अल्मोड़ा जिला प्रशासन द्वारा आज कोसी नदी में वृहद स्वच्छता अभियान चलाया गया।#रमेश बहुगुणा के भाजपा जिलाध्यक्ष बनने पर कार्यकर्ताओं में भरा उत्साह# अपनी जमीन न बेचें एक अपील-www.Janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

 

अल्मोड़ा जिला प्रशासन द्वारा आज कोसी नदी में वृहद स्वच्छता अभियान चलाया गया।

अल्मोड़ा (अशोक पाण्डेय)07 नवम्बर, 2022  जिला प्रशासन द्वारा आज कोसी नदी में वृहद स्वच्छता अभियान चलाया गया। स्वच्छता महाअभियान की शुरुआत कोसी बाजार स्थित नदी तट पर जिलाधिकारी वंदना ने उपस्थित सभी स्वयंसेवकों एवं जनपद स्तरीय अधिकारियों को शपथ दिलाकर की। इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि यह एक दिवसीय अभियान प्राणदायिनी कोसी नदी की स्वच्छता तथा लोगों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता लाने का प्रयास है। उन्होंने कहा इस एक दिवसीय स्वच्छता अभियान में लगभग 4500 स्वयंसेवी हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि इतने बड़े स्तर पर हो रहे स्वच्छता अभियान से लोग प्रेरणा जरूर लेंगे तथा कोसी नदी सहित अन्य नदियों को भी स्वच्छ बनाए रखने में अपना योगदान जरूर देंगे। शुभारंभ के दौरान नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी, ब्लॉक प्रमुख हवालबाग बबीता भाकुनी समेत अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी स्वच्छता अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इस दौरान स्वच्छता अभियान में पहुंचे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रदीप कुमार राय ने भी कूड़ा एकत्रित किया तथा लोगों से अपील की है कि सभी अपना कूड़ा निर्धारित स्थल पर ही डालें। उन्होंने कहा कि उन्हें आशा है कि यह अभियान एक दिवसीय न होकर लगातार लोगों द्वारा जारी रखा जाएगा तथा नदियों की स्वच्छता के प्रति लोगों में जागरूकता आएगी।
इस दौरान जिलाधिकारी ने कोसी सफाई अभियान हेतु बनाये गये विभिन्न सेक्टरों का भ्रमण किया तथा स्वच्छता अभियान के संचालन का निरीक्षण करते हुए स्वयं भी स्वच्छता अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। स्कूली बच्चों ने स्वच्छता अभियान में भारी उत्साह से कार्य किया। जिलाधिकारी ने कोसी बैराज क्षेत्र में पहुंचकर नदी किनारे जमा कूड़े को एकत्र किया तथा अभियान में लगे हुए सभी स्वयंसेवकों के कार्य की सराहना की। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अंशुल सिंह द्वारा भी स्वच्छता अभियान में हिस्सा लिया तथा उन्होंने स्वयं भी कूड़ा एकत्रित कर लोगों से नदियों की स्वच्छता बनाए रखने की अपील की। तत्पश्चात जिलाधिकारी ने मनान गांव में पहुंचकर पुल के नीचे पड़े हुए कूड़े के ढेर को हटाने में स्वयं भी हाथ बटाया तथा सभी जुटे हुए स्वयं सेवकों के कार्यों की सराहना की। स्वच्छता अभियान में लगे हुए स्कूली बच्चों ने कोसी नदी के निकटवर्ती व्यापारियों एवं निवासियों से नदी की स्वच्छता को बनाए रखने की अपील की गई। साथ ही अभियान से प्रेरित होकर स्थानीय लोगों ने भी इस महाअभियान में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।
जनपद के अंतर्गत कोसी नदी के 51 किमी में (कांटली से क्वारब) यह स्वच्छता अभियान चलाया गया है। पूरे क्षेत्र को 31 जोन तथा नदी के दाईं एवं बाएं ओर 62 सेक्टरों में विभाजित किया गया है। साथ ही सभी 62 सेक्टरों के लिए 62 सेक्टर अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। स्वच्छता अभियान में लगे हुए सभी स्वयं सेवकों के लिए जिला प्रशासन द्वारा लंच पैकेट, पेयजल, प्राथमिक चिकित्सा किट, सफाई करने में प्रयुक्त होने वाली सामग्री भी उपलब्ध कार्य गई है। इस अभियान में लगभग 28 टन कूड़ा एकत्रित किया गया। इस सफाई अभियान में सभी स्थानों से एकत्र हुये कूड़े को नगर पालिका अल्मोड़ा व नगर पंचायत द्वारा निर्धारित वाहन के माध्यम से चयनित स्थान पर निस्तारित किया गया।
इस सफाई अभियान में पुलिस विभाग द्वारा यातायात व्यवस्था व सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे । जिसमे पुलिस, फायर टीम, एंबुलेंस, चिकित्सकों की टीम, एसडीआरएफ तथा एसएसबी के जवान मुस्तैद रहे। सूचना के आदान प्रदान की सुलभता के लिए कोसी बैराज में एक कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया था।

*******

अल्मोड़ा भाजपा जिलाध्यक्ष पद पर रमेश बहुगुणा के मनोनयन पर चौथानपाटा में हर्ष आतीशबाजी की गयी।

अल्मोड़ा(अशोक पांडेय) भारतीय जनता पार्टी नगर मंडल अल्मोड़ा के तत्वाधान में आज भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा नवनियुक्त जिलाध्यक्ष रमेश बहुगुणा के मनोनयन पर चौघानपाटा में आतिशबाजी व मिष्ठान वितरण का कार्यक्रम किया इस अवसर पर कार्यकर्ताओं में अपार उत्साह देखा गया भारतीय जनता पार्टी प्रदेश नेतृत्व ने पार्टी के वरिष्ठ व लंबे समय से संगठन के लिए कार्य कर रहे अनुभवी पूर्व में जिलाध्यक्ष रहे व प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य रमेश बहुगुणा के नाम पर विश्वास जताया सभी कार्यकर्ताओं ने उन्हें अपनी बधाई प्रेषित की और आशा व्यक्त की कि उनके नेतृत्व में पार्टी सफलता के नए आयाम स्थापित करेगी।

इस अवसर पर भाजपा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

**********

अपनी जमीन न बेचें -एक अपील

सभी क्षेत्र वासियों को प्रणाम 🙏
आप सभी जानते है की सिंगटाली मोटर पुल का निरस्त होना हम लोगों ने बाहरी धनाढ्य व्यक्तियों को जमीन रहा है जब हम बाहरी को जमीन ही नही बेचते, जब कोई सिंगटाली में जमीन ही नही खरीदता, तो पुल क्यों निरस्त होता.. जमीन बाहर वाले ने खरीद ली, बाकी आला अधिकारियों और सफेद पोस को खिला पिलाकर पुल को निरस्त करने का दुस्साहस किया गया… किंतु क्षेत्र वासियों की एकजुटता सामने नहीं चली… पुल पूर्व चयनित स्थान पर बने इसका शासनादेश हो गया, पुल का भू सर्वे जून में हो चुका है। डिजाइन बनकर तैयार है बाकी जो अन्य औपचारिकताएं होती हैं वो पूर्ण होगी और जल्द सुखद खबर साझा करेंगे…
यहां केवल जो आजकल जमीनों को बाहरियों को बेची जा रही है ये बड़ा ही दुर्भाग्य और दुखद है. आने वाले समय में अपने खेत और घर में जाने तक का रास्ता नहीं मिलेगा. चीला में अंकिता हत्याकांड हो या उससे पूर्व माला गांव के एक युवा के कैंप हत्या… ये कुछ वीभत्स उदाहरण हैं, इनकी पुनरावृति न हो ये हम सबकी जिम्मेदारी बनती है. निवेदन कर रहे हैं की अपनी जन्मभूमि, कर्मभूमि, मातृभूमि न बेचें.. अपना व्यापार करें, या फिर लीज पर दें, पर बेचें नही. मुख्यमंत्री जी और जिला प्रशासन से आग्रह है की तत्काल इस तरह की जमीनों की खरीद फरोख्द पर रोक लगे!

(सिंगटाली मोटरपुल संघर्ष समिति की फेसबुक वाल से साभार-संपादक)

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.