जनपद देहरादून में यातायात व्यवस्था सुधारें-पुलिस कप्तान रायवाला पुलिस ने धन दुगना करने का झांसा देकर धोखाधड़ी करने वाले गिरोह के सात लोगों को गिरफ्तार कर 46 लाख से अधिक की नगदी बरामद की।पढिए JANSWAR.CoM में ।

जनपद देहरादून की यातायात व्यवस्था सुधारने को कार्ययोजना शीघ्र

प्रस्तुति-उमाशंकर कुकरेती

जनपद की यातायात व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ बनाने हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के दिशा निर्देशन में यातायात पुलिस द्वारा एक विस्तृत कार्ययोजना तैयार की जा रही है। जिसके लिए जनपद पुलिस द्वारा आम जनमानस से भी उनके सुझाव मांगे जा रहे हैं, आप सभी से अनुरोध है कि जनपद की यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए आप अपने सुझाव हमें व्हाट्सएप न0 9997233033 पर मैसेज के माध्यम से उपलब्ध करा सकते हैं। साथ ही आपके क्षेत्र अंतर्गत किसी भी स्थान पर जाम लगने या नियमित रूप से यातायात बाधित होने की कोई भी सूचना आप व्हाट्सएप के माध्यम से मोबाइल नंबर 9997233033 पर तथा लैंडलाइन नंबर 0135- 2716209 पर फोन कर उपलब्ध करा सकते है। उक्त शिकायतों का जनपद पुलिस द्वारा प्राथमिकता के आधार पर संज्ञान लेकर तत्काल निस्तारण किया जाएगा। इसके अतिरिक्त सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने थाना क्षेत्र अंतर्गत स्थित फ्लाईओवर में हुई दुर्घटनाओं व उनके कारणों की आख्या व थाना क्षेत्र अंतर्गत पड़ने वाले दुर्घटना संभावित स्थलों का निरीक्षण कर दुर्घटना रोकने हेतु किए जाने वाले उपायों के संबंध में विस्तृत रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए हैं ताकि यातायात व्यवस्था हेतु बनाई जा रही कार्य योजना में उक्त बिंदुओ को सम्मिलित कर उन पर कार्य किया जा सके।
दून पुलिस का आप सभी से अनुरोध है कि जनपद की यातायात व्यवस्था को और सुदृढ़ करने में अपना सहयोग प्रदान करें।

रायवाला पुलिस ने ठगी गिरोह पकड़ा

प्रस्तुति- उमाशंकर कुकरेती

देहरादून जनपद में ठगी और धोखाधड़ी की लगातार प्राप्त हो रही शिकायतों के संदर्भ में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, द्वारा सभी अधिकारियों को निर्देशित किया गया था कि जनपद में चल रहे ऐंसे संगठित गिरोह, जो बहुत कम समय में धनराशि को कई गुना बढ़ाने का लालच देकर लोगों के साथ ठगी कर रहे हैं, के संदर्भ में उनके फरार होने से पहले प्रभावी कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। उक्त निर्देशों के क्रम में पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, देहरादून महोदय द्वारा देहात क्षेत्र में ऐंसे गिरोह पर दृष्टि रखने हेतु क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश के पर्यवेक्षण में थानाध्यक्ष रायवाला के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। टीम के सदस्यो द्वारा धोखाधड़ी के अपराध एव उसमें लिप्त ऐसे व्यक्ति के विरुद्ध कार्यवाही करने हेतु क्षेत्र में सतर्क दृष्टि रखी जा रही थी, जिसके फलस्वरुप पुलिस को पता लगा कि हरिपुर कलां चौकी क्षेत्र में स्थित उमा विहार कालोनी में कुछ व्यक्तियों द्वारा एयरवे इन्टरप्राइजेज नाम से एक कम्पनी खोली गयी है, जिसकी आड़ में इनके द्वारा रुपये जमा करके पन्द्रह दिन के भीतर प्रतिदिन किस्त के रुप मे डेढ गुना रुपया वापस किये जाने का लालच देकर लोगों को गुमराह किया जा रहा है, जिससे ऐंसे लालच में पड़कर अधिक लोगों इनसे जुड़ रहे है। जब इनके पास करोड से अधिक रुपया हो जायेगा तो ये रुपया लेकर भाग जायेंगे। उक्त सूचना पर थानाध्यक्ष अमरजीत सिंह रावत पुलिस फोर्स के साथ थाना रायवाला से प्राइवेट वाहनों से उमा विहार कालोनी के लिए रवाना हुए तथा पूर्व चौकी सप्तऋषि के खाली भवन के पास पहुचकर थानाध्यक्ष रायवाला द्वारा योजना के तहत का0 पंकज तोमर को 2000/- रुपये का एक नोट जिसका नम्बर 5CN992929 है, देकर हरिपुर कलां चौकी क्षेत्र में स्थित उमा विहार कालोनी में एयरवे इन्टरप्राइजेज कम्पनी में सूचना की पक्की जानकारी लेना के लिए भेजा गया तो कम्पनी में कार्यरत एक व्यक्ति जोगिन्दर द्वारा 2000/- रुपये जमा करके पंकज का भी पैसे लेकर कार्ड बना दिया, जिससे उक्त सूचना की सही पुष्टि हो गयी। का0 पंकज तोमर के द्वारा बताया गया की 07 व्यक्ति द्वारा हरिपुरकंला क्षेत्र में Shishu Yojna Uttrakhand के नाम से कार्ड छपवाकर लोगो को 10,000/- रुपये के बदले में 15 दिनो में 15,000/- रुपये देने का लालच देकर धोखाधड़ी से लोगो से अवैध रुप से अवैध लाभ अर्जित किया जा रहा है । थानाध्यक्ष रायवाला पुलिस फोर्स अ के एयर वे इन्टरप्राइजेज उमा विहार थाना रायवाला क्षेत्र पहुँचे, जहाँ से सात अभियुक्तों 1- जोगिन्दर सिंह पुत्र श्री रघुवीर सिंह निवासी खेड़ीसाद, थाना सापला, जिला रोहतक, (हरियाणा ), 2- नरेश शर्मा पुत्र हरिचन्द शर्मा निवासी ग्राम रजाना कला, थाना पिल्लू खेड़ी ,मण्डी ,जिला जींद (हरियाणा), 3- चन्दन कुमार अरोड़ा पुत्र श्री चरण दास अरोड़ा निवासी मकान नं0 114, राजहंस विहार,विकास नगर ,थाना उत्तम नगर, दिल्ली,4- तिलकराज पुत्र श्री रामनिवास निवासी अलवा थाना अलवा जिला जींद (हरियाणा),5- अजमेर सिंह पुत्र श्री बहाना राम निवासी शीतल नगर कालानी, थाना शिवाजी कालोनी, रोहतक (हरियाणा),6- अरुण राणा पुत्र श्री रामकृष्ण राणा निवासी हेतमपुर रोशनाबाद, थाना सिड़कुल, जिला हरिद्वार,7- संजय कुमार सिंह पुत्र शिवचन्द्र प्रसाद निवासी ग्राम मुरोवतपुर, थाना देशरी, जिला वैशाली (बिहार)
को गिरफ्तार किया गया, जिसके द्वारा बताया गया की जनता के व्यक्तियो को लेन देन हेतु बड़ी धनराशि उपलब्ध है। प्रकरण की पारदर्शिता हेतु पुलिस उपाधीक्षक ऋषिकेश को घटना क्रम से अवगत कराते हुए मौके पर पँहुचने का अनुरोध किया गया जिनके समक्ष एयरवे इन्टरप्राइजेज कार्यालय के पीछे स्थित कमरे की अलमारी से नगद 46,01,500/ रुपये बरामद हुए तथा कार्यालय से कार्ड रजीस्टर एंव डायरी ATM कार्ड , चैक बुक बरामद हुए । इस प्रकार धोखाधड़ी करके जनता के रुपये को लेकर भागने की फिराक में रहने वाले सात अपराधियो को पुलिस टीम द्वारा गिरफ्तार किया गया तथा जनता की खून पसीने की कमाई को लेकर भाग जाने से बचाया गया। अभियुक्त जोगिन्द्र पूर्व में दिल्ली पुलिस में था, जो बर्खास्त होकर अपने साथ कुछ लोगो को जोड़कर लोगों से धन ऐठने के धन्धे में लिप्त था , इस सम्बन्ध में थाना रायवाला पर मु0अ0सं0 -99/2019 अन्तर्गत धारा 420 भादवि0 व 45(S),58V,5(a) भारतीय रिजर्व बैंक अधि0 1934 पंजीकृत हुआ है।
उल्लेखनीय है, कि धोखाधड़ी से पीडित व्यक्तियों के पुलिस में शिकायत दर्ज कराने से पूर्व ही पुलिस द्वारा ना केवल धोखाधड़ी करने वाले ऐसे गिरोह के सदस्यों को पकड़ा गया है बल्कि भारी मात्रा में धोखाधड़ी कर हासिल की गयी धनराशि को भी बरामद किया गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.