आयुष्मान योजना में बहाल हुई सरकारी अस्पताल से रेफर की व्यवस्था#जनपद पौड़ी गढ़वाल के समस्त विधानसभाओं की ईवीएम मशीनों को पोलिंग पार्टियों द्वारा सम्बंधित आरओ को सौंपकर कर कड़ी सुरक्षा के साथ स्ट्रांग रूम में जमा कराया गया-Janswar.com

आयुष्मान योजना में बहाल हुई रेफरल की व्यवस्था

– आयुष्मान कार्ड धारकों को सूचीबद्ध निजी अस्पताल में उपचार से पूर्व सरकारी सूचीबद्ध अस्पताल करेंगे मार्गदर्शन

– कोरोना महामारी की इमरजेंसी में संक्रमण के खतरे को देखते हुए रोक दी गई थी रेफरल की व्यवस्था

राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण देहरादून के अनुसार प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना के अंतर्गत निजी अस्पतालों में हटाई गई रेफरल की व्यवस्था को बहाल कर दिया गया है। कोरोना के मामलों में गिरावट को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। पूर्व की भांति सूचीबद्ध निजी अस्पतालों में लाभार्थियों को उपचार के लिए सरकारी सूचीबद्ध अस्पताल का रेफरल अनिवार्य है।

हालांकि सभी सूचीबद्ध पूर्ण: NABH अस्पताल, मेडिकल कॉलेज और पहाड़ के जिला अस्पतालों में आयुष्मान कार्ड धारक सीधे जाकर अपना इलाज करवा सकता है। यहां पर रेफरल की आवश्यकता नहीं है। योजना के अंतर्गत सरकारी सूचीबद्ध अस्पतालों से निजी अस्पतालों के लिए रेफरल की व्यवस्था पूर्व में दी गई थी। लेकिन कोविड महामारी के आपातकाल की गंभीरता के मद्देनजर और संक्रमण के फैलाओ को रोकने के लिए रेफरल की व्यवस्था को समाप्त कर दिया गया था।

चूंकि, अब संक्रमण की स्थितियां भी अब नियंत्रण में है। तो महामारी की इमरजेंसी में रोकी गई रेफरल की व्यवस्था को फिर जारी कर दिया गया है। योजना में पारदर्शिता के लिए पुनः बायोमेट्रिक की भी व्यवस्था को जारी किया गया है, कोरोना में संक्रमण के फैलाव को देखते हुए बायोमेट्रिक की भी व्यवस्था हटाई गई थी।

राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुणेंद्र चौहान ने बताया कि आयुष्मान योजना के अंतर्गत पूर्व में रोकी गई रेफरल की व्यवस्था को फिर से बहाल कर दिया गया है। नई व्यवस्था के लिए सभी संबंधित अस्पतालों को निर्देश जारी कर दिए हैं। आयुष्मान कार्ड धारकों की सुविधा के लिए भी विभिन्न माध्यमों से सूचनाएं प्रेषित की जा रही हैं।

—————————————————-

विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 के तहत जनपद पौड़ी गढ़वाल के समस्त विधानसभाओं की ईवीएम मशीनों को पोलिंग पार्टियों द्वारा सम्बंधित आरओ को सौंपकर कर कड़ी सुरक्षा के साथ स्ट्रांग रूम में जमा कराया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ0 विजय कुमार जोगदण्डे ने समस्त आरओ को निर्देशित किया कि अपने-अपने विधानसभा वार ईवीएम मशीनों को स्ट्रांग रूम में जमा करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियों द्वारा जमा की जाने वाली ईवीएम मशीन को प्राप्त कर उनसे हस्ताक्षर करवाना सुनिश्चित करें। इस दौरान पोलिंग पार्टियों द्वारा सुरक्षा के साथ ईवीएम मशीनों को मतदान स्थल से जीआईसी पौड़ी स्ट्रांग रूम तक सुरक्षित लाया गया। समस्त आरओ द्वारा अपने-अपने विधानसभा की ईवीएम मशीनों का क्रमांक चेक कर उसे सुरक्षित रूप रखा गया।

जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ0 जोगदंडे ने राजकीय इंटर कॉलेज पौड़ी में ईवीएम मशीनों हेतु बनाए गए स्ट्रांग रूम स्थल का जायजा लिया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि पोलिंग पार्टियों द्वारा जमा की जा रही ईवीएम मशीनों को पूरी प्रक्रिया के साथ चेक कर उन्हें संबंधित विधानसभा के स्ट्रांग रूम में जमा करना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने निर्देशित सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि जो पोलिंग पार्टी रास्ते मे हैं उनकी लोकेशन जीपीएस में माध्यम से निरंतर रूप से चेक करते रहे। इस अवसर पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि समस्त विधानसभाओं की ईवीएम मशीनों डबललॉक के साथ स्ट्रांग रूम में रखा जाएगा। साथ ही कहा कि स्ट्रांग रूम को मतगणना दिवस तक 03 सुरक्षा घेरों की निगरानी में रखा जाएगा। जिसमें सबसे पहले आईटीबीपी दूसरे घेरे में पीएसी तथा तीसरे घेरे में रेगुलर पुलिस के जवान तैनात रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.