घट्टूगाड हत्याकांड के चारों अभियुक्त पकड़े गये-श्रीमती रेनू बिष्ट विधायक यमकेश्वर।www.Janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

घट्टू घाट हत्या प्रकरण में सफलता।चारों हत्यारोपी गिरफ्तार-रेनू बिष्ट विधायक यमकेश्वर

 

यमकेश्वर विधान सभा की विधायक श्रीमती रेनूबिष्ट ने अपनी फेसबुक वॉल पर जानकारी दी कि उनके निर्देश पर प्रशासन ने त्वरित कार्यवाही करते हुए चारों हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।विधायक का यह कदम सराहनीय है।एक जनप्रतिनिधि को जनता के दुखदर्द में केवल शामिल ही नहीं होना चाहिए बल्कि उन तत्वों को जो जनता को दुख दे,से भी जनता की रक्षा करनी चाहिए।उन्होंने यह कार्य बखूबी निभाया है।इसके लिए उन्हें बधाई।  उनकी वॉल से उनकी दी हुई जानकारी यथावत् दी जा रही है।

यमकेश्वर _विधानसभा के मेरे समस्त सम्मानित भाईयों-बहनों आज आप सभी को यह बताना चाहती हूँ कि घट्टू घाट हत्या प्रकरण में जो चार हत्यारे थे जिनमें एक शीघ्र पकड़ा गया था और बाकी तीन फरार थे अब उन तीनों को भी पकड़ लिया गया है
भाईयों बहनों इस घटनाक्रम के पहले दिन से ही मैं प्रशासन के साथ इस मामले पर पूरी तरह से सम्पर्क में थी फोन के माध्यम से मैं पूरी जानकारी और स्थिति पर नजर बनाये थी, और उसके बाद एक जनप्रतिनिधि होने के नाते यमकेश्वर की बेटी होने के नाते मैं स्वय उस पीड़ित परिवार से मिली और उनके सामने प्रशासन को सख्त निर्देश दिये और यह मेरा फर्ज भी था किंतु कुछ राजनीति करने वाले लोगों द्वारा जनता में यह भ्रम फैलाने का प्रयास किया गया कि यमकेश्वर की विधायक इस मामले में कुछ नही कर रही है यह वो लोग हैं जो दूसरे के प्रयासों पर श्रेय लेना जानते हैं यमकेश्वर विधानसभा में आज से पहले कभी इतनी जल्दी कार्यवाही क्यों नही होती थी तब कहाँ थे ये समाजसेवी।

यमकेश्वर विधानसभा के भाईयों बहनों मैं ऐसे लोगों से तो कुछ नही कहना चाहती किंतु आप लोगों से अवश्य यह कहुंगी कि मैंने अपने विधायक बनने के बाद से ही आप सभी से यही बात कही है कि मेरा प्रत्येक कार्य आपको धरातल पर दिखेगा, वो जमाना बीत चुका है जब यमकेश्वर विधानसभा के मेरे भाईयों बहनों को सिर्फ घोषणा और चुनावी वादों से फुसलाया जाता था और यही राजनीति करने वाले लोग तालियाँ बजाया करते थे क्योंकि इनको व्यक्तिगत लाभ मिलता रहता था
यमकेश्वर विधानसभा के मेरे भाईयों बहनों इन राजनीति करने वाले लोगों का मकसद कुछ और नही बल्कि सिर्फ मेरे भ्रमण कार्य को रोकना था सच तो यह है कि ये लोग यमकेश्वर विधानसभा में ऐसा जनप्रतिनिधि चाहते ही नही जो जनता के बीच जाये और जनता के कार्य करे
आज अपनी इस फेसबुक पोस्ट से एक बात स्पष्ट कर देना चाहती हूँ कि जो लोग एक बच्चे की मृत्यु पर राजनीति कर रहे थे तो उनको यह समझना ही होगा कि यमकेश्वर में अब ऐसी राजनीति नही चलेगी और यमकेश्वर विधानसभा के मेरे भाईयों बहनों ऐसी राजनीति का अंत सिर्फ आप लोग ही कर सकते हो
यमकेश्वर विधानसभा अब राजनीति का अड्डा नही रहा, यमकेश्वर की यह बेटी इतनी कमजोर नही है कि इस प्रकार की राजनीति से घबरा जाये
यमकेश्वर विधानसभा एक अति पिछड़ी और दुर्गम विधानसभा है जहाँ कलतक लोगों के अंदर यह बात घर कर चुकी थी कि यमकेश्वर विधानसभा में कुछ नही हो सकता और इस हत्या कांड का प्रमुख कारण भी यही सोच थी, इसी सोच को दूर करने और जनता के मन में फिर से एक विश्वास जगाने के लिये मैंने यमकेश्वर उदय और #विधायक_आपके_द्वार पहल का प्रारंभ किया और यही बात इन राजनीति करने वालों को नही पची
यमकेश्वर विधानसभा के मेरे भाईयों बहनों आपने विधानसभा चुनाव 2022 में भी देखा था कि मेरे विरुद्ध कितना षड़यंत्र इन लोगों द्वारा रचा गया था किंतु आप लोग साथ थे तो इनका एक भी षड़यंत्र काम नही आया और मुझे पूर्ण विश्वास है आप सदैव अपनी इस बहन अपनी इस बेटी के साथ रहोगे
भाईयों-बहनों जिस प्रकार मैंने पीड़ित परिवार को किये वादे के अनुसार इस मामले में परिवार को किया अपना वादा निभाया है उसी प्रकार मैं वादा करती हूँ कि आप लोगों के ही सहयोग से यमकेश्वर विधानसभा में ऐसी घटिया राजनीति करने वालों का भी अंत होगा

#रेनू_बिष्ट (#यमकेश्वर_की_बेटी)
#विधायक_यमकेश्वर, #उत्तराखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published.