॉकरसैम का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने मुख्य उद्यान अधिकारी को निर्देश दिये कि 15 दिसम्बर तक उद्यान में किये जाने वाले कार्यों की योजना का प्लान प्रस्तुत किया जाय। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र पर्यटन की दृष्टि से काफी लोकप्रिय है इसलिए यहॉ पर मूलभूत सुविधाओं को विकसित किया जाय।
इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने ग्राम चौसाला पहुॅचकर ऑगनबाड़ी केन्द्र, प्राथमिक विद्यालय व राजकीय जूनियर हाईस्कूल चौसाला का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने विद्यालय की शिक्षण गतिविधियों की जानकारी सम्बन्धित शिक्षकों से प्राप्त की। जिलाधिकारी ने इस दौरान बच्चों द्वारा बनायी गयी दीवार पत्रिका व अन्य गतिविधियों को देखकर प्रंशसा की। उन्होंने कहा कि जो बच्चे पढ़ाई में कमजोर है उन बच्चों पर विशेष ध्यान दिया जाय। इस दौरान उन्होंने बच्चों हेतु बनाये जा रहे मध्यान्ह् भोजन की गुणवत्ता को देखा। उन्होंने खण्ड विकास अधिकारी को प्राथमिक विद्यालय की क्षतिग्रस्त दीवार को ठीक करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने चौसाला मंे ग्रामवासियों की जन समस्याओं को भी सुना। इस दौरान ग्रामवासियों द्वारा पेयजल, सिंचाई टैंक, राशन कार्डो में यूनिट चढ़ाने, शिक्षकों की कमी होने आदि समस्याओं को जिलाधिकारी के सम्मुख रखा। अधिकांश शिकायतें पेयजल से सम्बन्धित रही। जिस पर जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि एक टीम का गठन कर जल संस्थान व जल निगम के अधिकारी ग्राम में प्रथम चरण में जो भी कार्य हुए है उनका निरीक्षण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि द्वितीय चरण के अन्तर्गत जो भी कार्य होने है उन्हें मार्च तक पूर्ण कर लिया जाय। इस दौरान जिलाधिकारी ने पीएमजीएसवाई द्वारा बनायी जा रही चिल पोखरी सड़क का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने सड़क में हो रहे धसाव को रोकने के लिए पीएमजीएसवाई व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को एक ठोस कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने कृषि व्यवसाय ग्राम्यश्री स्वायत्त सहकारिता धौलादेवी के फल्याट में ग्रोथ सेन्टर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान वहॉ पर महिला समूहों द्वारा उत्पादित स्थानीय उत्पादों की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि ग्रोथ सेन्टर के माध्यम से स्थानीय उत्पादों को अधिक से अधिक प्रोत्साहित किया जाय।
इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने दन्या बाजार का निरीक्षण किया तथा लोगांे की समस्यायें सुनी। इस दौरान जिलाधिकारी ने दन्या बाजार में व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों से दन्या बाजार की समस्याओं के बारे में चर्चा की। व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों द्वारा पार्किग, शौचालय और कूडे के वाहन के यूजर चार्ज को बढ़ाने सहित अनेक जनसमस्यायें रखी। जिस पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को समस्याओं के निस्तारण करने के निर्देश दिये। इस दौरान जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी व मुख्य कृषि अधिकारी को 07 दिसम्बर, 2022 को दन्या बाजार में राशन कार्ड व प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में आ रही समस्याओं के निस्तारण के लिए शिविर आयोजित करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष रमेश बहुगुणा, उपजिलाधिकारी सदर गोपाल चौहान, तहसीलदार बरखा जलाल सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *