अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक अभी तक छब्बीस।#आंगनवाड़ी कार्यकत्री, सहायिका तथा मिनी आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों की नियुक्ति हेतु नवीन शासनादेश बनाया जा रहा है-श्रीमती रेखा आर्य #चमोली पुलिस ने 70 नाली पर अवैध रूप से उगायी जा रही भांग की खेती नष्ट की। 

-नागेन्द्र प्रसाद रतूड़ी

 

उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक,अभी तक छब्बीस।

उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक मामले में पंत नगर कृषि विश्व विद्यालय के रिटायर्ड अधिकारी की गिरफ्तारी के बाद इस मामले की जाँच करने वाली एसटीएफ  ने आज तक तीन और अभियुक्तों की गिरफ्तारी की है जिनमें एक धामपुर,एक लखनऊ और एक गिरफ्तारी बाराबंकी से की है।

धामपुर उ.प्र.से हाकम सिंह का दाहिना हाथ बताया जाने वाला केन्द्रपाल एसटीएफ की गिरफत में तो लखनऊ से राजेश चौहान मालिक RIMS तथा बाराबंकी से प्रदीप पाल नामक आरोपी को गिरफ्तार किया गया।प्रदीप पाल RIMS कंपनी का पुराना कर्मचारी है।जानकारी मिली है कि केन्द्र पाल गिरफ्तारी के डर से पहले के किसी मामले में जमानत तुड़वा कर जेल चला गया था और उसने फिर चुपके से जमानत करवा दी थी।जिसकी भनक एसटीएफ को लग गयी।उसने उसे दबोच लिया।

इस प्रकार पेपर लीक मामले में अबतक छब्बीस आरोपी धरे जा चुके हैं।

**********

प्रदेश की कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या की अध्यक्षता में आंगनवाड़ी के समस्त पंजीकृत संगठनों द्वारा दिए गए ज्ञापन/प्रत्यावेदन, नन्दा गौरा महालक्ष्मी योजना, आंगनवाड़ियों के मानदेय वृद्धि, किराया भाड़ा एवं कैबिनेट में ले जाए जाने वाले प्रस्तावों के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई।

मंत्री ने कहा कि आंगनवाड़ी से संबंधित सामाग्री के आंगनवाड़ी केन्द्र तक ट्रान्सपोर्टेशन पर होने वाला खर्च आंगनवाड़ी कार्यकत्री बहनों द्वारा स्वंय वहन किया जाता है, आंगनवाड़ी बहनों को किसी प्रकार का अनावश्यक वित्तीय भार न उठाना पड इस संबंध में उन्होंने अधिकारियों को प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये। किराये के भवनों में संचालित आंगनवाड़ी केन्द्रों का अवशेष किराया भाड़ा जल्द से जल्द आंगनवाड़ी कार्यकत्री बहनों को भुगतान किया जायेगा। आंगनवाड़ी केन्द्र हेतु सहायिकाओं की आयु सीमा की बाध्यता में छूट देने के प्रस्ताव पर मंत्री ने कहा कि विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।
कैबिनेट मंत्री ने  कहा कि आंगनवाड़ी कार्यकत्री, सहायिका तथा मिनी आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों की नियुक्ति हेतु नवीन शासनादेश बनाया जा रहा है जिसे जल्द ही कैबिनेट में रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि हम आंगनवाड़ी बहनों को महालक्ष्मी किट से जोड़ने वाले है इस संबंध में अधिकारियों को प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये। जिस प्रकार तीन वर्ष से लेकर छः वर्ष तक के बच्चों को दूध, केला, अण्डा वितरित किया जाता है, उसी प्रकार  छः माह से तीन वर्ष तक के बच्चों को बाल पलाश योजना और मुख्यमंत्री आंचल अमृत योजना से जोड़ने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

उन्होंने कहा आंगनवाड़ी कार्यकत्री बहनों को नन्दा गौरा योजना से जोड़ने के लिए शासन स्तर पर लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नन्दा गौरा योजना में पारदर्शिता लाने की दिशा में जल्द ही विभाग द्वारा आनलाइन पोर्टल की शुरूआत की जायेगी। उन्होंने कहा कि नन्दा गौरा योजना के लाभार्थियों का अवशेष भुगतान डीबीटी के माध्यम से कर दिया जायेगा। सरकार द्वारा बच्चों की भिक्षावृति पर अंकुश लगाने का भरसक प्रयास किया जा रहा है जिसमें बच्चों की काउंसलिंग तथा उनको सेल्टर होम लाने का प्रयास पुलिस विभाग तथा बाल अधिकार संरक्षण आयोग द्वारा किया जाता रहा है। सेल्टर होम में बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य तथा पोषण का उचित प्रबंधन विभाग द्वारा किया जाता है।

मानदेय न मिलने की शिकायतों के संबन्ध मेॆ मंत्री ने कहा कि आये दिन आंगनवाड़ी बहनों द्वारा मानदेय से संबंधित शिकायत की जाती रही है, इस संबंध में उन्होंने एसएमएस सिस्टम बनाये जाने पर जोर दिया जिससे आंगनवाड़ी कार्यकत्री बहनों को एक क्लिक पर मानदेय तथा अन्य विभागीय जानकारी प्राप्त होगी।

बैठक में अपर सचिव, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग बीके मिश्रा, उपनिदेशक, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग डॉ0 एसके सिंह, राज्य परियोजना अधिकारी, डॉ अखिलेश, कार्यक्रम अधिकारी, विक्रम सिंह तथा अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

*******

चमोली पुलिस ने 70 नाली पर अवैध रूप से उगायी जा रही भांग की खेती नष्ट की।

नशे के विरुद्ध चमोली पुलिस ने की बड़ी कार्यवाही, सीमान्त क्षेत्र उर्गम में लगभग 70 नाली भूमि पर अवैध रुप से उगाई गई भांग की खेती को चमोली पुलिस ने किया नष्ट कर दिया।
मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड के वर्ष 2025 तक उत्तराखण्ड प्रदेश को नशामुक्त (ड्रग्स फ्री) बनाये जाने के अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे के निर्देश पर पुलिस ने उर्गम क्षेत्र में अवैध भांग की खेती करने की गोपनीय जानकारी मिलते ही तत्काल संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक चमोली द्वारा पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशन सुश्री नताशा सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया, जिसमें राजस्व पुलिस कर्मी भी सम्मिलित थे।
27अगस्त 2022 को गठित पुलिस टीम द्वारा सीमान्त क्षेत्र उर्गम एवं आसपास के गाँव- खाबला, सलना, बड़गिंडा, देवग्राम में लगभग 70 नाली भूमि पर अवैध रुप से की जा रही भाँग की खेती को नष्ट किया गया। इस दौरान पुलिस ने ग्रामीणों को भांग से होने वाले नुकसान की जानकारी दी गयी। भविष्य में अवैध रुप से भाँग का उत्पादन करने पर कार्यवाही करने की हिदायत दी कि कोई भी व्यक्ति भांग की खेती करते हुए पाया गया, तो सख्त कार्यवाही की जायेगी। पुलिस द्वारा ग्रामीणों को नशामुक्ति अभियान में पुलिस व प्रशासन का सहयोग करने व जहां कही भी क्षेत्र में भांग की खेती व जंगली भांग उगी हो उसे मिलकर नष्ट करने व क्षेत्र के नवयुवकों को चरस एवं गांजे के नशे से दूर रहने हेतु प्रेरित करने की अपील की गई।
जनपद पुलिस द्वारा आम जनमानस को लगातार नशे के दुष्परिणामों के प्रति जागरुक करते हुए नशे का कारोबार करने वालों के विरुद्ध आवश्यक वैधानिक कार्रवाई की जा रही है।
उक्त अभियान आगे भी जारी रहेगा।

पुलिस टीम में सुश्री नताशा सिंह ( पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशन),श्री विजय भारती ( प्रभारी निरीक्षक जोशीमठ, उप.नि. विनोद सिंह (कोतवाली जोशीमठ), उप.नि. नवनीत भंडारी ( एस.ओ.जी प्रभारी),राजस्व उपनिरीक्षक विजय सिंह एवं उनके अनुसेवक,आरक्षी चन्दन नागरकोटी (एस.ओ.जी.)आरक्षी मनमोहन भण्डारी ( एस.ओ.जी) एवं थाने के अन्य पुलिसकर्मी व होमगार्ड के जवान आदि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.