इगास के मौके पर मुख्यमंत्री आवास में जीवन्त हुई लोक संस्कृति। # कांग्रेस अपनी पदयात्रा में भी मुद्दों को उठाएगी-करण मेहरा# गौ सदन ज्योंली अल्मोड़ा में मनाया गया इगासी पर्व-www.janswar.com

-नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

  • इगास के मौके पर मुख्यमंत्री आवास में जीवन्त हुई लोक संस्कृति

  • मुख्यमंत्री ने भेलो पूजन कर तथा भेलो खेलकर की कार्यक्रम की शुरूआत।
  • लोकगीत व लोकनृत्य की लोक कलाकरो ने दी शानदार प्रस्तुति। लोक नृत्य में लोक कलाकारों के साथ मुख्यमंत्री भी हुए शामिल।
  • मुख्यमंत्री ने सभी को दी इगास की बधाई, अपनी लोक परम्पराओं एवं लोक संस्कृति को आगे बढ़ाने का किया आह्वान।
  • इगास पर्व के आयोजन की मुख्यमंत्री की पहल को सराहा गया प्रदेश भर में।
  • प्रदेश में सभी संगठनों संस्थाओं के साथ आम जनता ने इगास पर्व के आयोजन में निभानी भागीदारी।

इगास पर्व पर मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी की पहल पर प्रदेश भर में सभी संस्थाओं एवं संगठनों के साथ आम जनता द्वारा इस पर्व में अपनी भागीदारी निभायी। इस दौरान प्रदेश में लोक संस्कृति एवं लोक परम्परा के इस पर्व पर उत्साह का माहौल दिखायी दिया। इगास के मौके पर मुख्यमंत्री आवास में भी लोकगीत लोकनृत्य एवं लोक संस्कृति के साथ लोक परम्पराओं के जीवन्तता की झलक देखने को मिली। मुख्यमंत्री स्वयं भेलो पूजन कर, भेलो खेलने के साथ लोक कलाकारों के साथ लोक नृत्य में भी शामिल हुए।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सभी को इगास की बधाई दी तथा सभी से अपनी लोक संस्कृति एवं लोक परम्पराओं को आगे बढ़ाने में सहयोगी बनने की अपील की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व  में संपूर्ण देश में सांस्कृतिक विरासत और गौरव की पुनर्स्थापना हो रही है। उसी तरह उत्तराखंडवासी अपने लोकपर्व इगास को आज बङे उत्साह से मना रहे हैं।
प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने लाल किले से आजादी के अमृत काल में  पंच प्रण के संकल्पों के साथ आगे बढ़ने का आह्वान किया था। जिनमें से एक संकल्प यह है कि हम अपनी विरासत और संस्कृति पर गर्व करें। इगास पर्व का आयोजन उत्तराखंडी लोक संस्कृति से नयी पीढ़ी के जुड़ाव को और प्रगाढ़ बनाएगा।
मुख्यमंत्री ने प्रवासी उत्तराखण्डवासियों से भी अनुरोध किया कि वे भी अपने लोक पर्व को अपने गांव में मनाने का प्रयास करें तथा प्रदेश के विकास में सहभागी बने, सभी के सामुहिक प्रयासों से हम विकल्प रहित संकल्प के साथ उत्तराखण्ड को अग्रणी राज्यों में शामिल करने में सफल होंगे।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री श्री गणेश जोशी, प्रेमचन्द अग्रवाल, रेखा आर्या, चन्दन राम दास, सुबोध उनियाल, सांसद एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक, सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह, नरेश बंसल, विधायक उमेश शर्मा काऊ, सविता कपूर, मेयर सुनिल उनियाल गामा, पद्मश्री कल्याण सिंह रावत, महानिदेशक सूचना श्री बंशीधर तिवारी सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य उपस्थित थे।
********

कांग्रेस अपनी पदयात्रा में भी मुद्दों को उठाएगी-करण मेहरा

अल्मोड़ा(अशोक पांडेय)  कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करण मेहरा ने कहा कि कि कांग्रेस अपनी पदयात्राओं में इन सभी मुद्दों को प्रमुखता से उठायेगी ।अंकिता हत्याकाण्ड़ पर करन मेहरा ने कहा कि पहाड की बेटी के साथ जिस तरह का अमानवीय कृत्य किया गया , व उसके बाद सरकार के इशारों पर सबूत , नस्ट करने की कोशिस की गई ।उसके लिये काग्रेस पार्टी सी बी आई जांच की मांग की मांग लगातार कर रही है । करण मेहरा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अंकिता के परिवार को हर संम्भव कानूनी मदद उपलब्ध करा रही है ।

काग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष।करण मेहरा ने हरिद्वार के पंचायत चुनाव मे पार्टी की हार पर कहा कि बी जे पी सरकार ने वहां सरकारी मशीनरी का जमकर दुरुपयोग किया तथा मतगणना में भी धांधली की , जिसके खिलाफ हरिद्वार के कांग्रेसी सड़को पर लड. रहे है ।.
प्रेस वार्ता में काग्रेस के प्रदेश प्रभारी देवेन्द्र यादव ने कहा कि काग्रेस पार्टी सात नवम्बर से बद्रीनाथ के माणा गांव से उत्तराखण्ड में यात्रा का आगाज करेगी 14 से 19 नवम्बर तक प्रत्येक जिले मे यह यात्रा गांव – गांव तक निकाली जायेगी जिलों में चौपाल लगाकर जनता को महंगाई भ्रष्टाचार , कानून ब्यवस्था ,अग्निपथ योजना के बारे मे बतायेगी ।उन्होंने कहा कि काग्रेस प्रदेश मे प्रदेशीय कार्यकारिणी तथा जिला स्तरीय जिला कार्यकारिणी की घोषणा शीघ्र ही कर देगी ।
प्रेस वार्ता में पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी जिलाध्यक्ष पिताम्बर पाण्ड़े प्रदेश प्रवक्ता मथुरा दत्त जोशी, तारु जोशी , केवल सती ,रोबिम मनोज भण्ड़ारी त्रिलोचन जोशी , भूपेन्द्र भोज गुड़्डू आदि उपस्थित थे ।

******

गौ सदन ज्योंली अल्मोड़ा में मनाया गया इगासी पर्व

अल्मोड़ा (अशोक पांडेय)कुमाँऊ के गांवों में आज एकादशी मनाई जा रही है । इसी क्रम मे गौ सदन ज्योंली अल्मोड़ा में भी एकासि (एगास ) पर्व मनाया गया गौ सदन ज्योली में गाय व बैलों को उनका मनपसन्द, आहार भट्ट के डुबुक मट्ठा खिलाया व पिलाया गया

एकासि पर्व के सम्बन्ध मे गौ सेवा न्यास के सचिव दयाकृष्ण काण्ड़पाल ने कहा गाय-बैलों की संख्या कम होने से अब एकासि का यह पर्व लोकपर्व की तरह नही मनाया जा रहा ।हर घर परिवार मे अब बैल तो छोड़िये गाय व भैस तक नही है पशुओं के प्रति अनादर का भाव है , ना ही इस पर्व पर किसी शहरी या उन ग्रामीणों ने जिनके पास गौवंश या पशु नही उनके मन में गौवंश के प्रति आदर का भाव प्रकट हो रहे है पर ईगास एकादशी पर्व तो पशुओं के प्रति आदर भाव का संन्देश देते है देव उठावनी एकादशी सभी शुभ कार्यो को आरम्भ करने की तिथि है । भारत एक कृषि प्रधान देश है । इसकी सभी तिथियां कृषि से सम्बन्धित हैं ।एकादशी के इस पर्व पर आज गौसदन ज्योंली में सभी गौवंश को ग्रामीण परम्परानुसार मीठा भात व केले आदि खिलाये गये । यद्यपि परम्परानुसार उनका स्नान ध्यान नही हो सका पर परम्परा प्रतीकात्मक रूप से निभाई गयी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.