उत्तराखण्ड व उ.प्र. के मुख्यमंत्रियों ने केदारनाथ में पूजा अर्चना की।#एम्स ऋषिकेष ने बांटे नि:शुल्क मास्क।पढिए Janswar.Com में

समाचार संपादन-अरुणाभ रतूड़ी

उत्तराखण्ड व उ.प्र. के मुख्यमंत्रियों ने केदारनाथ में पूजा अर्चना की।


मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने श्री केदारनाथ में पूजा अर्चना की। उन्होंने इस अवसर पर उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखण्ड व सभी देश वासियों के सुख चैन, कुशलता व सुरक्षा की कामना की।
       बारिश एवं बर्फवारी के साथ करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था के प्रतीक, ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग श्री  केदारनाथ धाम के कपाट परंपरानुसार व वैदिक उच्चारण के बाद आगामी छह माह के लिए बंद कर दिए गए हैं। अगले छह महीने बाबा केदार ऊखीमठ में लीन रहेंगे। भैयादूज के अवसर पर प्रातः 8ः30 बजे  शीतकाल के लिए बंद हो गये है। 6ः30 बजे  भगवान भैरवनाथ जी को साक्षी मानकर गर्भगृह को बंद किया गया। तथा साढ़े आठ बजे सभा मंडप तथा मुख्य द्वार को बंद कर दिया गया।
         कपाट बंद होने के मुहूर्त पर हुई बर्फबारी को शुभ मानते हुए धाम पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस अवसर पर समस्त प्रदेश वासियों की सुख-समृद्धि की मंगल कामना की। वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कपाट बंद होने पर हो रही बर्फबारी से गदगद दिखे।
        इस अवसर पर योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड की परिसंपत्तियों के विषय पर कहा कि दोनों राज्यों में अब किसी तरह का कोई विवाद नहीं है। अलकनंदा अतिथि गृह हरिद्वार के विषय में कहा कि यह मामला उच्च न्यायालय में भी लंबित रहा जिसको लेकर आपसी सहमति से इसे उत्तराखंड सरकार को दिए जाने पर सहमति बनी तथा यहीं पर एक अन्य अतिथि गृह बनाया गया है जिस पर यूपी सरकार का स्वामित्व होगा। उन्होंने श्री केदारनाथ धाम में हो रहे पुनर्निर्माण कार्यों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की। कहा कि श्री मोदी जी के कुशल मार्गदर्शन में उत्तराखंड सरकार द्वारा यहाँ पर बहुत बेहतर कार्य किए जा रहे हैं।
————————————————————–—-
एम्स ऋषिकेष ने बांटे नि:शुल्क मास्क
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश कोविड-19 कम्युनिटी टास्क फोर्स के तहत शहर के विभिन्न हिस्सों में लोगों को निशुल्क मास्क वितरित किए गए। जिसके तहत करीब 600 लोगों को मास्क बांटे गए। कार्यक्रम में नगर क्षेत्र की विभिन्न सामाजिक व स्वयंसेवी संगठनों के सदस्यों ने प्रतिभाग किया। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत की देखरेख में कोविड19 टास्क फोर्स द्वारा मास्क बैंक की ओर से सर्वहारानगर आदि इलाकों में निशुल्क मास्क वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। बताया गया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य मलिन बस्तियों में रहने वाले आर्थिकरूप से कमजोर वर्ग व जरुरतमंद लोगों ,जो कि​ कोरोना वायरस संक्रमण से रोकथाम के लिए मास्क खरीदने में सक्षम नहीं हैं, ऐसे लोगों तक मास्क उपलब्ध कराना है। इस अवसर पर अपने संदेश में एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने कहा कि कोरोना की दूसरी वेब का इंतजार नहीं किया जाना चाहिए, बल्कि इसके लिए अभी से अधिकाधिक सावधानी बरती जानी चाहिए। उन्होंने बताया कि जनमानस को कपड़े के मास्क का उपयोग करना चाहिए, क्योंकि ऐसे मास्क को धोने के बाद इस्तेमाल में लाया जा सकता है। एम्स निदेशक प्रो. रवि कांत जी ने आगाह किया कि कभी भी कोरोना संक्रमण के केस बढ़ सकते हैं,लिहाजा सावधानी के साथ साथ आवश्यक दिशा निर्देशों का पालन सुनि​श्चित करें। संस्थान की कोविड19 कम्युनिटी टास्क फोर्स की साइंटिफिक चेयरपर्सन डा. रंजीता कुमारी की अगुवाई में कम्युनिटी टास्क फोर्स के सदस्यों द्वारा स्थानीय नागरिकों को बताया गया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क पहनना और एक दूसरे से 2 गज की दूरी बनाए रखना जरूरी है। एम्स आउटरीच सेल के नोडल ऑफिसर डा. संतोष कुमार ने बताया कि अभियान के तहत मास्क विहीन लोगों का घर- घर जाकर निशुल्क मास्क बांटे गए, साथ ही क्षेत्रीय जनता से अपील की गई कि जब भी वह अपने घरों से बाहर सार्वजनिक स्थानों पर निकलें तो मास्क लगाकर अवश्य निकलें, जिससे कोविड19 संक्रमण के खतरे को कम किया जा सके। साथ ही नागरिकों से अन्य लोगों को भी नियमिततौर पर मास्क लगाने के लिए प्रेरित करने को कहा गया। गौरतलब है कि एम्स ऋषिकेश की ओर से बीते माह 24 अक्टूबर को त्रिवेणीघाट में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए मास्क बैंक की शुरुआत की गई थी, जिसमें विभिन्न संस्थाओं द्वारा मास्क दान किए गए। ऐसी संस्थाओं में मुख्यरूप से रोटरी क्लब सेंट्रल, स्वयं सेवी संगठन श्रंखला की ओर से मास्क दान किए गए। कार्यक्रम में एम्स ऋषिकेश के कम्युनिटी टास्क फोर्स के सदस्यों के अलावा रोटरी क्लब सेंट्रल, श्रंखला संस्था के संस्थापक विकास, सामाजिक कार्यकर्ता नवीन मोहन,रजनीश शर्मा, हिमांशु, त्रिलोक सिंह, संजीव मखीजा, मयंक जुगरान, गजेंद्र सिंह राजपूत, अनुपम गुप्ता आदि मौजूद थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.