उत्तराखण्ड पुलिस के कुछ अधिकारियों के पदभार में फेर बदल# महाकुंभ: श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य सुविधा के लिए एम्स की तैयारी पूरी आपात स्थिति के लिए ट्राॅमा सेंटर रिजर्व।पढिएJanswar.Com में।

द्वारा-नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी,

उत्तराखण्ड पुलिस के कुछ अधिकारियों के पदभार में फेर बदल।

उत्तराखण्ड शासन गृह अनुभाग -4 संख्या-191/XX-4/2021-1(32)/2018) दिनांक-12 फरवरी 2021केअनुसार कारागार विभाग के अन्तर्गत राज्य में रिक्त वरिष्ठ कारागार अधीक्षक/ कारागार अधीक्षकों के पदों के सापेक्ष पुलिस विभाग के उन अधिकारियों को जो कानून व्यवस्था नहीं संभाल रहे हैं को अग्रिम आदेश तक कार्यहित/जनहित में तत्कालिक प्रभाव से वर्तमान कार्यभार के साथ अतिरिक्त दायित्व एवं कारागार विभाग में कार्यरत वरिष्ठ कारागार अधीक्षक/कारागार अधीक्षकों को निम्न पदभार दिया गया है।
श्री रामचन्द्र राजगुरु को उनके वर्तमान पदभार के साथ वरिष्ठ अधिक्षक शिविर/केन्द्रीय कारागार सितारगंज का पदभार,
श्री प्रहलाद नारायण मीणा को उनके वर्तमान पदभार के साथ अधीक्षक उपकारागार हल्द्वानी का पदभार,
श्री नवनीत सिंह को उनके वर्तमान पदभार के साथ वरिष्ठ अधीक्षक जिला कारागार हरिद्वार का का पदभार,
श्रीमती श्वेता चौबे को वर्तमान पदभार के साथ वरिष्ठ अधीक्षक जिला कारागार देहरादून का पदभार,
श्री प्रदीप कुमार राय को वर्तमान पदभार के साथ अधीक्षक उप कारागार रुड़की का पदभार,
श्री दधिराम से अधीक्षक शिविर /केन्द्रीय कारागार सितारगंज का पदभार लेकर उन्हें अधीक्षक जिला कारागार अल्मोड़ा का पदभार,
श्री सतीश कुमार सुखीजा से अधीक्षक जिला कारागार अल्मोड़ा का पदभार ले कर उन्हें अधीक्षक जिला कारागार चमोली का पदभार एवं
श्री मनोजकुमार आर्य को उनके वर्तमान पदभार के साथ जिला कारागार नैनीताल का पदभार दिया गया है।
इन अधिकारियों को यह भी निर्देशित किया गया है कि वे अपने कार्यभार प्रमाणक की प्रति महानिरीक्षक कारागार को प्रेषित करें।


महाकुंभ: श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य सुविधा के लिए एम्स की तैयारी पूरी


आपात स्थिति के लिए ट्राॅमा सेंटर रिजर्व
बैरागी कैंप में लगेगा कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए एम्स का स्वास्थ्य शिविर कुंभ मेले में श्रद्धालुओं को मेडिकल सुविधा प्रदान करने के लिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश पूरी तरह से तैयार है। संस्थान की ओर से चिकित्सकों की टीम भी हरिद्वार में तैनात की जाएगी। इसके अलावा आपात स्थिति से निपटने के लिए एम्स के ट्राॅमा सेंटर को आरक्षित रखा गया है। जिसमें श्रद्धालुओं के उपचार के लिए ट्राॅमा सेंटर में 24 घंटे मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी।

एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत की देखरेख में महाकुंभ में स्नान पर्वों पर श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए संस्थान की ओर से विशेष व्यवस्थाएं की गई हैं। आगामी 27 फरवरी को माघ पूर्णिमा और उसके बाद के प्रमुख स्नान पर्वों पर हरिद्वार कुंभ मेला क्षेत्र में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटने की संभावना है। लिहाजा इसके मद्देनजर एम्स ऋषिकेश अस्पताल प्रशासन ने संपूर्ण कुंभमेला अवधि तक हरिद्वार में ही चिकित्सकों की टीम तैनात करने का निर्णय लिया है। जिसके लिए संस्थान के चि​कित्सकीय दल हरिद्वार स्थित बैरागी कैंप में बनाए जा रहे मेला अस्पताल में तैनात रहेंगे। मेलाकाल में किसी प्रकार की अप्रिय घटना, भगदड़ व श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य संबंधी अन्य आपात स्थितियों के दौरान चिकित्सकीय दल द्वारा मौके पर ही पेशेंट का प्राथमिक उपचार कर ग्रीन काॅरीडोर के माध्यम से उन्हें अविलंब एम्स ऋषिकेश के ट्राॅमा सेंटर भेजा जाएगा।डीन हॉस्पिटल अफेयर्स प्रोफेसर यूबी मिश्रा जी ने बताया कि कुंभ मेले के मद्देनजर एम्स के ट्राॅमा सेंटर में 12 बेड का आईसीयू तैयार किया गया है। साथ ही किसी भी प्रकार की आपात स्थिति से निपटने के लिए ट्राॅमा सेंटर में एक डिजास्टर वार्ड भी बनाया गया है। इस वार्ड में कुंभ मेले के श्रद्धालुओं के उपचार केलिए 22 बेड रिजर्व रखे गए हैं। उन्होंने बताया कि यदि आवश्यकता पड़ी तो ट्राॅमा सेंटर में बनाए गए डिजास्टर वार्ड के अलावा ट्राॅमा सेंटर के अतिरिक्त आईसीयू को भी उपयोग में लाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कुंभ के लिए विशेष तौर से चिकित्सकों और नर्सिंग स्टाफ की कई टीमें गठित की जा चुकी हैं। जो कि कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए हर समय हरिद्वार मेलाक्षेत्र में उपलब्ध रहेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.