पुलिस कर्मियों के निलंबन के खिलाफ परिजनें उत्तराखण्ड क्रांति दल का धरना

-एन.पी.रतूड़ी

पुलिसकर्मियों के निलंबन के खिलाफ परिजनों के समर्थन में उत्तराखंड क्रांति दल ने धरना प्रदर्शन किया। भारी बरसात के बीच उत्तराखंड क्रांति दल के कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों का निलंबन रद्द करने की मांग को लेकर गांधी पार्क पर धरने पर डटे रहे।

यूकेडी के केंद्रीय मीडिया प्रभारी शिव प्रसाद सेमवाल ने कहा कि एक तो सरकार लगातार पुलिस कर्मियों के ग्रेड पर को लेकर झूठ पर झूठ बोल रही है वहीं दूसरी ओर पुलिस के परिजनों द्वारा मात्र एक प्रेस वार्ता करने पर ही पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया।

यूकेडी नेता शिव प्रसाद सेमवाल ने इसे सरकार की दमनकारी नीति बताया और ऐलान किया कि यदि निलंबन वापस नहीं लिया गया तो सरकार के खिलाफ व्यापक आंदोलन छेड़ा जाएगा।

उन्होंने कहा कि सरकार दमन करके परिजनों की जायज मांग को दबाना चाहती है। ऐसा नहीं होने दिया जाएगा।

यूकेडी नेता शिव प्रसाद सेमवाल ने कहा कि सरकार ने पहले पुलिस कांस्टेबल को पहले 8 साल की संतोषजनक सेवा के बाद 4600 ग्रेड पे देने की बात कही थी, उसके बाद यह समय सीमा बढ़ाकर 10 साल कर दी गई और उसके बाद इसे फिर से बढ़ाकर 16 साल कर दिया गया, लेकिन अब ग्रेड पे देने में आनाकानी की जा रही है।

यूकेडी नेताजी शिवप्रसाद सेमवाल ने कहा कि राज्य बनने से पहले भर्ती हुए पुलिस कांस्टेबल को जब 4600 ग्रेड पर दिया जा सकता है तो राज्य बनने के बाद भर्ती हुई पुलिस के जवानों के लिए यह नियम क्यों बदला जा रहा है ! ऐसा कतई नहीं होने दिया जाएगा।

सरकार चाहे कितना भी दमन कर ले लेकिन उत्तराखंड क्रांति दल सरकार के आगे नहीं झुकेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.