अन्तत: मौत से हार गये ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह,प्रधानमंत्री ने जताया शोक।Janswar.com

-अरुणाभ रतूड़ी

अन्तत: मौत से हार गये कैप्टन वरुण सिंह

सीडीएस जनरल विपिन रावत के दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर के चालक दल के कैप्टन वरुण सिंह जो वैलिंगटन मिलेट्री हॉस्पीटल में  मौत से लड़ते हुए अन्तत: हार गये। आज सुबह उनका निधन हो गया। इस दुर्घटना में वे एकमात्र जीवित बचे व्यक्ति थे।
वायुसेना के मीडिया कोआर्डिनेशन सेंटर के बयान के अनुसार – भारतीय वायुसेना को बहादुर ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के निधन की सूचना देते हुए गहरा दुख है।उनका आज सुबह निधन हो गया। भारतीय वायुसेना उनके परिवार के साथ है।कैप्टन वरुणसिंह मूलरूप से उत्तरप्रदेश के देवरिया जिले के खोरमा कन्हौली गाॆव के थे।उनके पिता  कृष्ण प्रताप सिंह सेना के कर्नल पद से सेवानिवृत हुए हैं। 42 वर्षीय वरुणसिंह की पत्नि का नाम गीतांजली बेटे का नाम रिदरमन व बेटी का नाम आराध्या है। वरुण का छोटा भाई तनुज सिंह भारतीय नौसेना में लेफ्टिनेंट कमांडर हैं। वरुण पाकिस्तान में घुसने वाले कैप्टन अभिनन्दन के बैच के हैं।

उनके निधन पर देश के प्रधानमंत्री सहित सभी दलों के नेताओं ने अपनी संवेदना प्रकट की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.