उत्तराखण्ड के राज्यपाल ने एमिटि विश्वविद्यालय हरियाणा के लॉ कॉलेज द्वारा आयोजित नेशनल मूल कोर्ट प्रतियोगिता में वर्चुअली मुख्यअतिथि प्रतिभाग किया# मुख्यमंत्री ने की जनपद हरिद्वार के विकास कार्यों की समीक्षा#प्रदेश के वित्त/शहरी विकास/संसदीय कार्य मंत्री ने मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ बैठक की।# प्रदेश के कौशल विकास मंत्री कौशल विकास एवं सेवायोजन विभाग के अधिकारियों तथा अन्य अधिकारियो के साथ बैठक की।#कोटद्वार के झंडाचौक में हुई वाहनों की संयुक्त चेकिंग। www.janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) से शुक्रवार को राजभवन में स्व0 लेफ्टिनेंट कमाण्डर अनंत कुकरेती के परिजनों ने मुलाकात की। ले. कमा. अनंत कुकरेती की अक्टूबर 2021 में त्रिशुल चोटी में आरोहण के दौरान हिमस्खलन की चपेट में आकर असामयिक मृत्यु हो गई थी।
इस दौरान राजभवन परिसर स्थित शिव वाटिका में स्व0 अनंत की याद में उनके पिता जगदीश प्रसाद कुकरेती, माता मधु कुकरेती ने एक-एक पौधा लगाया। राज्यपाल ने कहा कि उत्तराखण्ड सैनिक बहुल्य प्रदेश है यहां सैनिकों का हमेशा सम्मान किया जाता है। उन्होंने कहा कि स्व0 अनंत को सम्मान देने के  उद्देश्य से उनकी याद में पौधे लगाए गए हैं। इस दौरान उनके माता-पिता ने बताया कि स्व0 अनंत आर.आई.एम.सी व एन.डी.ए के स्टूडेंट रहे और बचपन से ही पर्वतारोहण के प्रति लगाव रहा। इस दौरान प्रथम महिला श्रीमती गुरमीत कौर भी उपस्थित रही।

******

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने शुक्रवार को Amity University  Haryana के लॉ स्कूल द्वारा आयोजित 5वें नेशनल मूट कोर्ट प्रतियोगिता में बतौर मुख्य अतिथि वर्चुअली प्रतिभाग किया। Amity University  विगत 4 वर्षों से मूट कोर्ट प्रतियोगिताएं आयोजित करा रहा है। मूट कोर्ट प्रतियोगिता में छात्रों को वास्तविक जीवन का अनुभव देने के लिए कोर्ट रूम पर आधारित एक उचित परिदृश्य तैयार कर कानूनों की समझ का परीक्षण करने के लिए उनसे प्रश्न पूछे जाते हैं।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा की भविष्य के एक कुशल अधिवक्ता के रूप में स्वयं को स्थापित करने लिए आयोजित यह नेशनल मूट कोर्ट प्रतियोगिता अत्यन्त सराहनीय है। यह प्रतियोगिता कौशल विकास के साथ-साथ सोच, विचार, धारणा और चिन्तन में आवश्यक परिवर्तन लाने के लिए भी अत्यन्त महत्वपूर्ण  भूमिका निभाएगा।
उन्होंने कहा की आज कानून और विधि का क्षेत्र, निरंतर बढ़ता जा रहा है। इसके विस्तार के साथ-साथ विशेषज्ञ जानकारों की मांग भी बढ़ती जा रही है। Career की दृष्टि से देखें तो यह क्षेत्र आकर्षक और पसंदीदा बनता जा रहा है। उन्होंने प्रतिभागी छात्र-छात्राओं से कहा की कानून और अवधारणाओं की समझ विकसित करने के लिए अपने ज्ञान का विस्तार करना होगा। इसके लिए समाज में होने वाले परिवर्तनों और स्थितियों पर गहरी समझ और जानकारी का विकास करना होगा।
राज्यपाल ने कहा की नये भारत के लक्ष्य ऊँचे और महान् हैं। हमारी प्राचीन परम्पराएं उपलब्धियों से भरी हुई हैं। हमारा सपना स्वयं को दुनिया की महाशक्ति रूप में स्थापित करना है। देश को विश्व गुरु और महाशक्ति बनने के लिए अपने विचारों और सपनों को भी वैश्विक बनाना होगा। उन्होंने कहा की मुझे विश्वास है कि सभी प्रतिभागी इस प्रतियोगिता के माध्यम से कानूनी प्रक्रिया, आचार संहिता, ड्रेस कोड का महत्व, औपचारिक भाषा आदि पर कौशल विकास करेंगे।
राज्यपाल ने कार्यक्रम से जुडे़ सभी लोगों और विश्वविद्यालय परिवार को इस कार्यक्रम की सफलता के लिए बधाई दी। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के फाउंडर व चांसलर अशोक कुमार चौहान, कुलपति असीम चौहान, प्रो. एवं डायरेक्टर एमीटी लॉ स्कूल मेजर जनरल प्रवीण कुमार शर्मा (से.नि.) वर्चुअल रूप से उपस्थित रहे।

******

मुख्यमंत्री ने की जनपद हरिद्वार के विकास कार्यों की समीक्षा
अधिकारियों को दिये जन सुविधाओं के विकास पर ध्यान देने के निर्देश

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को डामकोठी हरिद्वार में जनपद से संबंधित विकास कार्यों की अधिकारियों के साथ समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि चारधाम यात्रा के दृष्टिगत हरिद्वार में यात्रियों की सुविधा का ध्यान रखा जाए। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों से कूड़ा निस्तारण, सफाई व्यवस्था आदि के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी ली।  नगर निगम के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि हरिद्वार नगर निगम क्षेत्र में 160 नाले हैं, उनकी सफाई का कार्य प्रारम्भ करा दिया गया है, जिसके लिये 124 सफाईकर्मियों लगाये गये हैं। नगर निगम के अधिकारियों ने यह भी बताया कि शहर में एक दिन में तीन टाइम सफाई-व्यवस्था की जा रही है।
स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री द्वारा पूछे जाने पर अधिकारियों ने अस्पतालों की व्यवस्थायें आदि के सम्बन्ध में जानकारी दी।  मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्पतालों की सफाई व्यवस्था चाक-चौबन्द रहनी चाहिये।  कभी भी अस्पतालों, नगर निगम की सफाई व्यवस्था तथा कार्यालयों में कार्मिकों की उपस्थिति आदि का औचक निरीक्षण किया जा सकता है । अगर औचक निरीक्षण के दौरान कहीं पर भी कोई कमी पाई जाती है, तो सम्बन्धित के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने अधिकारियों को कार्यालयों में बॉयोमैट्रिक उपस्थिति प्रणाली लागू करने के भी निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इण्डिया द्वारा हरिद्वार में किये जा रहे विभिन्न विकास कार्यों के सम्बन्ध में भी अधिकारियों से विस्तृत चर्चा की। एनएचएआई की समीक्षा के दौरान यह तथ्य सामने आया कि राष्ट्रीय राजमार्गों में कई जगह पानी रूका रहता है, जिसकी सही निकासी नहीं होने की वजह से जलभराव की स्थिति पैदा हो रही है। इस पर अधिकारियों ने बताया कि हाईवे पर जो नालियां बनी हैं, वे केवल हाईवे के पानी की निकासी के लिये बनी हैं, जबकि इन नालियों में आसपास की बस्तियों व अन्य जगह का पानी भी आ जाता है, जिसकी वजह से जलभराव की स्थिति पैदा हो रही है। इस पर  मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि एनएचएआई तथा सिंचाई विभाग समन्वय स्थापित करते हुये एक समग्र योजना बनाकर इस समस्या का समाधान निकालना सुनिश्चित करें।
जल निगम तथा जल संस्थान के अधिकारियों द्वारा पानी की व्यवस्था के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि पानी की आपूर्ति सुचारू रूप से की जा रही है। जनपद में 12 हजार हैण्डपम्प लगे हैं तथा जो हैण्डपम्प किसी वजह से खराब हो जाते हैं, तो उनकी समय-समय पर मरम्मत कराई जा रही है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनता को पेयजल की कहीं पर भी कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिये।
मुख्यमंत्री ने बैठक में जल जीवन मिशन के तहत हर घर नल से जल की प्रगति की भी समीक्षा की। अधिकारियों ने बताया कि योजना के अन्तर्गत ओवर हैड टैंक बन गये हैं तथा पाइप लाइन बिछा दी गयी है। मुख्यमंत्री द्वारा अधिकारियों को कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिये गए।
विद्युत विभाग के अधिकारियों द्वारा बताया गया कि कि वर्तमान में उद्योगों को पूरी बिजली दी जा रही है तथा विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था में काफी सुधार है।  मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि बिजली की चोरी की घटनाओं पर भी पूरी नजर रखी जाये तथा विजिलेंस की टीम को सक्रिय किया जाये एवं बिजली चोरी की घटनाओं में जो लिप्त पाये जाते हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाये।
मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को सड़कों को गड्ढामुक्त करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने आगामी जुलाई माह में होने वाली कांवड़ यात्रा की तैयारियों के सम्बन्ध में भी अधिकारियों से जायजा लिया, जिस पर अधिकारियों ने बताया कि कांवड़ मेले की तैयारियां प्रारम्भ कर दी गयी हैं।  मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि कावड़ यात्रा से सम्बन्धित जो भी तैयारियां हैं, उनको समय से करना सुनिश्चित करें।
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को शहर की यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित करने, अवैध अतिक्रमण को हटाये जाने, आपदा प्रबंधन तंत्र को सक्रिय किये जाने तथा स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास पर ध्यान देने के भी निर्देश अधिकारियों को दिये।
इस अवसर पर रानीपुर विधायक श्री आदेश चौहान, रूड़की विधायक श्री प्रदीप बत्रा, पूर्व विधायक श्री सुरेश राठौर, जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ0 योगेन्द्र सिंह रावत, ए.डी.एम(प्रशासन) श्री पी.एल.शाह, ए.डी.एम.(वित्त एवं राजस्व) श्री वीर सिंह बुदियाल, सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे ।

*******

प्रदेश के वित्त/शहरी विकास/संसदीय कार्य मंत्री ने मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ बैठक की।

वित्त मंत्री प्रेमचन्दअग्रवाल  ने आज विधान सभा के सभा कक्ष में मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के अधिकारियों की बैठक ली बैठक में उन्होंने  पूर्व बैठक में दिये निर्देशों के क्रम में विभाग द्वारा की गई प्रगति की जानकारी ली। उन्होने ऋषिकेश मल्टीस्टोरी पार्किंग, मसूरी में मल्टी स्टोरी पार्किंग तथा मसूरी में माल रोड के सौंदर्यीकरण के प्रगति के सम्बन्ध में विभागीय अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की। जिसमें अधिकारियों द्वारा अगवत कराया गया कि सम्बन्धित कार्य त्वरित गति से किया जा रहा है। मा0 मंत्री ने कहा कि ऋषिकेश/मसूरी क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यांे के चलते तीर्थ यात्रियों/पर्यटकों को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े।

उन्होने पूर्व में दिये गये निर्देश के क्र्रम में (15 दिनों में आवसीय और 30 दिनों में व्यवसायिक नक्शा पास करने की अवधि) किये गये कार्यों की प्रगति पर संतोष व्यक्त किया।

देहराूदन में लगभग 600 अवैध निर्माण कार्यों पर चिन्ता व्यक्त करते हुए  वित्त मंत्री ने कहा कि अवैध निर्माण/बिना नक्शा पास भवन/अवैध कब्जा के संबंध में विभागीय अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाय। उन्होंने अधिकारियों को अवैध निर्माण व बिना नक्शे वाले भवनों के संबंध में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही किये जाने के निर्देश सचिव मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण को दिये।

श्री अग्रवाल ने मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण की छवि को सुधारने, विकास कार्यांे में पारदर्शिता लाने तथा अवैध निर्माण को रोकने के सम्बन्ध में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि आगामी बजट में समाज के सभी वर्गों से सुझाव प्राप्त किये जा रहे है। उन्होने कहा कि ई-मेल में माध्यम से भी सुझाव प्राप्त हो रहे है। उन्होने कहा कि ईमेल पर सुझाव प्राप्त करने की अन्तिम तिथि 27 मई 2022 तक बढाई गई है। जनता द्वारा प्रेषित महत्वपूर्ण सुझावों को बजट में सम्मिलित किया जायेगा।

बैठक में मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष श्री बृजेश कुमार संत, सचिव श्री मोहन सिंह बर्निया, एस॰ई॰ श्री एच.सी.एस. राणा तथा अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

******

प्रदेश के पशुपालन/दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन/गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग/कौशल विकास मंत्री सौरभ बहुगुणा द्वारा  कौशल विकास एवं सेवायोजन विभाग के अधिकारियों तथा अन्य अधिकारियो के साथ बैठक की।

कौशल विकास मंत्री ने कहा कि सेवायोजन विभाग को आउट सोर्स एजेन्सी उत्तराखण्ड के रूप में विकसित किया जायेगा। सेवायोजन विभाग के पास 23 कार्यालय तथा लगभग 8.5 लाख लोग पंजीकृत है। उन्होने सेवायोजन, कार्मिक एवं वित्त विभाग के अधिकारियो के साथ बैठक कर आउट सोर्स एजेन्सी बनाने के प्रस्ताव पर विस्तृत चर्चा की तथा प्रस्ताव बनाये जाने हेतु अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा आउट सोर्स एजेन्सी का प्रस्ताव तैयार होने के बाद मा0 मुख्यमंत्री जी के समक्ष रखा जायेगा।

बैठक में सचिव कौशल विकास एवं सेवायोजन श्री विजय यादव, सचिव न्याय श्री धन्नजय चतुर्वेदी, निदेशक सेवायोजन डॉ0 बी॰एस॰ चलाल, अपर सचिव कार्मिक सुमन सिंह वल्दिया, अपर सचिव वित्त रोहित मीणा अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
*****

जनपद  पौड़ी गढवाल में बढ़ रही सड़क दुर्घटनाओं के चलते कोटद्वार स्थित झंडा चैक में संयुक्त चेकिंग अभियान चलाया गया। जिसमें ट्रैफिक इंस्पेक्टर कोटद्वार शिव सिंह व ट्रांसपोर्ट अधिकारी अभिलाष गैरोला द्वारा प्रतिभाग किया गया। संयुक्त चेकिंग अभियान में ट्रिपल राइडिंग, रेड लाइट जंप, बिना हेलमेट अन्य के तहत चालान किए गए।
चैकिंग अभियान में संयुक्त टीम द्वारा कुल 15 चालान किये, जिसमें बिना हेलमेट 08, बिना सीट बेल्ट के 01, रेड लाइट जंप 01, डीएल सस्पेंशन 08 किए गए जबकि एक वाहन सीज करने की संस्तुति की गयी।
वहीं इस दौरान स्कूली छात्र जो ट्रिपल राइडिंग कर रहे थे उनका वाहन भी सीज किया गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.