पिंकी हत्याकांड का वांछित गिरफ्तार।पुलिस टीम को एस.पी.ने 05हजार तो डीआईजी ने तीस हजार का दिया ईनाम। www.janswr.com

-अरुणाभ रतूड़ी

पिंकी हत्याकांड का शातिर ईनामी हत्यारोपी गुलाब सिंह कर्णप्रयाग क्षेत्र से गिरफ्तार,

गिरफ्तारी से बचने के लिए अलग-अलग राज्यों में पिछले एक वर्ष से बदल रहा था ठिकाने                 13अक्तूबर 21 को पिंकी हत्याकांड राजस्व उपनिरीक्षक क्षेत्र नलधूरा में पंजीकृत मु0अ0सं0- 02/2021 धारा 302 भादवि व 3(2)(5) एसी/एसटी एक्ट बनाम गुलाब सिंह पुत्र जवाहर सिंह निवासी खैता मानमती तहसील थराली चमोली जो कि दिनांक 15 अक्तूबर 2021 को राजस्व क्षेत्र नलधूरा तहसील थराली में पंजीकृत हुआ। चूकि जघन्य अपराध होने के कारण विवेचना राजस्व पुलिस से नियमित पुलिस को दिनांक 28 अक्तूबर 2021 को स्थानांतरित हुयी। घटना के बाद से ही अभियुक्त गुलाब सिंह लगातार फरार चल रहा था। पुलिस के द्वारा गिरफ्तारी के अथक प्रयास के बाद भी अभियुक्त गिरफ्तार नही हुआ। तत्पश्चात माननीय न्यायालय से अभियुक्त के गिरफ्तारी के वारंट प्राप्त किए गए व कुर्की के नोटिस प्राप्त कर कुर्की की कार्यवाही की गयी। अभियुक्त को भगोड़ा घोषित किए जाने के बाद 2500/- रुपए का ईनाम घोषित किया गया तथा ईनामी राशि बढ़ाकर 5000/- रुपए करायी गयी। अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक के दिशा निर्देशन व क्षेत्राधिकारी कर्णप्रयाग के मार्गदर्शन/पर्यवेक्षण में कुशल सुरागरसी,पतारसी करते हुए एसओजी के माध्यम से सर्विलांस की मदद से एक वर्ष से फरार चल रहे अभियुक्त गुलाब सिंह गडिया पुत्र जवाहर सिंह गडिया आयु 34 वर्ष ग्राम खेती प०वृ० नलधूरा देवाल जिला चमोली गढवाल को दिनांक 02 नवम्बर 2022 को सिमली बैंड निकट वन विभाग बैरियर के पास से पुलिस टीम द्वारा समय 05:10 बजे सायं गिरफ्तार किया गया।               

    पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र  द्वारा बहुचर्चित पिंकी हत्याकांड का खुलासा करने वाली संयुक्त टीम के उत्साहवर्धन हेतु 30,000 -रू0 (तीस हजार रुपए) व पुलिस अधीक्षक चमोली द्वारा 5000/- के नगद पारितोषिक प्रदान करने की घोषणा की गयी है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.